और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

मिठास और पोषण से भरपूर ये कस्टर्ड एप्पल कुल्फी रेसिपी है गर्मी काटने का बेतरीन नुस्खा

Updated on: 12 June 2021, 12:43pm IST
इस गर्मी के मौसम को कस्टर्ड एप्पल की कुल्फी के साथ सेलिब्रेट करें, जानें शरीफा की कुल्फी बनाने का तरीका।
अंबिका किमोठी
  • 90 Likes
मिठास और पोषण से भरपूर ये कस्टर्ड एप्पल कुल्फी। चित्र-शटरस्टॉक.
मिठास और पोषण से भरपूर ये कस्टर्ड एप्पल कुल्फी। चित्र-शटरस्टॉक.

उफ्फ शरीफा की मिठास! किसी भी फल की मिठास इसका मुकाबला नहीं कर सकती। शरीफा यानी कस्टर्ड एप्पल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, सेहत के लिए भी उतना ही फायदेमंद भी होता है। ये आपके उच्च रक्तचाप की समस्या को कम करता है। इस फल में पाएं जाने वाले कैल्शियम और मैग्नीशियम रक्त वाहिकाओं के फैलाव को बढ़ावा देते हैं जिससे रक्तचाप को कम होने में मदद मिलती है। तो क्या न इसकी गुडनेस का लाभ एक ठंडी-ठंडी कुल्फी में लें।

पहले जानते हैं शरीफा या कस्टर्ड एप्पल के बारे में

कस्टर्ड एप्पल यानी शरीफा को सीताफल के नाम से भी जाना जाता है। ये एक हरे, शंकु के आकार का फल है जिसकी हार्ड स्किन और अंदर मलाईदार, मीठा फल होता है। माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति दक्षिण अमेरिका के एंडीज पहाड़ों में हुई है, ये उच्च ऊंचाई वाले क्षेत्रों में उगाया जाता है। इसकी मलाईदार बनावट के कारण, शरीफा को कस्टर्ड एप्पल के रूप में भी जाना जाता है।
फाइबर, विटामिन और खनिजों से भरपूर, ये अनूठा फल प्रतिरक्षा क्षमता को बढ़ाता है, सूजन को कम करता है और आंखों और हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है।

कस्टर्ड एप्पल होता है इतना पौष्टिक:

कैलोरी : 3056 किलो कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट : 328.6 ग्राम, प्रोटीन : 90.4 ग्राम, वसा : 118 ग्राम मौजूद होते हैं । इसके अलावा इसमें आयरन- 17.2 एमजी भी मौजूद होता है।

शरीफा या सीताफल के 6 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ। चित्र- शटरस्टॉक।
शरीफा या सीताफल के 6 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ।
चित्र- शटरस्टॉक।

आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है, यह मिठास भरा फल

1. इसे खाने से हो सकतें है नेत्र स्वास्थ्य लाभ

कस्टर्ड एप्पल में कैरोटीनॉयड एंटीऑक्सिडेंट ल्यूटिन पाया जाता है, ये आपकी आंखों में मुख्य एंटीऑक्सिडेंट में से एक है जो मुक्त कणों से लड़कर स्वस्थ दृष्टि बनाए रखता है। ल्यूटिन आंखों की अन्य समस्याओं से भी रक्षा करता है – जैसे मोतियाबिंद सहित, आंखों में बादल आना जो खराब दृष्टि और दृष्टि हानि का कारण बनता है।

2. उच्च रक्तचाप को कम करता है

कस्टर्ड एप्पल में पाए जाने वाले तत्व सभी पोषक तत्वों में उच्च है जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करते है, जैसे कैल्शियम और मैग्नीशियम। कैल्शियम और मैग्नीशियम दोनों रक्त वाहिकाओं के फैलाव को बढ़ावा देते हैं, जो बदले में रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। ये हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है जिसके कारण हृदय रोग और स्ट्रोक के खतरे भी कम होते है।

3. अच्छे पाचन को बढ़ावा देता है

अगर आप पाचन प्रक्रिया को बेहतर रखना चाहती है, तो कस्टर्ड एप्पल आपके काम आ सकता है। कस्टर्ड एप्पल खाने के लाभों में फाइबर की पूर्ति भी शामिल है। कस्टर्ड एप्पल का एक कप (160 ग्राम) लगभग 5 ग्राम आहार फाइबर प्रदान करता है। वहीं, फाइबर की पूर्ति शरीर की पाचन क्रिया में भी सुधार करती है और साथ ही ये कब्ज की समस्या से भी छुटकारा दिलाती है।

4. अस्थमा के लिए लाभदायक

अस्थमा ऐसी मेडिकल कंडीशन है, जो इन्फ्लेमेशन (फेफड़ों के रास्ते में सूजन) के कारण होती है। यहां कस्टर्ड एप्पल के प्रयोग से आपको कुछ हद तक राहत मिल सकती है। ये एक बेहतरीन एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण वाला फल है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, एंटी-इंफ्लेमेटरी क्रिया अस्थमा के जोखिम को कम करने में मदद करती है। ऐसे में अस्थमा के जोखिम को कम करने के लिए कस्टर्ड एप्पल का सेवन उपयोगी होता है।

तो अब बिना देर किए आपको बताते हैं कस्टर्ड एप्पल कुल्फी रेसिपी

ठंडी कुल्फी का आंनद लें। चित्र-शटरस्टॉक.
ठंडी कुल्फी का आंनद लें। चित्र-शटरस्टॉक.

इसे बनाने के लिए चाहिए:

दूध 500 मिली लीटर
कॉर्नफ्लोर 2 छोटा चम्मच
सीताफल 5-6
एक छोटा चम्मच इलायची पाउडर
दो बड़ें बदाम चम्मच
एक चौथाई कप दूध

इस तरह तैयार करें कस्टर्ड एप्पल की कुल्फी

  • सबसे पहले बादाम को आधे कप पानी में 5 से 10 मिनट के लिए धीमी आंच में रखें।
  • फिर गैस निकालकर बादाम को छीलकर बारीक काट लें। इसके लिए आप बादाम को भिगो कर भी रख सकती है।
  • कढ़ाई में 500 ग्रा. दूध डालकर 20 से 25 तक उबालें।
  • फिर जब दूध आधा हो जाएं तो इसमें इलाइची डालें।
  • ¼ कप दूध में कॉर्नफ्लोर डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • इस दूध को कढ़ाई वाले दूध में मिला लें और इसे तब तक चलाते रहें जब तक मिश्रण गाढ़ा न हो जाएं।
  • 8 से 10 मिनट के बाद गैस बंद कर लें और उसको चलते रहें ताकि दूध में मलाई न जमें।
  • अब शरीफा को छील कर उसका गूदा निकल दें।
  • जब दूध ठंडा हो जाए तो इसमें शरीफा का गूदा और बादाम डाल कर मिलाएं। आप चाहें तो कुछ और मिठास जोड़ने के लिए इसमें शहद भी मिला सकती हैं। हालांकि दूध और शरीफा की अपनी प्राकृतिक मिठास होती है।
  • तैयार मिश्रण को कुल्फी मोड में डालकर सेट होने के लिए 6 घंटे के लिए रखें।
  • फिर कुल्फी मोड को फ्रिज से निकाल कर पानी में रखें।
  • तैयार है आपकी कुल्फी अब बस इसका आनदं लें।

नोट– कुल्फी को टेस्टी बनने के लिए लो फैट दूध का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़े-गर्मियों में खुद को ठंडक प्रदान करने के लिए ट्राई कीजिए लीची लेमोनेड रेसिपी

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।