जाड़े के मौसम के लिए हेल्दी और टेस्टी रेसिपी है कॉर्न भेल, जानिए कैसे करनी है तैयार

ब्रेकफ़ास्ट, स्नेक्स या मील के रूप में ले सकती हैं कॉर्न भेल। झटपट तैयार होने वाली यह पौष्टिक रेसिपी आपको जाड़े भर पूरी तरह फिट भी रखेगी। पर डायबिटीज के पेशेंट इसे संतुलित मात्रा में लें।

corn bhel healthy hai
मकई न सिर्फ वेट मैनेजमेंट में मदद करती है, बल्कि पूरे शरीर को फिट रखती है। इसलिए आज हम ऐसी रेसिपी जानेंगे, जो हमारे शरीर को पूरी तरह फिट रखती है। चित्र : एडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 27 December 2022, 17:51 pm IST
  • 127
इस खबर को सुनें

इस मौसम में शरीर को गर्म रखने के लिए एनर्जी की भी अधिक जरूरत पड़ती है। इसलिए भोजन भी अधिक करना पड़ता है। लेकिन जाड़े में फिजिकल एक्टिविटी कम हो पाती है। एक्टिविटी कम होने के कारण बोवेल मूवमेंट भी ठीक से नहीं हो पाता है। नतीजा कब्ज के रूप में सामने आता है। इससे वजन बढ़ने की पूरी संभावना रहती है। ऐसी स्थिति में हमें ऐसे भोजन की आवश्यकता होती है, जो न सिर्फ पेट साफ़ रखे, बल्कि फिटनेस के भी अनुकूल हो। कॉर्न यानी मकई इसके लिए फिट बैठती है। मकई न सिर्फ वेट मैनेजमेंट में मदद करती है, बल्कि पूरे शरीर को फिट रखती है। इसलिए आज हम ऐसी रेसिपी जानेंगे, जो हमारे शरीर को पूरी तरह फिट रखती है। कॉर्न भेल रेसिपी (corn bhel recipe) झटपट तैयार हो जाती है। यह पौष्टिक भी है।

कॉर्न भेल तैयार करने के लिए सामग्री (Ingredients) 

2 कप उबले मकई के दाने
1 मध्यम आकार की बारीक कटी प्याज
बारीक कटा टमाटर
आधा कप अनार के ताजे दाने
धनिया या पुदीने की चटनी
आधा टेबल स्पून नींबू का रस
कच्चा आम
2 बारीक कटी हरी मिर्च
बारीक कटी धनिया पत्ती
1 टेबल स्पून पापड़ी या नमकीन सेव

इस तरह झटपट तैयार करें कॉर्न भेल की हेल्दी रेसिपी (Corn Bhel Recipe)

2 कप मकई (Corn) के दाने लें। इन दानों को उबाल लें। इसके स्थान पर ताज़ा भुट्टे का भी प्रयोग कर सकती हैं। यदि ताज़े भुट्टे का प्रयोग कर रही हैं, तो उसके दाने निकाल लें। इन दानों को माइक्रोवेव या प्रेशर कुक भी कर सकती हैं।
अब एक बड़े बाउल में उबले दानों को निकाल लें। इसमें बारीक कटी प्याज डाल दें। बारीक कटे टमाटर, बारीक कटी हरी मिर्च, बारीक कटी धनिया पत्ती, अनार दाना, नींबू का रस भी मिला लें।
इसमें पुदीना या धनिया चटनी और चाट मसाला भी मिला लें। यदि भेल का स्वाद बढ़ाना है, तो उसमें थोड़ा पापड़ी या नमकीन सेव मिक्स कर लें।
आपकी पौष्टिक और स्वादिष्ट कॉर्न भेल तैयार है।

इस सर्दी कैसे आपके लिए फायदेमंद होगी काॅर्न भेल

1 वजन घटाने में मदद मिलती है

न्यूट्रीएंट जर्नल के अनुसार, कॉर्न में  इनसोलयूब्ल (insoluble fibre) फाइबर होते हैं। इसके कारण यह लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला भोजन होता है। यही वजह है कि कॉर्न धीरे-धीरे पचता है।

healthy chaat recipes
कॉर्न में  इनसोलयूब्ल फाइबर होते हैं। इसके कारण यह लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला भोजन होता है। चित्र : शटर स्टॉक

इसके कारण ब्लड शुगर में स्पाइक नहीं हो पाता है। लो कैलोरी और हाई फाइबर की मौजूदगी के कारण इसे खाने के बाद पेट लंबे समय तक भरा रहता है। इससे वजन घटाने में मदद मिलती है।

2 पोषक तत्वों का भंडार है कॉर्न (Corn Nutritional elements)

यदि आप जल्दबाजी में हैं और ऐसा भोजन लेना चाहती हैं, जो आपके पेट को भरा रखे, तो कॉर्न भेल ले सकती हैं। इस रेसिपी की एक खासियत यह है कि पोहे की तरह इसे आप स्नेक्स, ब्रेकफास्ट और मील तीनों रूप में ले सकती हैं। इसमें विटामिन बी, फोलेट(विटामिन बी9), विटामिन सी, मैग्नीशियम, पोटैशियम, जिंक, कॉपर, आयरन और मैंगनीज जैसे मिनरल्स भी शामिल होते हैं। कॉर्न में प्रोबायोटिक्स मौजूद होते हैं, जो डायजेशन में मदद करते हैं। यह मेटाबोलिज्म को भी गति देता है।

3 हाई फाइबर (Fibre) और प्रोटीन (Protein) का स्रोत

ध्यान देने वाली बात यह है कि जब किसी अन्य भोजन की तरह अधिक मात्रा में मकई का सेवन किया जाता है, तो यह वजन बढ़ा सकता है। जब यह संतुलित मात्रा में लिया जाता है, तो इसमें मौजूद हाई फाइबर वजन घटाने में मदद कर सकती है। मकई में प्रोटीन भी मौजूद होता है। इसलिए मसल्स हेल्थ बढाने में भी यह योगदान दे सकता है।

barish ke mausm me bhutte ka lutf
मकई न सिर्फ बैली फैट, बल्कि पूरे शरीर का वजन घटाने में मदद कर सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

यह  इसमें कार्बोहाइड्रेट और स्टार्च अधिक होता है। इसलिए 1 कप या 150 ग्राम से अधिक मकई का सेवन नहीं करें। साथ ही पापड़ी या सेव अधिक मात्रा में नहीं मिलाएं। स्वीट कॉर्न में सुक्रोज होता है इसलिए डायबिटीज के रोगियों को इसका सेवन सीमित मात्र में करना चाहिए।

यह भी पढ़ें :-इन 2 टेस्टी और हेल्दी रेसिपी के साथ अपने बोरिंग डाइट प्लान को बनाएं इंटरेस्टिंग

  • 127
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें