धूल-धूप में मुरझाने लगा है चेहरा, तो डबल क्लींजिंग से दें उसे नया निखार 

जब आप दिन भर धूल, धूप और प्रदूषण में बाहर निकलती हैं, तो आपके चेहरे की त्वचा मुरझाने लगती है। डबल क्लींजिंग से इसकी डीप क्लीनिंग तब जरूरी हो जाती है। 

Double clinsing
फेस पर अप्लाई करने के पहले डबल क्लिंजिंग की सही जानकारी सबसे जरूरी है। चित्र: शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 5 June 2022, 11:00 am IST
  • 124

दिन भर हमारे चेहरे की त्वचा धूल, मिट्टी और प्रदूषण को झेलती रहती है। इसे साफ करने के लिए फेस वॉश का प्रयोग किया जाता है। कभी-कभी आप इसे मेकअप से भी छुपाने की कोशिश करती हैं। पर इससे स्किन सुधरने की बजाए और भी ज्यादा खराब हो जाती है। ऐसी स्थिति में सिर्फ साबुन या फेस वॉश से चेहरा धोना की काफी नहीं है। फेस को डीप क्लीन करने के लिए डबल क्लीजिंग (Double Cleansing) का प्रयोग करना जरूरी हो जाता है।

यदि आप पाॅल्यूटेड शहरों में रहती हैं या आपको फील्ड वर्क अधिक करना पड़ता है, तो डबल क्लींजिंग (Double Cleansing) आपकी फेस (Face) स्किन (Skin) के लिए सबसे अधिक फायदेमंद है। इससे स्किन न सिर्फ अच्छी तरह से साफ हो जाती है, बल्कि ग्लोइंग और शाइनिंग भी हो जाती है। आइए जानते हैं डबल क्लींजिंग के फायदे और इसे करने का सही तरीका। 

यदि आप पॉल्यूशन वाली जगहों पर रह रही हैं और आपको फील्ड वर्क करना पड़ता है, तो डबल क्लींजिंग का प्रयोग (Clean Face Skin with Double Cleansing) आपके लिए सबसे बढ़िया है। लेकिन बार-बार डबल क्लींजिंग का स्किन पर प्रयोग नहीं करना चाहिए। इससे बुरा प्रभाव पड़ सकता है। डबल क्लींजिंग के फायदे के साथ-साथ नुकसान भी हैं। इसे फेस पर अप्लाई करने के बारे में सही जानकारी होना बेहद जरूरी है। इसलिए हमने बात की शिमला के माउंटेन ब्यूटी क्लिनिक की ब्यूटी एक्सपर्ट सुमति शर्मा से।

क्या है डबल क्लींजिंग

सुमति शर्मा बताती हैं कि डबल क्लींजिंग में सबसे पहले फेस स्किन की ऑयल क्लींजिंग की जाती है। फिर सोप-फ्री क्लींजर से स्किन को साफ किया जाता है। इन दोनों विधियों से सफाई करने पर स्किन की डीप क्लींजिंग (Deep cleansing) हो जाती है। यदि आपकी स्किन सेंसिटिव है या एक्ने और पिंपल्स की समस्या होती है, तो डबल क्लींजिंग के दौरान हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करना न भूलें। इससे आपकी स्किन क्लीन होगी और ग्लोइंग दिखेगी।

क्या हैं डबल क्लींजिंग के फायदे?

1 आपकी स्किन के पोर्स पूरी तरह ओपन हो जाते हैं। इसके कारण स्किन साफ हो जाती है।

2 ऑयली स्किन के लिए डबल क्लींजिंग बेस्ट है। क्योंकि इससे डेड स्किन हट जाती है और चेहरे की डलनेस खत्म हो जाती है।  

3 यदि डबल क्लींजिंग रात में की जाती है, तो इस प्रक्रिया के दौरान जोे प्रोडक्ल इस्तेमाल होते हैं, वे बेहतर तरीके से एब्जॉर्व हो जाते हैं।

डबल क्लींजिंग के दौरान इन बातों का रखें ध्यान 

1 यदि आपकी स्किन सेंसिटिव है, तो डबल क्लींजिंग से चेहरे को क्लीन करने से स्किन में जलन या इरिटेशन हो सकती है। इसलिए इसका प्रयोग ज्यादा न करें।

2 डबल क्लीिंजिंग में इस्तेमाल किए जाने वाले प्रोडक्ट का चुनाव अपनी स्किन के अनुसार करें। यदि स्किन ऑयली है या ड्राय है, तो उसी हिसाब से मैटीरियल्स होने चाहिए।

3 कभी-भी चेहरे को बहुत अधिक न धोएं। इससे आपकी त्वचा ड्राई नजर आने लगेगी। क्योंकि इससे स्किन में पहले से मौजूद नेचुरल ऑयल प्रभावित हो जाते हैं।

facewash karna chahiye
ऑयली स्किन के लिए डबल क्लिंजिंग सबसे बढ़िया है। चित्र: शटरस्टॉक

कैसे करें डबल क्लींजिंग?

स्टेप 1 

सबसे पहले हल्के गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें या गर्म पानी में तौलिये को भिगोकर चेहरा अच्छी तरह पोंछ लें। 

स्टेप 2 

इसके बाद ऑयल क्लींजर से चेहरे को साफ कर लें। इससे न सिर्फ चेहरे पर लगाए गए सौंदर्य प्रसाधन साफ हो जाते हैं, बल्कि स्किन पोर्स की सफाई भी अच्छी तरह हो जाती है।

स्टेप 3 

कोई सोप फ्री माइल्ड फेस वॉश लें। पानी के साथ इससे स्किन को साफ करें। इससे आपकी स्किन की डीप क्लीनिंग होती है। किसी हर्बल फेस वॉश की मदद से भी डीप क्लीनिंग हो सकती है।

स्टेप 4 

यदि आप दिन में डीप क्लींजिंग करती हैं, तो स्किन को क्लीन करने के बाद तुरंत धूप में न निकलें। यदि किसी कारणवश निकलना पड़े, तो सनस्क्रीन या कोई फेस क्रीम लगाकर ही बाहर निकलें।

यहां पढ़ें:-बेसन के ये 5 DIY हैक्स दिला सकते हैं आपको चेहरे के अनचाहे बालों से छुटकारा

  • 124
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory