इस बार सावन में पंजीरी की बजाए ट्राई करें चूरमे की ये हेल्दी राजस्थानी रेसिपी

सावन के महीने में हेल्दी तरीके से अपनी शुगर क्रेविंग्स को मिटाने के लिए बनाएं राजस्थानी चूरमा। जानिए इसकी स्वादिष्ट रेसिपी।

rajasthani churma recipe
हेल्दी और टेस्टी राजस्थानी चूरमा रेसिपी. चित्र : शटरस्टॉक
  • 142

जब व्रत रखने की बात आती है, तो हमारे पास काफी लिमिटेड ऑप्शन्स होते हैं। आजकल सावन के व्रत चल रहे हैं ऐसे में क्या खाएं और क्या नहीं ये समझ नहीं आता है। और जब मीठे की बात आती है तो घर पर बनाने के लिए या तो लड्डू का ख्याल आता है या हलवे का और दोनों ही खाकर हम सभी बोर हो गए हैं। तो क्यों न कुछ ऐसा खाया जाए जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो और कुछ अलग भी जैसे – राजस्थानी चूरमा (Rajasthani churma recipe)।

यह झटपट और पारंपरिक राजस्थानी चूरमा रेसिपी आपकू शुगर क्रेविंग्स को दूर करने के लिए परफेक्ट है। ये हेल्दी है, क्योंकि इसमें सूजी, आटा, दूध, गुड़, घी और ड्राई फ्रूट्स की गुडनेस है। और इसे बनाना भी काफी आसान है। अगर आप राजस्थानी व्यंजनों के शौक़ीन हैं, तो आप इस राजस्थानी चूरमा रेसिपी को ज़रूर ट्राई करें। ये वाकई में बहुत स्वादिष्ट बनता है, इसलिए सावन के व्रत के दौरान प्रसाद के तौर पर इसका भोग लगाएं और खुद भी खाएं! तो चलिये जान लेते हैं इसकी रेसिपी

राजस्थानी चूरमा बनाने के लिए आपको चाहिए

1/2 कप गेहूं का आटा
1/4 कप और 3 चम्मच घी
3/4 कप रिफाइंड ऑयल
2 बड़े चम्मच सूजी
1/4 कप गुड़ पाउडर
आवश्यकता अनुसार दूध
2 बड़े चम्मच मिक्स ड्राई फ्रूट्स

swaad ke saath sehat ke liye bhi acha hai ghee
स्वाद के साथ-साथ सेहत के लिए भी अच्छा है घी। चित्र : शटरस्टॉक

जानिए चूरमा बनाने की विधि

इस स्वादिष्ट चूरमा रेसिपी को बनाने के लिए एक बड़ा बर्तन लें और उसमें सूजी के साथ गेहूं का आटा डालें। अच्छी तरह मिलाएं और फिर मिश्रण में 4 बड़े चम्मच घी डालें और हाथों से मिश्रण को क्रम्बल कर लें।

इसके बाद, गेहूं-सूजी के मिश्रण में दूध को बैचों में डालें और आटा गूंद लें। आटा गूंथने के बाद, एक सूती कपड़े से ढककर आटे को एक तरफ रख दें।

जब आटा सख्त हो जाए, तो इसे एक सपाट सतह पर रखें और छोटे-छोटे बराबर भागों में बॉल्स में बांट लें। अपने हाथ में एक लोई लें और इसे अपनी हथेलियों के बीच थोड़ा सा चपटा करने के लिए हल्के से दबाएं। इस तरह की और चपटी लोइयां बनाने के लिए प्रक्रिया को दोहराएं।

अब मध्यम आंच पर एक गहरे तले की कड़ाही रखें और उसमें तेल गर्म करें। जब तेल पर्याप्त गर्म हो जाए, तो इसमें चूरमा की लोई सावधानी से डालें और उन्हें फ्राई करें।

जब चूरमा कुरकुरे और सुनहरे भूरे रंग के हो जाएं, तो बर्नर को ढक दें और अतिरिक्त तेल को सोखने के लिए नैपकिन का इस्तेमाल करें। इन चूरमा की लोई को लगभग 10 मिनट तक ठंडा होने दें, जब तक कि आप इन्हें पकड़ न सकें।

अब एक ग्राइंडर जार लें और उसमें तली हुई बॉल्स डालें। एक चिकना पाउडर मिश्रण पाने के लिए इन सभी को पीस लें।

फिर एक बड़ा कटोरा लें और उसमें चूरमा को डालें। इस बीच, बचा हुआ घी पिघलाकर चूरमा के ऊपर डालें। चूरमा में गुड़ डालें, अच्छे से मिलाएं और सूखे मेवे से गार्निश करें।

atte ke fayde
इसमें आटा होता है जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

जानिए आपके लिए कैसे फायदेमंद हैं राजस्थानी चूरमा

चूरमे को देसी घी डालकर बनाया जाता है, जिसकी वजह से यह बहुत हेल्दी और पौष्टिक बनते हैं। इसमें मेवे की भी अच्छी मात्रा होती है, जो आपकी मांसपेशियों को ताकत देती है और व्रत के दौरान ऊर्जा में कमी नहीं आने देती है।

दूध और आटे के पोषक तत्व इसे और भी ज़्यादा हेल्दी बना देते हैं, क्योंकि ये दोनों हो प्रोटीन और कैल्शियम का अच्छा स्त्रोत हैं। यह आपको कई बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। और मस्तिष्क के लिए भी फायदेमंद हैं।

चूरमे में सूजी और गुड़ भी डाला जाता है जो फाइबर से भरपूर होता है। साथ ही आपको कई मौसमी संक्रामण से बचा सकता है और पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखता है।

यह भी पढ़ें : आपकी हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद हैं दिल के आकार के ये पत्ते, नोट कीजिए झटपट रेसिपी 

  • 142
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory