और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

सुपरफूड है सत्‍तू, हम बता रहे हैं इसके सेवन का तरीका और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ  

Updated on: 21 December 2020, 21:07pm IST
सत्‍तू इन दिनों पैनइंडिया में पॉपुलर हो रहा है। इसके शरबत से लेकर बाटी तक लोग इसके स्‍वाद की तारीफें करते नहीं थकते। हम यहां बता रहे हैं सत्‍तू के सेवन के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ। 
प्रेरणा मिश्रा
  • 82 Likes
Sone se pehle sattu ka sewan na kare
सोने से पहले सत्तू का सेवन ना करें। चित्र: शटरस्टॉक

सत्‍तू कई तरह से बनाया और खिलाया जाता है। यूं तो यह उत्‍तर प्रदेश और बिहार का पसंदीदा फूड है। पर आजकल इसकी लोकप्रियता भारत में ही नहीं विदेशों में भी बढ़ गई है। अगर आपको भी सत्‍तू का स्‍वाद पसंद है, तो हम यहां आपको सत्‍तू के सेवन के कुछ और सेहत संबंधी कारण भी दे रहे हैं। 

असल में होता क्‍या है सत्तू

अक्सर आपने इसका नाम बिहार और यूपी के लोगो के मुंह से सुना ही होगा क्योंकि यह उनका सबसे प्रचलित एवं स्वादिष्ट भोजन और नाश्ता दोनों ही है। सत्तू का यह लोग कई तरह से स्वादिष्ट भोजन बना कर सेवन करते है या गर्मी के मौसम में नमक, नींबू, पानी और सत्तू के मिश्रण का सेवन करते है। असल में यह भुने हुए चने या जौ का आटा होता है।

सत्तू में मौजूद पोषक तत्व

सत्तू आज विश्व भर में प्रचलित है और देश के सभी लोग इससे बहुत अधिक प्रभावित हैं, तो इसकी वजह है इसमें मौजूद पोषक तत्व। जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक हैं। असल में सत्तू में फाइबर, आयरन, मैंगनीज, प्रोटीन, मैग्नीशियम और लो सोडियम आदि मौजूद होते हैं। 

सत्‍तू पोषक तत्‍वों का भंडार है। चित्र: शटरस्‍टाॅॅॅक

सत्तू का सेवन कब और कैसे करना चाहिए

सत्तू का सेवन अक्सर सुबह करना चाहिए, सुबह के समय सत्तू पीने से आप डिहाइड्रेशन जैसी स्थिति से हमेशा बची रहेंगी। सत्‍तू का शर्बत पीने से आप खुद को ऊर्जावान महसूस करेंगी। यह मधुमेह जैसे रोगों से भी आपको छुटकारा दिलाता है। आप सत्तू में गुड़ मिला कर उसका सेवन कर सकती हैं, आप चाहें तो सत्तू के परांठे भी बना सकती हैं। 

सत्‍तू की बाटी, जिन्‍हें लिट्टी कहा जाता है सत्‍तू का सबसे ज्‍यादा पसंद किया जाने वाला व्‍यंजन है। खास बात यह कि ये बेक करके बनाई जाती हैं। इसलिए इनसे वजन बढ़ने का भी डर नहीं होता। 

आयुर्वेद एक्‍सपर्ट डॉ.लक्ष्‍मीदत्‍ता शुक्‍ला बताते हैं कि सत्‍तू असल में सबसे सस्‍ता और सुलभ सुपरफूड है। इसमें इतने सारे पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं कि आप इसके साथ सुबह की शुरूआत कर सकती हैं। इसका सेवन करने से आप को कुछ बेहद खास फायदे हो सकते हैं। 

सत्‍तू आपको मधुमेह से बचाता है

सत्तू मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति के लिए लाभकारी माना जाता है क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा काम होती है।  स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों की माने तो सत्तू के सेवन से आपके शरीर में ग्लूकोज का अवशोषण कम होता है, जिसके कारण ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है।

करे सत्तू की नमकीन तासीर का सेवन, यह आपको मधुमेह से देगा छुटकारा। चित्र: शटरस्‍टॉक

    करे सत्तू की नमकीन तासीर का सेवन, यह आपको मधुमेह से देगा छुटकारा। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपकी बॉडी को रखता है कूल 

सत्तू का शरबत ठंडा होता है, जिससे इसके सेवन से आपकी बॉडी भी कूल हो जाती है। इससे आप डिहाइड्रेशन जैसी स्थिति से हमेशा बची  रह सकती हैं। ये एक बेहतरीन पोस्‍ट वर्कआउट ड्रिंक है। 

पाचन में है मददगार 

सत्तू फाइबर युक्त होता है, जो हमारे पाचन तंत्र को कार्य करने में मदद करता है। आयरन और फाइबर की अच्‍छी मात्रा होने के कारण सत्तू के सेवन से आपका पेट हमेशा स्वस्थ रहता है और कब्ज एसिडिटी से भी छुटकारा मिल जाता है।

वजन कम करता है

अगर आप वेट लॉस डाइट प्लान कर रहीं हैं तो, उसमे सत्तू को जरूर एड करें, क्योंकि यह आपके वजन को कम करने में भी मददगार है। सत्तू में फाइबर और प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है, जो आपके शरीर में रक्त से फैट लेवल को निकालता है और आपके वजन घटाने में आपकी मदद करता है।

मोटापा को कम करता है सत्तू। चित्र: शटरस्‍टॉक
मोटापा को कम करता है सत्तू। चित्र: शटरस्‍टॉक

 सत्तू में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम पेट फूलने की समस्या में भी आराम दिलाता है तथा मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है जिससे कैलोरीज बर्न करने में मदद मिलती है और वजन आसानी से घट जाता है।

सत्‍तू के बारे में भी इन बातों का भी ध्‍यान रखें 

  1. अगर अक्सर आप गैस जैसी समस्या से पीड़ित रहते है तो आपको सत्तू का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि अधिक सत्तू आपके पेट में गैस भी बना सकता है जो आपके शरीर के लिए नुकसानदेह होगा
  2.  अगर आपके परिवार में किसी को स्‍टोन की समस्‍या है, तो उन्‍हें सत्‍तू के सेवन की सलाह न दें। 

सत्‍तू पोषक तत्‍वों का भंडार है। आप इसे शरबत और लजीज व्‍यंजन बनाने में इस्‍तेमाल कर सकती हैं। पर अगर आप किसी तरह की मेडिकल कंडीशन में हैं, तो डॉक्‍टर से सलाह ले लेना बेहतर होगा। 

प्रेरणा मिश्रा प्रेरणा मिश्रा

हेल्‍दी फूड, एक्‍सरसाइज और कविता - मेरे ये तीन दोस्‍त मुझे तनाव से बचाए रखते हैं।