स्नैक्स से लेकर डेज़र्ट तक इन 3 मजेदार रेसिपीज के साथ लें चुकंदर की गुडनेस का लाभ

चटख लाल रंग का चुकंदर अपने साथ कई पोषक तत्व लिए रहता है। अगर आप अभी तक इसे सिर्फ सलाद में शामिल कर रहीं हैं, ताे यकीन मानिए आपने बहुत कुछ मिस कर दिया है।

beetroot sev recipe
यहां जाने चुकंदर की 3 स्वादिष्ट रेसिपी। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 21 January 2023, 08:00 am IST
  • 120
इस खबर को सुनें

चुकंदर से तो आप सभी परिचित होंगी। लाल रंग के इस सुपरफूड में कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो आपकी समग्र सेहत के लिए बड़े गुणकारी हो सकते हैं। वहीं यह त्वचा और बालों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। परंतु कई लोग ऐसे हैं जिन्हें कच्चा चुकंदर खाने में परेशानी होती है। खासकर बच्चे इसे खाने में काफी नखरे करते हैं। ऐसे में चिंता की कोई बात नहीं है, आप चुकंदर का इस्तेमाल कई अन्य व्यंजनों को बनाने में भी कर सकती हैं। जिसके माध्यम से आप चुकंदर में मौजूद पोषक तत्वों की गुणवत्ता का लाभ उठा पायेंगी।

तो आज हेल्थ शॉट्स आपके लिए लाए है चुकंदर की ऐसीही ही 3 खास रेसिपी (beetroot recipes) जो स्वाद में लाजवाब होने के साथ ही आपकी सेहत के लिए भी कमाल की है। वहीं इन रेसिपी को बच्चों के स्वाद को भी ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। तो इन रेसिपीज के साथ आप बच्चों को भी चुकंदर की गुणवत्ता का लाभ प्रदान कर सकती हैं। तो देर किस बात की, फटाफट से नोट करें इम्यूनिटी और एनर्जी बूस्टर चुकंदर की लाजवाब रेसिपीज।

सेहत के लिए कमाल का है बीटरूट (benefits of beetroot)

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार चुकंदर (Beetroot) में कई महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं। जैसे कि यह फोलेट, सोडियम, मैग्निशियम, जिंक, सेलेनियम, मैंगनीज, पोटेशियम, आयरन और विटामिन सी का एक बेहतरीन स्रोत है। इसके साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में पानी मौजूद होता है। साथ ही यह प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर के गुणों से भरपूर होता है।

पब मेड सेंट्रल द्वारा चुकंदर के पोषक तत्वों को लेकर प्रकाशित एक डेटा के अनुसार इसमें कई महत्वपूर्ण प्लांट कंपाउंड पाए जाते हैं जैसे की बिटानीन और ऑर्गेनिक नाइट्रेट।

इसमें बहुत कम मात्रा में कैलोरी मौजूद होती है। जिस वजह से आप इसे बेफिक्र होकर वेट लॉस डाइट में शामिल कर सकती हैं। इतना ही नहीं बीटरूट में मौजूद पोषक तत्व हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में कारगर होते हैं। वहीं यह शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करता है जिस वजह से आप इसे अपने प्री वर्कआउट मील में शामिल कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने से लेकर स्किन में ग्लो बढ़ाने तक, यहां जानिए चुकंदर का जूस पीने के बेमिसाल फायदे

Winter mein chukandar paratha
सर्दियों में चुकंदर के साथ बनाएं स्टफ पराठा। चित्र-शटरस्टॉक

1 ब्रेकफास्ट में सर्व करें बीटरूट पराठा (beetroot paratha)

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

चुकंदर
गेहूं का आटा
नमक (स्वादानुसार)
हरी मिर्च
रोस्टेड जीरा पाउडर
काली मिर्च पाउडर
हींग पाउडर
अजवाइन
घी

इस तरह तैयार करें चुकंदर वाला पराठा

सबसे पहले आटे को आटा गूंथ कर अलग रख लें। आटा गूंथने के लिए एक बड़े से बावल में आटा निकालें उसमें हल्का सा नमक और अजवाइन डालकर आटे को मुलायम गूंथे। इसे साइड में रख लें।

अब फिलिंग तैयार करने के लिए चुकंदर के छिलके उतार लें और इसे अच्छी तरह कस लें।

फिर एक नॉन स्टिकी पैन को मध्यम आंच पर चढ़ाएं। उसमें घी डालें, जब घी गर्म हो जाए तो उसमें बारीक कटी हरी मिर्च और हींग डाल दें फिर ऊपर से कस किए हुए चुकंदर को डालकर 2 मिनट तक भूनें।

अब उसमें स्वादानुसार नमक, जीरा पाउडर और काली मिर्च पाउडर डालकर सभी को एक साथ 3 से 4 मिनट तक अच्छी तरह भूनें।

बीटरूट फिलिंग तैयार हो जाए तो इसे कुछ देर ठंडा होने के लिए रख दें। अन्यथा पराठे बेलते वक्त आटे से फीलिंग के बाहर आने की संभावना बनी रहती है।

आटे की छोटी लोई तैयार करें उसमें तैयार किए गए बीटरूट के मिश्रण को डालें फिर उसे पराठे के आकार में बेल लें।

दूसरी ओर मध्यम आंच पर तवा चढ़ा दें। पराठे को तवे पर रखें और दोनों ओर से पूरी तरह पकने दें। इसे सेकने के लिए घी का इस्तेमाल करें।

जब यह दोनों ओर से पक जाए तो इसे प्लेट में निकाल लें और अपनी मनपसंदीदा चटनी के साथ गर्मागर्म सर्व करें।

यह भी पढ़ें : त्योहारों में वजन बढ़ने से रोकना है, तो आज ही से करें इन 5 वेजिटेबल जूस को डाइट में शामिल

beetroot sev recipe
इस तरह बनाये हेल्दी एंड टेस्टी बीटरूट सेव। चित्र शटरस्टॉक।

2 स्नैक्स में सर्व करें चुकंदर का सेव (beetroot sev)

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

चुकंदर
बेसन
हरी मिर्च
हल्दी पाउडर
काली मिर्च पाउडर
चाट मसाला
हींग पाउडर
ऑलिव ऑयल
रोस्टेड जीरा पाउडर
नमक (स्वादानुसार)

इस तरह तैयार करें बीटरूट सेव

सबसे पहले चुकंदर को छीलकर छोटे टुकड़ों में काट लें। अब ब्लेंडर में चुकंदर और हरी मिर्च डालें, साथ ही बिल्कुल थोड़ा सा पानी डालकर एक स्मूद पेस्ट तैयार कर लें।

इस पेस्ट को एक बाउल में निकाल लें। अब बाउल में आवश्यकतानुसार बेसन डालें और दोनों को साथ में मिला लें।

फिर हल्दी पाउडर, काली मिर्च पाउडर, चाट मसाला, हींग पाउडर, रोस्टेड जीरा पाउडर और स्वादानुसार नमक डालें। इन्हें बीटरूट और बेसन के मिश्रण के साथ अच्छी तरह मिलाएं।

अब मिश्रण में दो चम्मच ऑलिव ऑयल डालें और अच्छी तरह मिला लें।

मिश्रण को न ज्यादा गाढ़ा और न ज्यादा पतला रखें। आवश्यकता अनुसार पानी डालकर इसकी कंसिस्टेंसी को सेट कर लें।

अब कड़ाही को मध्यम आंच पर चढ़ाएं, और इसमे ऑलिव ऑयल डालें। ऑयल को अच्छी तरह गर्म होने दें।

फिर सेव मेकर में तैयार किए गए बीटरूट मिश्रण को डालें और सेव को कड़ाही में डाल दें। यदि आपके पास सेव मेकर नहीं है, तो आप मोटे छेद वाले चन्नी का इस्तेमाल कर सकती हैं।

सेब को अच्छी तरह तलें और जब आपको लगे कि सेव पूरी तरह पक चुका है तो इसे टिशू पेपर पर निकाल लें।

टिशू पेपर एक्स्ट्रा ऑयल को सोख लेगा। आपका खस्ता सेव बनकर तैयार है। इसपर पर चाट मसाला स्प्रिंकल करें और स्नैक्स में इसे एन्जॉय करें।

वहीं स्टोरेज के लिए इसे किसी एयर टाइट कंटेनर में बंद करके रख लें।

beetroot halwa recipe
स्वाद और पोषण से भरपूर है बीटरूट हलवा। चित्र एडोबी स्टॉक

3 डेजर्ट में सर्व करें बीटरूट हलवा (beetroot halwa)

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

चुकंदर
गुड
घी
दूध
काजू और अन्य मन पसंदीदा ड्राई फ्रूट्स

इस तरह तैयार करें

सबसे पहले बीटरूट के छिलके को हटाकर इसे छोटे टुकड़ों में काट लें फिर ब्लेंड करके इसका एक स्मूद पेस्ट तैयार करें।

उसके बाद ब्लेंडर खाली करें, फिर उसी ब्लेंडर में काजू और अन्य मनपसंदीदा ड्राई फ्रूट्स को हल्के दूध के साथ ब्लेंड करके एक स्मूद पेस्ट तैयार करें।

उसके बाद एक पैन में घी गर्म करें और उसमें तैयार किए गए बीटरूट मिश्रण को डालकर 10 से 15 मिनट तक भुने।

फिर इसमें मात्रानुसार दूध डालें और तैयार किये गए ड्राइफ्रूट के पेस्ट को डाल दें। सभी को एक साथ 10 मिनट तक अच्छी तरह पकने दें।

वहीं इसमे मिठास लाने के लिए गुड़ को क्रश करके इसमे डालें। 2 से 3 मिनट तक हलवे को चलाती रहें ताकि गुड अच्छी तरह पिघल कर इसमें मिल जाए।

फिर गैस को बंद कर दें, और हलवे को किसी बाउल में निकाल लें।

आपका हेल्दी एंड टेस्टी हलवा बन कर तैयार है। इसे काजू और पिस्ता के छोटे टुकड़ों से गार्निश करें और गर्मागर्म सर्व करें।

यह भी पढ़ें : गले और दांत ही नहीं, डायबिटीज में भी खतरनाक हो सकती है इमली, जानिए कब आपको इमली नहीं खानी है

  • 120
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें