मटर के दीवानों के लिए हमारे पास हैं उन्हें ऑफ सीजन के लिए स्टोर करने का हेल्दी तरीका

दुनिया भर में बिकने वाले मटर का सिर्फ 5 फीसदी ही ताजा होता है। बाकी या तो फ्रोजन या डिब्बाबंद बेचे जाते हैं। जानिए क्या फ्रोजन मटर आपके लिए फायदेमंद हैं? और इन्हें घर पर कैसे प्रिजर्व किया जा सकता है।
ऑफ सीजन के लिए इस तरह करें मटर को घर पर स्टोर. चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 30 January 2022, 15:30 pm IST
ऐप खोलें

मटर खाना सभी को पसंद होता है, लेकिन सर्दियों के बाद ताजी मटर मिलना बंद हो जाती हैं। ऐसे में हम सभी पूरे साल मार्केट से लाई हुई फ्रोजन मटर का इस्तेमाल करते हैं। यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती हैं। इसलिए आज हम आपके लिए लाए हैं, घर पर मटर को प्रिजर्व करने का आसान तरीका। जिसमें हमने किसी भी तरह के केमिकल्स का इस्तेमाल नहीं किया है। ये तरीका हेल्दी है और सुरक्षित भी।

क्या हेल्दी हैं फ्रोजन मटर

इससे पहले कि हम आपको ऑफ सीजन के लिए मटर स्टोर करने का तरीका सिखाएं, यह जान लेना जरूरी है कि क्या फ्रोजन मटर आपके लिए हेल्दी हैं? क्या फ्रोजन मटर का इस्तेमाल करने से आपके स्वास्थ्य पर कोई असर पड़ता है? क्या ये स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होती हैं या ताज़ा मटर इनसे बेहतर होती हैं? चलिये पता करते हैं, लेकिन उससे पहले जानते हैं मटर के पोषण मूल्य।

सबसे ज्यादा हेल्दी हैं ताज़ी मटर, जानिए इनका पोषण मूल्य

80 ग्राम मटर में – 63 किलो कैलोरी | 5.4 ग्राम प्रोटीन | 1.3 ग्राम वसा | 8.0 ग्राम कार्बोहाइड्रेट | 4.5 ग्राम फाइबर | 184mg पोटेशियम | 104mg फास्फोरस | 1.2 मिलीग्राम आयरन | 13 मिलीग्राम विटामिन C

हरी मटर खाने के होते है कई स्वास्थ्य लाभ। चित्र : शटरस्टॉक

वे अपनी प्रोटीन युक्त सामग्री के लिए सेवन किए जाते हैं। इसमें नौ आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं, जो कोशिका के कार्य में सहायता करते हैं। इसके अलावा, वे कम वसा, उच्च फाइबर और विटामिन A, D, E और K से भरपूर होते हैं।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार मटर हार्ट हेल्थ, ब्लड प्रैशर और डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है, क्योंकि इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है।

क्या स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं फ्रोजन मटर?

फ्रोजन मटर उपयोग में आसान होते हैं, बिना छिलके के ये 6-12 महीने तक चलते हैं! ये ताजे मटर की तुलना में ज़्यादा महंगे भी नहीं होते हैं। इनके पोषण मूल्य बने रहते हैं और उनमें न मात्र का अंतर हो सकता है।

नकारात्मक पक्ष यह है कि फ्रोजन मटर में आमतौर पर कुछ मात्रा में सोडियम या अन्य योजक होते हैं। इसलिए जब आप इनका उपयोग कर रहे हों तो आपको लेबल को अच्छी तरह से जांचना चाहिए।

हरी मटर सब्जियों का स्वाद दोगुना कर देती हैं। चित्र : शटरस्टॉक

क्या है मटर को घर पर स्टोर करने का तरीका?

हमें फ्रीज करने के लिए ताजा और अच्छी गुणवत्ता वाले मटर चाहिए। इन्हें दो बार धो लें और पानी को छान लें।

किसी भी बर्तन में पानी लेकर गैस पर उबाल आने के लिए रख दीजिए। जब पानी में उबाल आने लगे, तो इसमें मटर के दाने डाल दीजिए और पूरे 2 मिनट के लिए उबाल लें। इसके बाद गैस बंद कर दें और मटर को छलनी से छान लें। ताकि अतिरिक्त पानी निकल जाए।

एक दूसरे बर्तन में ठंडा पानी लें और उसमें मटर के दाने डाल दें। मटर के ठंडा होने पर मटर को फिर से छलनी से छान लीजिए और पानी निकाल दीजिए। इन मटर के दानों को छोटे-छोटे जिप लॉक बैग में भरकर फ्रिजर में रख दें।

ये फ्रोजन मटर लंबे समय तक ताजा रहती हैं। तो, जब भी आप चाहें उनका उपयोग करें।

यह भी पढ़ें : क्या आप भी चाय के साथ नमकीन या ड्राईफ्रूट लेते हैं , आपकी सेहत के लिए जहर हो सकता है ये गलत फूड कॉम्बिनेशन

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story