क्या आपने कभी ट्राई किया है फर्मेँटेड मैंगो? पाचन में सुधार कर इम्युनिटी को भी बढ़ाता है

आम को फर्मेंट करके आप इसे सीजन खत्म होने के बाद भी लंबे समय तक स्टोर कर सकती हैं। साथ ही इस प्रकार आप आम का एक अलग स्वाद भी प्राप्त कर सकती हैं।
सभी चित्र देखे fermented mango benefits for health
आम को फर्मेंट करके आप इसे सीजन खत्म होने के बाद भी लंबे समय तक स्टोर कर सकती हैं। चित्र : अडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 11 Jul 2024, 11:30 am IST
  • 111

आम एक बेहद खास सुपरफूड है, जिसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की गुणवत्ता पाई जाती है (mango benefits)। पर जैसा की हम सभी जानते हैं ये एक सीजनल फ्रूट (seasonal fruit) है, जो पुरे साल नहीं मिलती। यदि आप पुरे साल इसकी गुणवत्ता का लाभ उठाना चाहती हैं, तो इसे फर्मेंट कर स्टोर करना एक अच्छा आईडिया है। आम को फर्मेंट करके आप इसे सीजन खत्म होने के बाद भी लंबे समय तक स्टोर कर सकती हैं। साथ ही इस प्रकार आप आम का एक अलग स्वाद भी प्राप्त कर सकती हैं (benefits of fermented foods)।

फर्मेंटेशन न केवल आम में एक अलग सा स्वाद जोड़ती है, बल्कि इसके पोषक तत्वों की गुणवत्ता को भी बढ़ा देती है। फर्मेन्टेड आम प्रोबायोटिक्स से भरपूर होते हैं, जो आपकी आंतों के लिए फायदेमंद होने के साथ विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्रोत है। तो फिर क्यों न आप भी इसे ट्राई करें। आज हम आपके लिए लेकर आए हैं, फर्मेन्टेड आम के कुछ खास फायदे (Fermented mango benefits), साथ ही जानेंगे इन्हे फर्मेंट करने का सही तरीका (how to ferment mango)।

जानें फर्मेन्टेड आम खाने के कुछ खास फायदे (Fermented mango benefits)

पाचन सस्वास्थ्य को बढ़ावा दे

फर्मेन्टेड फल एवं सब्जियों में सेहत के अनुकूल कई पोषक तत्व जुड़ जाते हैं। फर्मेन्टेड फूड्स का नियमित सेवन स्वस्थ मल त्याग को बढ़ावा देता है और पाचन का समर्थन कर सकता है। लंबे समय से कब्ज से परेशान व्यक्ति में मल की स्थिरता और आवृत्ति में सुधार करता है। इसके अलावा इनमें प्रोबायोटिक्स पाए जाते हैं, जो आंतों में हेल्दी बैक्टीरियल ग्रोथ को बढ़ा देते हैं, जिससे पाचन क्रिया पूरी तरह से स्वस्थ रहती है।

digestion
पाचन स्वास्थ्य में सुधर करे. चित्र : एडॉबीस्टॉक

उनमें एंटी माइक्रोबायल गुण होते हैं

लाभकारी माइक्रोब्स की आपूर्ति के अलावा, फर्मेन्टेड खाद्य पदार्थ हानि पहुंचाने वाले पैथोजेनिक माइक्रोब पर एंटी माइक्रोबायल प्रभाव के तहत आंत के माइक्रोबायोम को संतुलित करने में मदद कर सकते हैं। वहीं इनमें एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आम पाचन संक्रमण से बचाव करते हैं।

यह भी पढ़ें: वेट लॉस करना है तो ब्लैक कॉफी से करें शुरुआत, जानें इसे डाइट में शामिल करने का सही समय और तरीका

एक स्वस्थ मूड का समर्थन करते हैं

आंत के माइक्रोबायोम में असंतुलन मानसिक स्वास्थ्य परेशानियां, जैसे चिंता और अवसाद में योगदान कर सकता है, क्योंकि आंत डिस्बिओसिस पुरानी मानसिक प्रतिक्रिया को ट्रिगर कर सकता है। फर्मेन्टेड फूड्स इंफ्लेमेटरी माइक्रोब्स के स्तर को कम करके और आंत की सूजन को कम करके मानसिक स्वास्थ्य का समर्थन कर सकते हैं।

immunity ko badhawa de
बॉडी को मजबूत करता है। चित्र: शटरस्टॉक

वेट मैनेजमेंट में मदद करे

फर्मेन्टेड फूड्स स्वस्थ शरीर के वजन को बढ़ावा दे सकते हैं। फर्मेन्टेड आम का सेवन फैट सेल्स के निर्माण में शामिल जीन को प्रभावित करता है। वहीं इससे पाचन क्रिया पूरी तरह से सक्रीय रहती है और मेटाबॉलिज्म भी हेल्दी रहता है। इस प्रकार ये बॉडी में एक्स्ट्रा फैट के निर्माण को रोकती है।

इम्युनिटी बूस्ट करता है

फर्मेन्टेड फूड्स प्रतिरक्षा प्रणाली पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं और सूजन को कम कर करने में मदद कर सकते हैं। फर्मेन्टेड फूड्स में पाए जाने वाले प्रोबायोटिक बैक्टीरिया इम्यूनोग्लोबुलिन ई के उत्पादन को रोकते हैं, जो एलर्जी प्रतिक्रियाओं में शामिल एक प्रतिरक्षा अणु है।

जानें आम को कैसे करना है फर्मेंट (how to ferment mango)

ताजा, पका हुआ या कच्चा आम
नमक
फ़िल्टर्ड पानी
स्टोरेज के लिए कोई भी जार
पसंदीदा मसाले (वैकल्पिक)

fermented mango
बेहद फायदेमंद है फर्मेन्टेड आम. चित्र : अडॉबीस्टॉक

इस तरह करें फर्मेंट

आम को छील कर गुठली को हटाते हुए छोटे टुकड़ों में काट लें।
कटे हुए आमों को एक साफ जार में रखें।
फिर फ़िल्टर किए गए पानी में समुद्री नमक घोलें। सामान्य नियम यह है कि प्रति चौथाई पानी में 1-2 बड़े चम्मच नमक का उपयोग करें।
आम पर नमकीन घोल डालें, सुनिश्चित करें कि वे पूरी तरह से पानी में डूब जाएं।
स्वाद को और भी बेहतर बनाने के लिए जार में अपनी पसंद के मसाले जैसे की लाल मिर्च पाउडर, हल्दी, जीरा, धनिया आदि ऐड कर सकती हैं।
जार को ढक्कन या कपड़े से ढक दें, ताकि हवा अंदर आ सके और दूषित पदार्थ बाहर रहें।
आम को कमरे के तापमान पर 3 से 7 दिनों तक रखा रहने दें, यह आपके स्वाद के अनुसार होना चाहिए।
जार में जमा गैसों को बाहर निकालने के लिए रोज़ाना जार को हिलाना और इसके ढक्कन को थोड़ी देर खोल कर छोड़ना जरुरी है।
कुछ दिनों में आम फर्मेंट हो जायेगा, अब आप चाहें तो फर्मेंट प्रोसेस को धीमा करने के लिए जार को रेफ्रिजरेटर में रख दें।
हालांकि, आप चाहें तो इसे बाहर भी रख सकती हैं ये खराब नहीं होते, पर इनमें फर्मेंटेशन बढ़ता जाता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यह भी पढ़ें:  महिलाओं के लिए सुपरफूड है जीरा, इन 4 तरीकों से कर सकती हैं इसका सेवन

  • 111
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख