International Mother’s Day : इन 5 हेल्दी तरीकों से मदर्स डे को बनाएं और भी मज़ेदार और एनरिचिंग

सोशल मीडिया पर मम्मा की फोटो पोस्ट करना ही काफी नहीं है। मदर्स डे पर कुछ ऐसा करें जो उन्हें लंबे समय तक याद रहे और सेहत के लिए फायदेमंद भी हो।
वैसे तो मां का कोई एक दिन नहीं होता है क्योंकि हमारा हर दिन ही मां के कारण होता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 11 May 2024, 09:30 am IST
  • 135

मदर्स डे की एक्टिविटी सभी के लिए एक जैसी नहीं होती हैं, लेकिन कुछ पारिवारिक एक्टिविटी ऐसी होती हैं, जिन्हें लगभग हर मां पसंद करती है। चाहे वह पूरे दिन की कुछ नया करना हो, पारंपरिक नाश्ता हो या बाहर जाने का मौका हो, मां हर उस आउटिंग की सराहना करेंगी जो पूरी तरह से उनके लिए हो।

वैसे तो मां का कोई एक दिन नहीं होता है क्योंकि हमारा हर दिन ही मां के कारण होता है। लेकिन जो काम हमारी मां हमारे लिए करती है, जो प्यार हमे देती है वो शायद ही कोई दे पाए। इसलिए इस दिन को हमें उन सभी कामों के लिए आभार व्यक्त करने के रूप में मनाना चाहिए। ताकि जो मां हमारे कामों के लिए अपनी वेल्यू करना भूल जाती है वो उन्हें बताया जा सके कि वो हमारे लिए कितनी जरूरी है।

इंटरनेशनल मदर्स डे 2024 (International Mother’s Day 2024)

भारत समेत कई देशों में मदर्स डे हर साल मई के दूसरे रविवार को मनाया जाता है। इस साल यह उत्सव 12 मई, 2024 को मनाया जाएगा। मदर्स डे की शुरुआत प्राचीन काल से होती है, जिसे आधुनिक रूप में 20वीं सदी की शुरुआत में मनाया जाने लगा। प्राचीन यूनानियों और रोमियों ने वसंत ऋतु में रिया और साइबेले जैसी मातृ देवियों को समर्पित त्यौहार मनाए, जिसमें प्रजनन क्षमता और मातृत्व का सम्मान किया गया।

अपनी मां के साथ क्वालिटी टाइम बिताते हुए मज़ेदार एक्सरसाइज का आनंद ले सकते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

16वीं शताब्दी में इंग्लैंड में ईसाई एक दिन मनाते थे जिसे “मदरिंग संडे” के नाम से जाना जाता था। इस दौरान, लोग अपने इलाके के मुख्य चर्च यानि “मदर चर्च” में लौटते थे। परिवार इकट्ठा होते थे और बच्चे इस अवसर पर अपनी माताओं को सम्मान देने के लिए फूल या छोटे-छोटे उपहार देते थे।

मदर्स डे पर में के साथ करें कुछ खास एक्टिविटी (5 interesting ideas to celebrate Mother’s Day with your mom)

1 जिम की मेंमबरशिप लें

व्यायाम आपकी मां के साथ संबंध बनाने के साथ-साथ स्वस्थ जीवनशैली और आदतों को बढ़ावा देने के लिए एकदम सही है। आप साथ में योग, पिलेट्स या डांस जैसी फिटनेस क्लास ले सकते हैं और अपनी मां के साथ क्वालिटी टाइम बिताते हुए मज़ेदार एक्सरसाइज का आनंद ले सकते हैं। आप इसे मदर्स डे पर शुरू करने की योजना भी बना सकते हैं और इसे एक बॉन्डिंग एक्टिविटी के रूप में जारी रख सकते हैं जो आपके स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाती है।

2 गार्डनिंग कर सकते हैं

गार्डनिंग मां के साथ एक शांत और सुकून भरा रिश्ता बनाने का अनुभव प्रदान करती है। चाहे आप बगीचे या गमलों में फूल या सब्ज़ियां लगा रहे हों, यह ताज़ी हवा और धूप का आनंद लेने का एक मौका है। मई, सर्दियों के जाने के साथ, बागवानी के लिए पूरे देश में काफी अच्छा समय होता है। साथ में, आप मदर्स डे पर पौधे लगाने की यादों को संजो कर रखेंगे, समय के साथ अपने पौधों को बढ़ने के लिए उसका पोषण भी करेंगे।

3 बाइक राइड पर जाने का प्लान करें

अपनी मां के साथ बाइक की राइड पर निकलना, बाहर घूमने-फिरने और सक्रिय रहने का एक बहुत अच्छा तरीका है। यह नए स्थानों की खोज करने, मनोरंजन दृश्यों का आनंद लेने और साझा अनुभवों के ज़रिए बान्ड बनाने का एक अवसर है। आप एक जगह लंच कर सकते है साथ ही फोटो के साथ इन यादों को संभाल कर रख सकते है।

अध्ययन से पता चलता है कि आपके बच्चे का दोस्त बनने के लिए ये कुछ बहुत ही सरल तरकीबें हैं। चित्र: शटरस्टॉक
व्यायाम आपकी मां के साथ संबंध बनाने के साथ-साथ स्वस्थ जीवनशैली और आदतों को बढ़ावा देने के लिए एकदम सही है। चित्र: शटरस्टॉक

4 लंबी वॉक पर जा सकते हैं

अपनी मां के साथ एक वॉक पर जाना एक दूसरे से जुड़ने और सक्रिय रहने का एक मजेदार तरीका है। चाहे आप किसी शांत पार्क में घूम रहे हों, समुद्र के तट पर हो, यह प्रकृति की सुंदरता में खुद को डुबोने का एक अवसर है। इस समय का उपयोग बिना किसी जल्दबाजी के बातचीत करने, एक-दूसरे के जीवन के बारे में जानने और दिल को छू लेने वाले पलों को साझा करने में करें।

साथ-साथ चलने, शांत वातावरण और एक-दूसरे की कंपनी का आनंद लेने को जाने। ये सैर न केवल शारीरिक तंदुरुस्ती को बढ़ावा देती हैं बल्कि मां और बच्चे के बीच के बंधन को भी मजबूत करती हैं।

5 मेडिटेशन करना सिखाएं

आप इस दिन आपनी मां के मेडिटेशन के लाभ बता सकते हैं और इसे करने का तरीका बता सकते है। अपनी भावनात्मक हेल्थ के बारे में जागरूक होना आपकी मां के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। ध्यान उनकों तनावपूर्ण स्थितियों पर एक नया दृष्टिकोण बनाने, अपने तनाव को प्रबंधित करने के लिए कौशल विकसित करने, सेल्फ अवेयरनेस बढ़ाने, वर्तमान पर ध्यान केंद्रित करने, नकारात्मक भावनाओं को कम करने में मदद कर सकता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़े- अचानक शरीर में बढ़ने लगा है यूरिक एसिड लेवल, तो जानिए आपको क्या करना है

  • 135
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख