World Homemade Bread Day 2022 : जानिए क्या आप वज़न कम करते हुये खा सकती हैं ब्रेड

ब्रेड को हमेशा से सेहत का दुश्मन माना जाता है। पर क्या होममेड ब्रेड सेहत के लिए हेल्दी विकल्प हो सकती हैं? आज वर्ल्ड होममेड ब्रेड डे (World Homemade Bread Day 2022) पर आइए जानें इसके बारे में सब कुछ।

healthy bread options
जानिए क्या हैं ब्रेड के हेल्दी ऑप्शन्स। चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 17 November 2022, 09:30 am IST
  • 136

ब्रेकफास्ट में इतने सारे ऑप्शंस होने के बावजूद, हम ब्रेड खाना पसंद करते हैं, क्योंकि ये है ही इतनी टेस्टी। बाज़ार में मिलने वाली रेडीमेड ब्रेड (Ready made bread) अनहेल्दी होने के बावजूद हमारे ब्रेकफास्ट में शामिल रहती हैं। क्योंकि इनके इस्तेमाल से हम टेस्टी और जल्दी नाश्ता तैयार कर लेते हैं। मगर, जब भी वज़न घटाने की बात आती है, तो हमें सबसे पहले ब्रेड को डाइट से बाहर करने की सलाह दी जाती है। पर क्या होममेड ब्रेड वेट लॉस के लिए हेल्दी ऑप्शन हो सकती हैं? आइए आज होममेड ब्रेड डे (Homemade bread day) के अवसर पर जानें कुछ ऐसे हेल्दी विकल्प जो आपकी वेट लाॅस जर्नी को डिस्टर्ब नहीं करेंगी।

क्यों सेहत के लिए अच्छी नहीं है रेगुलर ब्रेड

अंग्रेजी में भले ही रोटी को ब्रेड कहा जाए, पर भारत में ब्रेड का मतलब है मैदा के इस्तेमाल से बेकरी में तैयार सफेद ब्रेड। जिसे डबलरोटी भी कहा जाता है। डबलरोटी यानी व्हाइट ब्रेड (White Bread) सबसे ज़्यादा खाई जाने वाली ब्रेड है। दुर्भाग्य से इसमें कोई भी न्यूट्रीएंट्स नहीं होते। यह बहुत ज़्यादा प्रोसेस्ड होती हैं और मैदे से बनी होती है।

ब्रेड का हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स इसे मधुमेह के रोगियों और वजन कंट्रोल करने वालों के लिए अनहेल्दी बनाता है। यह कैलोरी में भी ज़्यादा होती है और आपकी वेट लॉस जर्नी को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है।

तो क्या इसका मतलब है कि वेट लॉस में ब्रेड नहीं खानी चाहिए?

जी नहीं… आपको वज़न घटाने के लिए ब्रेड छोड़ने की ज़रूरत नहीं है। इसके बजाय आप कुछ हेल्दी ब्रेड ऑप्शन्स को ट्राई कर सकती हैं। जैसे ब्राउन ब्रेड और मल्टीग्रेन ब्रेड । इन ब्रेड में फाइबर भी मौजूद होता है, इसलिए यह आपके स्वास्थ्य के लिए व्हाइट ब्रेड से बेहतर हैं और फायदेमंद भी।

जानिए आपके लिए कैसे फायदेमंद हैं ब्राउन और मल्टीग्रेन ब्रेड

यह फाइबर से भरपूर होती है

ब्राउन ब्रेड सफेद ब्रेड की तुलना में बेहतर होती है। इसलिए लेबिल देखकर ऐसी ब्रेड चुनें जिसमें साबुत गेहूं हो क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है। ब्राउन ब्रेड में फाइबर, विटामिन और खनिज होते हैं, जो इसे हेल्दी विकल्प बनाते हैं। अमेरिकन हार्ट असोसिएशन के अनुसारा फाइबर से भरपूर ब्रेड रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रण में रखने में मदद करती है।

brown bread healthy hai
ब्राउन ब्रैड हेल्दी है । चित्र : शटरस्टॉक

पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद

मल त्याग को नियंत्रित करती है और कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती है। यह हाई ब्लड शुगर, स्ट्रोक के जोखिम, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार और मोटापे को भी कम कर सकती है। मल्टी ग्रेन ब्रेड में जौ, गेहूं, जई, मक्का, एक प्रकार का अनाज, बाजरा और अलसी होती है। यह फाइबर और अन्य स्वस्थ पोषक तत्वों से भरपूर होती है। मल्टी ग्रेन ब्रेड में कैलोरीज़ भी कम होती हैं।

लंबे समय तक पेट भरा रखे

ब्राउन ब्रेड और मल्टीग्रेन ब्रेड दोनों ही आपको लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करा सकती हैं। इसलिए यदि आप अपनी वेट लॉस जर्नी पर हैं तो आप हफ्ते में एक या डो बार इन ब्रेड का आराम से सेवन कर सकती हैं। साथ ही, ब्रेड फरमेंटेड होती है इसलिए जॉन हॉपकिंस मेडिकल जर्नल के अनुसार यह गत हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है।

यह भी पढ़ें : एसिडिटी से तुरंत छुटकारा दिला सकती है ये एक आयुर्वेदिक ड्रिंक, जानिए कैसे बनानी है

  • 136
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें