वैलनेस
स्टोर

आपके हृदय स्वास्थ्य के लिए हमने परखे 7 कुकिंग ऑयल, जानिए कौन सा हेल्दी है और कौन सा नहीं

Updated on: 2 September 2021, 20:40pm IST
फैट का ज्यादा सेवन आपके दिल की सेहत पर भारी पड़ सकता है। पर कुछ फैट हेल्दी फैट की श्रेणी में आते हैं, जिन्हें आहार में शामिल किया जाना जरूरी है। तो आइए जानते हैं आपकी हार्ट हेल्थ के लिए कौन सा तेल है सबसे ज्यादा अच्छा।
अदिति तिवारी
  • 151 Likes
cooking oil ka istemal karne se pahle uske bare me jan lena zaruri hai
कुकिंग ऑयल का इस्तेमाल करने से पहले उसके बारे में जान लेना जरूरी है। चित्र: शटरस्टॉक

पेट तो उबली सब्जियों से भी भरा जा सकता है। पर खाने में स्वाद एड करना हो तो फैट जरूरी है। बात सिर्फ स्वाद की ही नहीं, आपकी स्किन, मांसपेशियों और बालों के लिए भी हेल्दी फैट की जरूरत होती है। खाना बनाने में इस्तेमाल किया जाने वाला तेल इस हेल्दी फैट का सबसे बड़ा स्रोत है। पर क्या आप जानती हैं कि आपके हृदय स्वास्थ्य के लिए कौन सा तेल सबसे ज्यादा बेहतर है? अगर नहीं, तो आइए आज इसी पर बात करते हैं।

कुकिंग ऑयल और आपका स्वास्थ्य

जब रसोई की बात आती हैं तो खाना बनाने के लिए सबसे ज़रूरी होता हैं तेल। खुद को और अपने परिवार को स्वस्थ रखने के लिए सही तेल का इस्तेमाल बेहद आवश्यक हैं। तेल का उपयोग और आपके स्वास्थ्य पर उसका असर कई चीजों पर निर्भर करता हैं जैसे- आपकी खाना पकाने की शैली और आमतौर पर बनाए जाने वाले व्यंजन। हार्ट को स्वस्थ रखने के लिए सही तेल का चयन करना ज़रूरी हैं जिसके लिए कुछ मुख्य बिंदुओ का ध्यान रखना चाहिए।

क्या हो सकते हैं एक बेहतरीन कुकिंग ऑयल के गुण

मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड (MUFA)

यह फैटी एसिड सैचुरेटेड फैट और ट्रांस फैट का बेहतरीन विकल्प हैं। वज़न को नियंत्रण में रखने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता हैं। इसके सेवन से हृदय रोगों से भी बचा जा सकता हैं। अतः खाने के तेल में इसका होना फायदेमंद है।

apki sehat ke liye cooking oil zaruri hai
फैटी एसिड सैचुरेटेड फैट और ट्रांस फैट आपकी सेहत के लिए जरूरी हैं। चित्र: शटरस्टॉक

पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड ( PUFA )

यह सैलमन, नट्स, वनस्पति तेल और बीज जैसे पौधों और जानवरों से प्राप्त खाद्य पदार्थों से प्राप्त किया जाता हैं। यह एक और हेल्दी विकल्प हैं। आमतौर पर पीयूएफए (PUFA) युक्त तेल ओमेगा-3 फैटी ऐसिड से भरपूर होता हैं।

स्मोक पॉइंट

स्मोक पॉइंट वह तापमान हैं, जो तय करता है कि आपको तेल को पकाना कब बंद कर देना चाहिए। तेल जितना स्थिर होता हैं, उसका स्मोक पॉइंट उतना ही ज़्यादा होता हैं। यदि तेल को उसकी क्षमता से अधिक गरम किया जाता है, तो यह अपने सभी पोषक तत्वों को खो देता है और हानिकारक रसायन उत्पन्न करने लगता है।

इन बिंदुओं के आधार पर हमने 7 तरह के कुकिंग ऑयल को परखा

हार्ट को स्वस्थ रखने के लिए यह सुनिश्चित करना बहुत आवश्यक हैं कि आप रोज़ के खाने में सही तेल का उपयोग करें। यहां कुछ सबसे हेल्दी तेल हैं-

1 ऑलिव ऑयल (Olive oil)

सबसे उपयोगी और स्वास्थ्यप्रद खाना पकाने के तेलों में से एक ऑलिव ऑयल को माना जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना हैं कि हार्ट हेल्थ के लिए जैतून का तेल सबसे अच्छा विकल्प हैं। इसके वर्जिन और एक्स्ट्रा वर्जिन प्रकार बेहद लाभकारी होते हैं।

इसमे भारी मात्रा में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड होते हैं , जिससे हृदय स्वस्थ रहता हैं। इनका स्मोक पॉइंट कम हैं, जिससे इन्हे मध्यम आंच पर पकाना सबसे अच्छा होता हैं।

2 कैनोला ऑयल (canola oil)

किसी भी हृदय रोग या कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित व्यक्ति के लिए कैनोला का तेल सबसे सुरक्षित विकल्प है। यह रैपसीड से प्राप्त होता है, जिसमें अन्य तेलों के मुकाबले ‘गुड फैट’ की मात्रा अधिक होती हैं।

heart health ke liye hamesha cold pressed canola oil ka hi istemal karen
हार्ट हेल्थ के लिए हमेशा कोल्ड प्रेस्ड कैनोला ऑयल का ही इस्तेमाल करें। चित्र: शटरस्टॉक

कैनोला तेल में कोई कोलेस्ट्रॉल नहीं होता हैं, बल्कि यह वास्तव में ई और के जैसे विटामिन से भरपूर होता हैं। अधिकांश कैनॉल तेल रिफाइन्ड होते हैं जिससे पोषक तत्व कम हो जाते हैं। इसीलिए ‘कोल्ड-प्रेस्ड’ कैनोला तेल का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा है।

3 एवोकाडो ऑयल (Avocado oil)

एवोकाडो न केवल पौष्टिक फल के रूप में प्रसिद्ध हैं, बल्कि अपने खाना पकाने के तेल के लिए भी जाना जाता हैं। सारे तेलों में इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड की मात्रा सबसे अधिक है। हालांकि इसके तेल में एवोकाडो फल का कोई स्वाद नहीं आता हैं। प्लस पॉइंट, यह विटामिन ई से युक्त है जो त्वचा, बाल, हृदय और स्वास्थ्य के लिए अच्छा है।

4 सूरजमुखी का तेल ( Sunflower oil )

एक चम्मच सूरजमुखी के तेल में 28 प्रतिशत रोज़ाना के ज़रूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। इस कारण यह बेहद पौष्टिक और दिल को मज़बूत बनाने वाला तेल हैं। यह भी विटामिन ई से युक्त होता है, लेकिन ज़्यादा मात्रा में ओमेगा 6 फैटी ऐसिड होने के कारण इसका इस्तेमाल नापकर किया जाना चाहिए।

5 अखरोट का तेल ( Walnut oil )

वॉलन ऑयल का स्मोकिंग पॉइंट कम होने की वजह से इसे अधिक आंच पर नहीं पकाया जा सकता। हालांकि आप अपने सलाद, पैनकेक या आइस क्रीम की ड्रेसिंग के लिए इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। इसमें ओमेगा 3 और ओमेगा 6 का स्वस्थ संतुलन रहता हैं।

Flaxsseds oil bhi dressing ke liye istemal kiya ja sakta hai
अलसी के तेल को आप ड्रेसिंग के लिए भी इस्तेमाल कर सकती हैं। चित्र: शटरस्टॉक

6 अलसी का तेल ( Flax seeds oil )

अलसी के तेल को फ्लैक्सीड ऑयल के नाम से जाना जाता हैं। यह भी अपने हाई स्मोकिंग पॉइंट के कारण तेज आंच पर पकाने के लिए उपयुक्त नहीं हैं। यह अपने एंटी-इन्फ्लैमटोरी और कम कोलेस्ट्रॉल गुणों के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। ओमेगा 3 युक्त अलसी के तेल को आप ड्रेसिंग के लिए उपयोग कर सकते हैं।

7 तिल का तेल (Sesame oil)

तिल का तेल भी व्यापक रूप से इस्तमाल होने वाले तेलों में से एक हैं। इसे सीसम ऑयल भी कहा जाता है। यह अपने स्वाद के लिए प्रसिद्ध है। हाई मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड होने के बावजूद इसका कोई विशिष्ट गुण नहीं हैं। ज़्यादा स्मोकिंग पॉइंट होने के कारण यह ऊंचे तापमान पर पकाया जा सकता हैं।

दिल को स्वस्थ रखने के लिए या हार्ट के मरीजों को अपने डॉक्टर की सलाह से इन तेलों को अपने आहार में सही तरीके से उपयोग करना चाहिए।

यह भी पढ़ें – आपकी हार्ट हेल्थ को बूस्ट कर सकती है अदरक की सब्जी, जानिए इसे कैसे बनाना है

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !