पाचन संबंधी समस्याओं से बचना है तो आहार में इन 4 तरीकों से शामिल करें हींग

Published on: 9 July 2022, 08:00 am IST

गैस और ब्लोटिंग जैसी समस्याएं आपकी रातों की नींद उड़ा सकती हैं। यदि आपको भी भोजन के बाद अक्सर बेचैनी महसूस होती है, तो अपने आहार में शामिल करें हींग।

जानिए कैसे करना है पाचन के लिए हींग का सेवन। चित्र : शटरस्टॉक

बरसात के मौसम में किसी न किसी तरह की पाचन संबंधी समस्याएं हमें परेशान करने लगती हैं। यह सब हमारे गलत खानपान का नतीजा है, क्योंकि क्रेविंग्स हैं कि कम होने का नाम ही नहीं लेती हैं। ऐसे में पाचन संबंधी समस्याएं जैसे पेट दर्द, अपच आर फूलना आए दिन लगी रहती हैं। मगर हमारे पास आपके लिए है एक परफेक्ट सल्यूशन – हींग।

जी हां… आपने कई बार दाल या खिचड़ी में हींग का तड़का लगाकर खाया होगा। इसका स्वाद अद्भुत होता है और यह पाचन संबंधी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। आयुर्वेद में भी हींग को पाचन संबंधी समस्याओं के लिए कई तरह से इस्तेमाल किया गया है। साथ ही, यह अन्य बीमारियों से भी बचने में हमारी मदद कर सकती है।

जानिए पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में कैसे फायदेमंद है हींग

पाचन तंत्र बेहतर बनाए

हिंग पाचन एंजाइमों की गतिविधि को बढ़ाकर बेहतर पाचन में सहायता करती है। अपने गुणों के कारण हींग पेट फूलने को नियंत्रित करने में भी सहायक हो सकती है।

कब्ज से दिलाये राहत

रेचक गुणों के कारण यह मल त्याग को बढ़ावा देकर कब्ज से भी छुटकारा दिलाती है। साथ ही, वजन कम करने और पेट की चर्बी कम करने के लिए भी हिंग उपयोगी साबित हो सकती है।

गैस से दिलाये छुटकारा

हमें अक्सर गैस बनने, अपच और वॉटर रिटेंशन के कारण ब्लोटिंग होती है। अपने एंटीस्पास्मोडिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों की वजह से हिंग का उपयोग करना एक शानदार उपाय है।

इसलिए गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं से बचने के लिए अपने दैनिक आहार में हिंग को शामिल करने की सलाह दी जाती है।

hing ke fayde
आपकी पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए हींग भी एक रामबाण इलाज है। चित्र : शटरस्टॉक

खाने में कैसे करें हींग का इस्तेमाल ( How to use hing for digestion)

हींग पाचन में सहायता करने में मदद करती है, जो चयापचय दर को काफी हद तक बढ़ा सकता है। इसलिए इसे अपने हार में ज़रूर शामिल करें।

1. सब्जी बनाते समय इस्तेमाल करें हींग

अरबी, गोभी, भिंडी जैसी सब्जियों में आप हींग का छौंक लगाना न भूलें। ये सब्जियां आपको भारी कर सकती है। आप इसे अपनी करी में भी मिला सकती हैं। इससे खाने का स्वाद तो बढ़ेगा ही और आपका पाचन तंत्र भी अच्छा रहेगा।

इसके लिए सब्जी में छौंक लगाते समय जब आप जीरा या अजवाइन डालती हैं, ठीक उससे पहले जरा सी हींग डालें।

2. हींग का पानी

यदि आप अपने खाने में हींग नहीं डाल रही हैं, तो इसे पानी में घोल कर भी पिया जा सकता है। बस गर्म पानी में आधा चम्मच हींग पाउडर मिलाएं और खाली पेट इसका सेवन करें। आपको गैस और ब्लोटिंग से तुरंत राहत मिल जाएगी।

hing ke fayde
पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद है हींग का पानी। चित्र : शटरस्टॉक

3 गर्भवती महिलाओं के लिए हींग

गर्भवती महिलाएं हींग का सेवन बहुत ही कम मात्रा में कर सकती हैं। हालांकि, गर्भवती महिलाओं को कच्ची हिंग लेने से बचना चाहिए, क्योंकि यह बहुत हानिकारक है और बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है। पर एक नुक्ता भर हींग से सब्जी में छौंक लगाना हानिरहित है।

4 छोटे बच्चों के लिए

बहुत छोटे बच्चे भी कई बार पेट फूलने और दर्द से परेशान हो जाते हैं। इसके लिए बरसों पुराना नुस्खा है हींग। पर बच्चों को यह हींग खिलानी नहीं है। बस जरा सी हींग को भिगोकर एक कॉटन बॉल में लपेट लें। इस कॉटन बॉल को कुछ देर बच्चे की नाभि पर रखें, उसे आराम मिलेगा।

यह भी पढ़ें : आम ही नहीं, उसकी गुठलियां भी हैं काम की, हम बताते हैं इसके 5 फायदे 

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।