मानसून में अंडरआर्म्स इचिंग से परेशान हैं, तो इन 8 टिप्स के साथ रखें अपने अंडरआर्म्स को क्लीन और फ्रेश

अंडरआर्म्स हेयर (underarms hair) के कारण स्किन इरीटेशन (skin irritation) बढ़ जाती है। बहुत से लोग अंडरआर्म्स को शेव कर लेते हैं, जिसके कारण उन्हें खुजली और संक्रमण का सामना करना पड़ता है।
underarms
जानें अंडरआर्म्स को कैसे रखना है क्लीन। चित्र : अडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 6 Jul 2024, 06:00 pm IST
  • 122

बारिश के मौसम में ह्यूमिडिटी बढ़ने से त्वचा से अधिक पसीना आता है। खासकर स्किन फोल्ड के पास पसीना होल्ड होता है, जिसके कारण स्किन रैशेज और इरीटेशन का खतरा बढ़ जाता है। अंडरआर्म्स एक ऐसी जगह है, जहां सबसे अधिक पसीना आता है और अंडरआर्म्स हेयर (underarms hair) के कारण स्किन इरीटेशन (skin irritation) बढ़ जाती है। बहुत से लोग अंडरआर्म्स को शेव कर लेते हैं, जिसके कारण उन्हें खुजली और संक्रमण का सामना करना पड़ता है।

इन सभी चीजों को अवॉइड करने के लिए अंडरआर्म्स की केयर करना भी जरूरी है। हम अपनी स्किन और बालों की देखभाल तो करते हैं, परंतु शरीर के अन्य अंगों को नजर अंदाज कर देते हैं। सीके बिरला हॉस्पिटल गुरुग्राम की कंसलटेंट डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर सीमा ओबेरॉय ने मानसून में अंडरआर्म्स केयर (Underarms care) के कुछ हेल्दी टिप्स दिए हैं। तो चलिए जानते हैं, इसके बारे में अधिक विस्तार से।

जानें मानसून में कैसे रखना है अंडर आर्म्स का ध्यान (How to avoid Underarms itching)

1. नियमित रूप से एंटीबैक्टीरियल साबुन से क्लीन करें

पसीना, नमी और गर्मी जैसे कारक बैक्टीरिया के विकास में योगदान कर सकते हैं। एंटी-बैक्टीरियल साबुन का नियमित उपयोग बैक्टीरिया के विकास को कम करने में मदद करता है, जिससे अंडरआर्म्स से कम गंध आता है। बैक्टीरिया विभिन्न त्वचा संक्रमण और सूजन का कारण बन सकते हैं, एंटीबैक्टीरिया साबुन के इस्तेमाल से इनसे बचाव में भी मदद मिलती है। एंटी-बैक्टीरियल साबुन हानिकारक बैक्टीरिया के ग्रोथ को रोकने में मदद करते हैं।

skin dark hone se kaise bachaayein
एन्थोसिस नाइग्रिकन के चलते स्किन थिक और डार्क होने लगती है। इसके चलते स्किन के फोल्डस की त्वचा प्रभावित होने लगती है। चित्र: शटरस्टॉक

2. शेविंग नहीं अंडरआर्म्स हेयर को ट्रिम करें

ज्यादातर लोग जल्दबाजी में अंडरआर्म हेयर को रेजर से शेव कर लेते हैं, जो अंडरआर्म्स की स्किन के लिए हेल्दी नहीं है। इससे इनग्रोन हेयर सहित रेडनेस, रैशेज और स्किन बंप का खतरा बढ़ जाता है, साथ-साथ यह इन्फेक्शन का कारण बन सकता है। इसलिए मानसून में इरिटेशन से बचने के लिए अपने अंडर आर्म्स हेयर को ट्रिम करें।

3. लेमन जूस हैक ट्राई करें

यह एक ऐसा हैक है जिसे बहुत से लोग अपने अंडरआर्म्स को सूखा और रैश फ्री रखने के लिए अपनाते हैं। नहाने के बाद, नींबू के रस की कुछ बूंद लें और इसे अपने अंडरआर्म्स पर रगड़ें। यह पसीने को कम करने में मदद करता है, जिससे आपके अंडरआर्म्स सूखे और गंध-मुक्त रहते हैं। अंडर आर्म्स को एक्सफोलिएट और ट्रिम करने के बाद नींबू का रस न लगाएं, अन्यथा जलन हो सकता है।

4. अप्लाई करें कोल्ड कंप्रेस

मानसून ने अंडरआर्म से जुड़ी समस्याएं बिल्कुल कॉमन हैं, अगर आपको अपने अंडरआर्म्स पर दाने होने लगे हैं, तो आप त्वचा पर कोल्ड कंप्रेस ट्राई कर सकती हैं। यह सूजन, रेडनेस को कम करने और त्वचा को प्राकृतिक रूप से शांत रखने में मदद करता है। इसके अलावा रात को सोने से पहले अंडरआर्म्स में एलोवेरा जेल अप्लाई कर सकती हैं।

under arms ki safai jaruri hai
शेविंग के बाद अंडरआर्म्स का रखें ध्यान। चित्र- शटरस्टॉक।

5. एक्सफोलिएट करें

हल्का एक्सफोलिएशन डेड स्किन सेल्स को हटाने और इनग्रोन बालों को रोकने में मदद करता है। यह गंध को कम करने में भी मदद करता है और एंटी-पर्सपिरेंट को प्रभावी ढंग से काम करने देता है। नियमित एक्सफोलिएशन से डार्क अंडरआर्म्स के रंगत को हल्का करने और किसी भी तरह के रंग और काले धब्बों को दूर करने में मदद मिलती है।

6. स्वेट पैड का इस्तेमाल करें

बारिश के मौसम में वातावरण में ह्यूमिडिटी बढ़ने से अधिक पसीना आता है, खासकर अंडरग्राउंड हर समय गीले रहते हैं। अंडरआर्म स्वेट पैड को अंडरआर्म एरिया के अंदर पहनने के लिए डिज़ाइन किया गया है, ताकि पसीने को सोखने और कपड़ों पर दाग लगने से बचाने में मदद मिल सके।

यह भी पढ़ें: Alum Spray : अंडर आर्म्स बहुत डार्क हैं, तो ट्राई करें होममेड फिटकरी स्प्रे, हम बता रहे हैं बनाने का तरीका

स्वेट पैड लगाने से पहले सुनिश्चित करें कि अंडरआर्म एरिया साफ और सूखा हो। चिपकने वाला बैकिंग हटा दें जो उन्हें आपके कपड़ों के अंदर लगा लें। पैड को ठीक से संरेखित करें, सुनिश्चित करें कि यह पूरे अंडरआर्म एरिया को कवर कर रहा हो। इससे आपका अंडरआर्म्स चिपचिपा और इरिटेट नहीं रहता।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
underarams ka kalapan door karne ke liye faydemand hai ubtan
अंडरआर्म पिगमेंटेशन से छुटकारा पाने के लिए फायदेमंद हैं उबटन. चित्र : शटरस्टॉक

7. अंडर आर्म एरिया को ड्राई रखें

अंडरआर्म एरिया में नमी और गर्मी का संयोजन बैक्टीरिया और फंगस के ग्रोथ को बढ़ा देता है, जिससे अंडरआर्म्स से अधिक गंध आता है। अंडरआर्म्स को ड्राई रखकर आप बैक्टीरिया के संक्रमण और जमा होने वाले पसीने की मात्रा के जोखिम को कम कर सकती हैं। नहाने के बाद अपने अंडरआर्म्स को ड्राई करने के लिए एक साफ तौलिये का उपयोग करें। वहीं अंडर आर्म्स पैड की मदद से पूरे दिन ड्राई रख सकती हैं।

8. कॉटन के ढीले-ढाले कपड़े पहनें

टाइट कपड़े नमी को फंसा सकते हैं, और हवा के प्रवाह को बाधित कर सकते हैं, जिससे पसीना और असुविधा बढ़ जाता है। ढीले-ढाले कपड़े चुनें जो बेहतर वेंटिलेशन में मदद करते हों। कॉटन और लिनन जैसे सांस लेने योग्य कपड़े पहनें क्योंकि वे हवा के संचार की अनुमति देते हैं और पसीने को सोख लेते हैं। दूसरी ओर, पॉलिएस्टर या नायलॉन जैसी सिंथेटिक सामग्री से बने कपड़े पसीने और बैक्टीरिया के विकास को बढ़ा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: मानसून में भारी पड़ सकती है अंडरआर्म शेविंग, जानिए इसके जोखिम और सेफ्टी टिप्स

  • 122
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख