फॉलो
वैलनेस
स्टोर

अनिद्रा, सिरदर्द और लो एनर्जी की समस्या है, तो आहार में शामिल करें विटामिन K और मैग्नीशियम रिच फूड्स

Published on:15 December 2020, 19:25pm IST
हम में से ज्यादातर लोग यह सोचते हैं कि अगर उन्हें सिरदर्द, अनिद्रा या शरीर में ऊर्जा कम लग रही है तो यह उनके बहुत अधिक और लगातार काम करने के कारण हो रहा है। लेकिन ऐसा नहीं है। ऐसा होने के कई कारण हो सकते हैं। जिनमें से कुछ के बारे में हम बात करने वाले हैं।
विनीत
  • 85 Likes
मैग्नीशियम और विटामिन-के की की से आपके शरीर पर इसके नाकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं। चित्र-शटरस्टॉक

हमारे शरीर में विटामिन और मिनरल की जब कमी होने लगती है, तो हमारे शरीर में कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि जब शरीर में मैग्नीशियम और विटामिन-के की कमी हो जाती है तो क्या होता है? असल में सिरदर्द, अनिद्रा या शरीर में ऊर्जा कम होने का कारण, शरीर में मैग्नीशियम और विटामिन-के की कमी भी हो सकती है। आइए इस पर विस्‍तार से बात करते हैं।

क्यों जरूरी है शरीर के लिए मैग्नीशियम

  1. मैग्नीशियम हमारे शरीर में कम से कम 300 विभिन्न रासायनिक प्रतिक्रियाओं में शामिल है। यह भोजन को ऊर्जा में बदलने और अमीनो एसिड से नए प्रोटीन बनाने में मदद करता है। यही कारण है कि इसका उपयोग चिंता, तनाव और थकान से निपटने के लिए किया जाता है।
  2. मैग्नीशियम लगातार सिरदर्द को रोकने और यहां तक ​​कि माइग्रेन के इलाज में मदद कर सकता है। इसकी कमी सेरोटोनिन के स्तर को कम करती है, रक्त वाहिकाओं को संकुचित करती है और न्यूरोट्रांसमीटर के कामकाज को प्रभावित करती है।
  3. शरीर में मैग्नीशियम का स्तर कम होना अवसाद और अनिद्रा जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है।

कितनी होनी चाहिए मैग्नाशियम की मात्रा

अनुशंसित आहार भत्ते (RDA), 19-30 आयु वर्ग के पुरुषों के लिए 400 मिलीग्राम और वृद्धों के लिए 420 मिलीग्राम हैं। महिलाओं के लिए, 19-30  आयु के लिए 310 मिलीग्राम 19-30 और उससे बड़ी उम्र के लिए 320 मिलीग्राम है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

यह भी पढ़ें: सर्दियों की 5 समस्‍याओं से राहत देते हैं गुड़-चौलाई के लड्डू, हम बताते हैं बनाने का तरीका 

ये हैं कुछ मैग्नीशियम रिच फू्ड्स

  • पालक
  • अखरोट
  • इंटिग्रल राइस (Integral rice)
  • ब्रेड 
  • मछली
  • मांस
  • एवोकाडो
हरी पत्तेदार सब्जियां मैग्नीशियम और विटामिन-के में रिच होती हैं। चित्र : शटरस्टॉक

क्यों जरूरी है विटामिन के (Vitamin K)

  1. विटामिन-के प्रोटीन का संश्लेषण करता है, जो रक्त के थक्के जमने और रक्तस्राव को रोकने के लिए आवश्यक है। इसकी कमी अत्यधिक चोट या रक्तस्राव का कारण बन सकती है।
  2. विटामिन-के के अन्य लाभ जो प्रस्तावित किए गए हैं, लेकिन पूरी तरह से वैज्ञानिक रूप से सिद्ध नहीं हैं उनमें, धमनियों और वाल्वों के कैल्सीफिकेशन के खिलाफ संरक्षण और अल्जाइमर रोग और प्रोस्टेट कैंसर का कम जोखिम शामिल है।
  3. यह हड्डियों को कैल्शियम लाने के लिए विटामिन-डी के साथ काम करता है और आपकी हड्डियों को मजबूत करने के लिए उनके साथ बंधन में मदद करता है। विटामिन-के के निम्न स्तर से फ्रैक्चर का खतरा बढ़ सकता है।

विटामिन-के की कितनी मात्रा जरूरी है

विटामिन-के के लिए अनुशंसित दैनिक भत्ता (RDA) आयु, लिंग और वजन के अनुसार भिन्न होता है। हालांकि, वयस्कों के लिए एक सरल गाइड (यूके एनएचएस से लिया गया) शरीर के प्रत्येक 1 किलोग्राम वजन के लिए 0.001 मिलीग्राम विटामिन के है।

ये हैं कुछ विटामिन K रिच फूड्स

  • तुलसी, अजवायन के फूल, अजमोद, धनिया, मरजोरम, और चिव जैसी जड़ी-बूटी।
  • पत्तेदार हरी सब्जियां जैसे की, पालक, सरसों, केल, बीट, शलजम, और अन्य सब्जियां।
  • सलाद जैसे कि चाइव्स, गार्डन क्रेस, चिकोरी, वॉटरक्रेस, रोमेन लेट्यूस, रेड लेट्यूस, आर्गुला, अजवाइन और अमेरिकन लेटस।
  • ब्रास वेजिटेबल, जैसे ब्रसेल्स स्प्राउट्स, ब्रोकोली, केल, पाक चोई और फूलगोभी।
  • मसालेदार मसाले जैसे केयेन काली मिर्च, शिमला मिर्च, मिर्च पाउडर, और करी।
  • अन्य अच्छे स्रोत: शतावरी, सौंफ़, लीक, भिंडी, अचार, सोया, जैतून का तेल और नट्स।

यह भी पढ़ें: उम्र के साथ कमजोर हो रही है याद्दाश्‍त, तो इन 5 फूड्स को करें अपनी डाइट में शामिल

ध्‍यान रहे

मैग्नीशियम और विटामिन-के का सेवन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श लें। क्योंकि वह आपको आपके अनुसार सही खुराक और तरीका बताने में सक्षम हैं। क्योंकि इसका अतिरिक्त सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।