इस रेसिपी के साथ एक बार बनाएं खुबानी का शरबत और हफ्ते भर लें आनंद 

Published on: 15 June 2022, 12:09 pm IST

गर्मी में कूल होना चाहती हैं, तो खुबानी शरबत की ये रेसिपी आपके काम की है। स्वाद के साथ-साथ ये वेट लॉस में भी कारगर है।

Apricot Juice
खुबानी के शरबत कोे बनाना बेहद आसान है और यह फायदेमंद भी है। चित्र: शटरस्टॉक

खुबानी या एप्रिकॉट (Khubani aka apricot)  उन खास फलों में से एक है, जो आपको चिलचिलाती गर्मी में भी ठंडक बनाए रखने में मदद करते हैं। इन दिनों देश के ज्यादातर हिस्सों में तेज गर्मी पड़ रही है। तो इस गर्मी से लड़ने के लिए पैकेज्ड जूस पीने की बजाए आप होममेड एप्रिकॉट जूस पिएं (Apricot juice recipe)। स्वादिष्ट और हेल्दी रेसिपी (Tasty and healthy recipe) की इस यात्रा में आपकी मदद करने के लिए हेल्थ शॉट्स हमेशा आपके साथ है। सबसे अच्छी बात यह कि यहां मौजूद ज्यादातर रेसिपी झटपट तैयार की जा सकती हैं। आप कॉलेज या ऑफिस के लिए निकल रही हैं, तब भी इन्हें मिनटों में तैयार कर सकती हैं। तो फिर डिलीशियस और न्यूट्रीशियस खुबानी शरबत रेसिपी (Khubani sharbat recipe) जानने के लिए तैयार हो जाइए। 

हमें तरोताजा बनाने के लिए मां एप्रिकॉट जूस या शरबत को झटपट तैयार कर सर्व कर दिया करती थी। यदि आप वेट लॉस का प्लान बना रही हैं, तो लो कैलोरी फ्रूट होने के कारण एप्रिकॉट जूस या शरबत रेसिपी को जरूर ट्राई कीजिएगा। तो चलिए पहले हम इसके फायदे जान लें।

 

यहां हैं खुबानी के 5 बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ 

1 कम होता है मोतियाबिंद का जोखिम  

व्यस्तता की वजह से आप खाना ठीक ढंग से नहीं खा पाती हैं, तो काम करने के बीच में एक खुबानी जरूर खा लें। रिसर्च में पाया गया है कि जिन महिलाओं ने खुबानी का सेवन किया, उन्हें मोतियाबिंद विकसित होने का जोखिम कम हुआ। असल में खुबानी में विटामिन ए, बीटा-कैरोटीन और अन्य कैरोटेनॉयड्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बढ़िया हैं। अपने बच्चे या छोटे भाई-बहन की आंखों को सुरक्षित करने के लिए उन्हें भी एक खुबानी रोज खाने के लिए प्रेरित कर सकती हैं।

 2 एनीमिया दूर होता है

खुबानी में आयरन और कॉपर मौजूद होता है। इससे हीमोग्लोबिन सिनथेसिस हो पाता है। इससे खून की कमी यानी एनीमिया खत्म हो पाता है। आयरन और कॉपर आरबीसी की मात्रा को बढ़ाने में भी मदद करते हैं। यह मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ाता है, जिससे शरीर का संपूर्ण स्वास्थ्य ठीक होता है।

3 सनबर्न और यूवी किरणों से बचाव

खुबानी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट जैसे विटामिन ई (Vitamin E) और विटामिन सी (Vitamin C) स्किन को रोगमुक्त करने में मदद करते हैं। खुबानी में मौजूद बीटा-कैरोटीन स्किन का सर्नबर्न और यूवी किरणों से बचाव करते हैं। समय से पहले आई झुर्रियों को रोकते हैं। स्किन चमकदार बन पाती है। इसमें पानी होने के कारण यह स्किन को मॉइश्चराइज करने में मदद करता है।

 

4 डिटॉक्स करने में मददगार

इसमें आवश्यक विटामिन, मिनरल्स और वाटर होता है। यह विभिन्न अंगों को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है तथा सूजन को कम करने में भी मदद कर सकता है। विशेष रूप से गठिया या गाउट से पीड़ित व्यक्तियों के लिए खुबानी का सेवन फायदेमंद है।

Apricot
खुबानी शरीर को डिटॉक्स करने में भी मदद करता है। चित्र: शटरस्टॉक

5 ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में मददगार 

खुबानी में कैल्शियम, फाॅस्फोरस, मैंगनीज, आयरन और कॉपर मौजूद होता है। इसलिए यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। यह हड्डियों की समस्याओं, जैसे कि ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में भी मददगार है।

6 डायजेस्टिव सिस्टम होता है मजबूत 

खुबानी में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो आंत को बेहतर बनाता है। इसमें घुलनशील फाइबर होते हैं, जिसके कारण इसे पचाना आसान होता है। फाइबर से भरपूर और एनर्जेटिक होने के कारण लो कैलोरी के बावजूद पेट भरा हुआ लगता है। इसमें पोटेशियम भी प्रचुर मात्रा में होता है। यह इलेक्ट्रोलाइट के रूप में कार्य करता है। इसे दही और दलिया के साथ भी आप आराम से खा सकती हैं। 

तो बिना देर किए चलिए तैयार करते हैं खुबानी का शरबत (Apricot juice recipe)

इसके लिए आपको चाहिए 

खुबानी –  1 किलो 

चीनी या ब्राउन शुगर – 150 ग्राम 

पानी- 4 कप 

नींबू – 2 

 

इस तरह तैयार करें खुबानी का शरबत 

खुबानी को अच्छी तरह धोकर-छीलकर चार टुकड़ों में काट लें। बीज को हटा लें।

पानी और चीनी मिलाकर गैस पर उबाल आने के लिए छोड़ दें।

चीनी थोड़ी गाढ़ी होने पर खुबानी के टुकड़ों को चाशनी में मिला लें।

उसमें नींबू का रस भी डाल दें। दस मिनट के लिए रहने दें। जब खुबानी पक जाए, तो उसे निकालकर ठंडा होने पर ग्राइंडर में पीस लें।

आप चाहें तो इसे छान भी सकती हैं। ठंडा होने पर उसे एयरटाइट बोतल में बंद कर फ्रिज में रख सकती हैं।

खुद को तरोताजा रखने के लिए जब मन हो इसमें थोड़ा पानी मिलाकर पिएं। यदि मिश्रण पतला है, तो बिना पानी मिलाये भी पी सकती हैं।

ध्यान रहे कि इसमें प्रिजरवेटिव नहीं मिलाया जाता है। इसलिए 6-7 दिन के अंदर पीकर खत्म कर लें।

यहां पढ़ें:-बढ़ती गर्मी से राहत पानी है तो इस तरह तैयार करें खसखस का शरबत 

स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें