वैलनेस
स्टोर

जानिए क्‍या होते हैं एंटी- न्यूट्रिएंट्स और क्‍यों होती है आपको इनकी जरूरत?

Published on:21 January 2021, 12:44pm IST
जब खाने की बात आती है तो, हम सभी पोषक तत्‍वों जैसे- कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और विटामिन्स के बारे में जानते हैं। पर क्‍या आप जानती हैं कि एंटी- न्यूट्रिएंट्स (यानी एंटी-पोषक तत्व) भी होते हैं और ये आपके लिए फायदेमंद हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 88 Likes
उपवास में पौष्टिक आहार लेना बेहद ज़रूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

कोई भी पैकेज्ड फ़ूड उठाने पर हमें उसके पीछे लिखे न्यूट्रीएंट्स की एक लम्बी सूची देखने की मिलती है। पर क्या आपने कभी वहां पर एंटी- न्यूट्रीएंट्स लिखा देखा है? अगर नहीं, तो आइये समझते है कि एंटी-न्यूट्रिएंट्स क्या होते हैं..

आप देखते हैं कि सभी न्यूट्रिएंट्स की तरह, एंटी- न्यूट्रिएंट्स तत्व भी प्राकृतिक यौगिक होते हैं जो आम तौर पर फलियों, नट्स, बीज, फल और सब्जियों और साबुत अनाज में पाए जाते हैं।

क्या हैं एंटी- न्यूट्रिएंट्स?

जैसा कि नाम से पता चलता है, एंटी-न्यूट्रिएंट्स वे पोषक तत्व होते है जो आपके शरीर में आवश्यक न्यूट्रिएंट्स के अवशोषण को कम करते हैं और भोजन के पौष्टिक मूल्यों को कम करते हैं। पर इसका मतलब यह नही है कि ये आपके शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। बल्कि ये कैल्शियम, आयरन और जिंक के अवशोषण को रोकते हैं। जिनकी अधिकता शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकती है।

आइये जानते हैं ऐसे कुछ एंटी- न्यूट्रिएंट्स के बारे में जो आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकते है :

1. फाइबर

जी हां आपने सही सुना..फाइबर एक एंटी- न्यूट्रीएंट है। फाइबर आपके शरीर में कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण को भी कम करता है, जो रक्त में ग्लूकोज के स्तर को कम करने में मदद करता है, और यह मधुमेह रोगियों को भी लाभ पहुंचा सकता है।

हाई इंटेंस वर्कआउट के बाद हाई फाइबर डाइट जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक
हाई इंटेंस वर्कआउट के बाद हाई फाइबर डाइट जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. टैनिन

यह एक एंटीऑक्सीडेंट है, जो आमतौर पर चाय, वाइन और कुछ फलों जैसे अनार और जामुन में पाए जाते हैं। जर्नल डेवलपमेंट की न्यूट्रिशन नामक जर्नल में प्रकाशित शोध में पाया गया कि टैनिन में कैंसर के जोखिम को कम करने की क्षमता होती है। ये आपकी इम्युनिटी को भी बढ़ावा दे सकता है।

3. लेक्टिन

ये ज्यादातर साबुत अनाज में पाया जाता है। अगर कच्चा खाया जाए तो लेक्टिन विषाक्त हो सकता है। लेकिन जब इसे पकाया जाता है तो शरीर के लिए लाभदायक बन जाता है। 2015 के जर्नल ओंकोटरगेट में प्रकाशित, एक अध्ययन के अनुसार, ये ट्यूमर और कैंसर को हराने में भी सक्षम है|

4. लिगन

लिग्नांस ज्यादातर नट्स, बीज और अनाज में पाए जाते हैं और इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट कैंसर और हृदय रोग के जोखिम को कम करके आपके स्वास्थ्य को लाभ पहुंचा सकता है।

5. फाइटेट्स

ये मुख्य रूप से बीज, अनाज, सेम, और फलियों में पाया जाता है। यह एंटी-पोषक तत्व कैल्शियम, मैग्नीशियम और जस्ता के अवशोषण को कम करता है।

फाइटेट्स मैग्‍नीशियम के अवशोषण को कम करते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
फाइटेट्स मैग्‍नीशियम के अवशोषण को कम करते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

हालांकि, मॉलिक्यूलर न्यूट्रिशन एंड फूड रिसर्च जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि फाइटेट्स गुर्दे की पथरी के जोखिम को कम कर सकता हैं। साथ ही यह आपके रक्त शर्करा और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करता है।

यह भी पढ़ें – अगर आप भी नाश्ते के हेल्दी विकल्पों की तलाश में हैंं, तो ट्राय करें ये 2 चिया सीड्स रेसिपीज

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।