वैलनेस
स्टोर

आप इसे ड्रैगन फ्रूट कहें या ‘कमलम’, हमारे पास हैं इसके सेवन के 6 बेमिसाल स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

Published on:20 January 2021, 17:19pm IST
इस चाइनीज फ्रूट का गुजरात में नया नाम करण किया गया है। पर हम बात करेंगे इसके पोषण मूल्‍य पर, क्‍योंकि स्‍वाद की परख जुबान पर होती है, नाम में नहीं।
विनीत
  • 79 Likes
ड्रैगन फ्रूट पोषक तत्‍वों का खजाना है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या आपने कभी ड्रैगन फ्रूट का सेवन किया है? अगर आपका जवाब न है और आपने अभी तक ड्रैगन फ्रूट का सेवन नहीं किया है, तो आप वास्तव में इसके स्वास्थ्य लाभों से वंचित हैं। क्योंकि यह ऐसा फल है जो आपको कई स्वास्थ्य संबंधी लाभ प्रदान करता है। अगर आप इसके बारे में नहीं जानती हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं। क्योंकि हम आपको इसकी पूरी जानकारी देंगे।

ड्रैगन फ्रूट, जिसे हिंदी में पिताया कहा जाता है, स्ट्रॉबेरी पीयर के नाम से भी जाना जाता है। अपनी पौष्टिकता के कारण पिछले कुछ वर्षों में यह फल काफी लोकप्रिय हुआ है। लाल रंग का यह मिठास भरा फल असल में बिना बीज के गूदे वाला होता है।

हालांकि यह उष्णकटिबंधीय इलाकों का फल है पर अपने स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के कारण भारत में भी इसकी खेती बढ़ रही है। और अब ये आपको सुपर मार्केट से लेकर लोकल मंडी में भी आसानी से उपलब्‍ध है।

हम आपको बता रहे हैं ड्रैगन फ्रूट उर्फ कमलम के सेवन के 6 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

1. पोषक तत्वों का भंडार है

ड्रैगन फ्रूट कैलोरी में कम होता है, लेकिन आवश्यक विटामिन और मिनरल से भरपूर होता है। इसमें डायट्री फाइबर की भी पर्याप्त मात्रा होती है। ड्रैगन फ्रूट प्रोटीन, फाइबर, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन-सी और ई का बेहतरीन स्रोत है। साथ ही यह पॉलीफेनोल्स, कैरोटेनॉइड्स और बीटासैनिन जैसे लाभकारी पौधों के यौगिकों से भरपूर होता है।

2. पुरानी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है

फ्री रेडिकल्स जो कोशिकाओं की क्षति का कारण बनते हैं, साथ ही इससे सूजन और अन्य कई बीमारियों का जोखिम बढ़ जाता है। इसका मुकाबला करने का एक बेहतरीन तरीका ड्रैगन फ्रूट जैसे एंटीऑक्सिडेंट युक्त फूड का सेवन करना है। एंटीऑक्सिडेंट फ्री रेडिकल्स को बेअसर करके अपना काम करते हैं। जिससे कोशिकाओं की क्षति और सूजन से बचाव होता है।

आर्थराइटिस जैसी पुरानी बीमारियों में भी ड्रैगन फ्रूट का सेवन लाभदायक होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
आर्थराइटिस जैसी पुरानी बीमारियों में भी ड्रैगन फ्रूट का सेवन लाभदायक होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

ड्रैगन फल में कई प्रकार के शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जैसे- विटामिन-सी, बीटालेंस, कैरोटीनॉयड। अध्ययन बताते हैं कि एंटीऑक्सिडेंट में उच्च आहार पुरानी बीमारियों जैसे हृदय रोग, कैंसर, मधुमेह और गठिया को रोकने में मदद कर सकते हैं।

3. वजन नियंत्रण करने में मददगार

आहार विशेषज्ञ मानते हैं कि महिलाओं को प्रति दिन 25 ग्राम फाइबर और पुरुषों को 38 ग्राम फाइबर का सेवन करना चाहिए। हालांकि, एंटीऑक्सिडेंट की तरह, फाइबर सप्लीमेंट के फाईबर रिच फूड्स के समान स्वास्थ्य लाभ नहीं होते। फाइबर पाचन को तो दुरुस्‍त रखता ही है, यह हृदय रोग, टाइप 2 डायबिटीज का प्रबंधन करने और स्वस्थ शरीर के वजन को बनाए रखने में भी भूमिका निभा सकता है। सही पाचन आपके कोलन कैंसर के जोखिम को काफी हद तक कम कर देता है।

4. आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है

बाहरी संक्रमणों से लड़ने के लिए आपके शरीर की क्षमता आपके आहार की गुणवत्ता सहित कई विभिन्न कारकों द्वारा निर्धारित की जाती है। ड्रैगन फ्रूट में मौजूद विटामिन-सी और कैरोटिनॉयड आपके इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में मदद करता है। यह श्वेत रक्त कोशिकाओं को क्षति से बचाकर संक्रमण को रोकने में मदद करता है।

ड्रैगन फ्रूट में मौजूद विटामिन सी की उच्‍च मात्रा इम्‍युनिटी को बनाए रखती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ड्रैगन फ्रूट में मौजूद विटामिन सी की उच्‍च मात्रा इम्‍युनिटी को बनाए रखती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली में मौजूद श्वेत रक्त कोशिकाएं हानिकारक पदार्थों पर हमला करती हैं और उन्हें नष्ट करती हैं। हालांकि, वे फ्री रेडिकल्स द्वारा क्षति के प्रति बेहद संवेदनशील होती हैं। शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के रूप में, विटामिन-सी और कैरोटिनॉयड फ्री रेडिकल्स को बेअसर कर सकते हैं।

5. दूर करता है आयरन की कमी

ड्रैगन फ्रूट उन कुछ ताजे फलों में से एक है जिनमें आयरन की अच्छी मात्रा होती है। आयरन आपके पूरे शरीर में ऑक्सीजन के परिवहन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

दुर्भाग्य से अधिकांश लोग अपने आहार से पर्याप्त मात्रा में आयरन प्राप्त नहीं कर पाते। यह अनुमान है कि दुनिया की लगभग 30 प्रतिशत आबादी आयरन की कमी से जूझ रही है। आयरन के निम्न स्तर से निपटने के लिए, विभिन्न प्रकार के आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण है। आयरन के समृद्ध स्रोतों में मीट, मछली, फलियां, नट और अनाज शामिल हैं।

आयरन की कमी से जूझ रही महिलाओं को ड्रैगन फ्रूट का सेवन जरूर करना चाहिए। चित्र- शटरस्टॉक।
आयरन की कमी से जूझ रही महिलाओं को ड्रैगन फ्रूट का सेवन जरूर करना चाहिए। चित्र- शटरस्टॉक।

अगर आप भी आयरन की कमी से जूझ रहीं हैं, तो अपने आहार में ड्रैगन फ्रूट को शामिल करना एक बेहतर विकल्प हो सकता है। इसकी एक सर्विंग में आयरन की दैनिक आवश्‍यकता का लगभग 8 प्रतिशत होता है। साथ ही इसमें विटामिन-सी भी मौजूद होता है, जो आपके शरीर को आयरन को बेहतर तरीके से अवशोषित करने में मदद करता है।

6. मैग्नीशियम का बेहतरीन स्रोत है

केवल एक कप (लगभग 227 ग्राम) ड्रैगन फ्रूट में आपके RDI के 18% के साथ, यह ज्यादातर फलों की तुलना में अधिक मैग्नीशियम प्रदान करता है। औसतन, आपके शरीर में 24 ग्राम या लगभग एक औंस मैग्नीशियम होता है।

मैग्‍नीशियम की कमी अवसाद के साथ-साथ हृदय सबंधी बीमारियों के लिए भी जिम्‍मेदार हो सकती है। जबकि मैग्नीशियम युक्‍त आहार आपकी हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी होता है।

यह भी पढ़ें – वेट लॉस से लेकर हेल्‍दी हार्ट तक यहां हैं आहार में सोया चंक्‍स शामिल करने के 4 बेहतरीन फायदे

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।