शाम की चाय का स्वाद बढ़ा देगी मसालेदार मटर नमकीन, हमसे जानिए इंस्टेंट रेसिपी

Published on: 7 December 2021, 18:08 pm IST

शाम की चाय के साथ कुछ चटपटा और हेल्दी नाश्ता मिल जाए तो मजा आ जाता है। इसलिए हम लाए हैंं पौष्टिक स्नैक में मटर नमकीन की रेसिपी।

Evening tea ke saath banaye namkeen matar
शाम की चाय के साथ बनाएं नमकीन मटर। चित्र:शटरस्टॉक

सर्दियों की डाइट (Winter Diet) में मटर (Green Peas) का महत्वपूर्ण स्थान होता है। पुलाव से लेकर कचौड़ी तक सब में मटर का इस्तेमाल किया जाता है। आम तौर पर इसके पोषक तत्वों की वजह से सर्दियों में लगभग हर व्यंजन में मुट्ठी भर मटर डाली जाती है। इसी खासियत को ध्यान में रखते हुए हम आपके लिए मटर से संबंधित एक नई रेसिपी लाएं हैं। आपकी हेल्दी डाइट में मटर का रंग, स्वाद और पोषण जोड़ने के लिए हम बता रहें हैं नमकीन मटर (Matar Namkeen) की आसान रेसिपी। यह आपके ईवनिंग स्नैक में एक अलग जायका जोड़ सकती है। 

आखिर क्यों मटर नमकीन है एक हेल्दी ऑप्शन? 

अगर आपको लगता है कि मटर एक साधारण सब्जी हैं, तो फिर से सोचें! जब पोषक तत्वों और स्वास्थ्य लाभ की बात आती है, तो छोटे-छोटे मोती समान मटर असरदार होते हैं। हम बता रहें हैं कि मटर आपको कौन से स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। 

मटर में विटामिन, खनिज, एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट्स की उच्च मात्रा महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है, जो आपकी आंखों को स्वस्थ रखने से लेकर कैंसर जैसे रोगों से भी बचाती है। 

1. आंखों की रोशनी के लिए फायदेमंद 

मटर में कैरोटेनॉयड्स, ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन होते हैं। ये पोषक तत्व आपकी आंखों को मोतियाबिंद और उम्र से संबंधित आंख की परेशानियों से बचाने में मदद करते हैं। ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन हानिकारक ब्लू रेज़ के खिलाफ फिल्टर के रूप में कार्य करते हैं। 

2. पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है मटर 

मटर कूमेस्ट्रोल से भरपूर होते हैं। यह पोषक तत्व पेट के कैंसर से बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। मेक्सिको सिटी में 2009 में किए गए एक अध्ययन से पता चला है कि मटर और अन्य फलियों के दैनिक सेवन से पेट के कैंसर का खतरा 50% कम हो जाता है।

इसमें फाइबर की मात्रा भी अधिक होती है, जो पाचन को आसान बनाने के लिए भोजन को आपकी आंत से बाहर निकालने में मदद करता है।

3. इम्युनिटी को करे मजबूत 

हरी मटर एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं, जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाने में मदद करती हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट में विटामिन सी, विटामिन ई, कैटेचिन, एपिकेटचिन शामिल हैं। साथ ही मटर के एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्व मधुमेह, हृदय रोग और गठिया जैसी सूजन की स्थिति के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं। 

Hari matar khane ke hote hai kayi swasthya labh
हरी मटर खाने के होते है कई स्वास्थ्य लाभ। चित्र : शटरस्टॉक

आइए तैयार करते हैं मटर की मसालेदार नमकीन 

इसके लिए आपको चाहिए 

  • मटर – 1 कप (भीगे हुए)
  • लाल मिर्च पाउडर – 1 छोटा चम्मच
  • अमचूर पाउडर – 1 छोटा चम्मच
  • धनिया पाउडर – 1 छोटा चम्मच
  • काली मिर्च – 1 छोटा चम्मच
  • नमक – 1 छोटा चम्मच
  • काला नमक – 1/2 छोटा चम्मच
  • तलने के लिए तेल

मटर नमकीन बनाने की विधि

  • 1 कप सूखे मटर को धोकर 6-7 घंटे के लिए पानी में भिगो दें। 
  • भिगोते समय इसमें छोटी चम्मच बेकिंग सोडा मिलाएं। 
  • उबलने के लिए, भीगे हुए मटर को प्रेशर कुकर में डालें। इसमें एक कप पानी डालें और पहली सीटी आने तक उबालें। 
  • पहली सीटी आने के बाद आंच बंद कर दें और इसका प्रेशर निकलने तक इंतजार करें। 
  • उबले हुए मटर को प्रेशर कुकर से निकाल लें। छलनी की सहायता से अतिरिक्त पानी अलग कर लें। 
  • ट्रे के ऊपर एक सूती कपड़ा फैलाएं और उसके ऊपर उबले मटर फैला दें।
  • इसे एक घंटे के लिए पंखे के नीचे सूखने के लिए रख दें। 
  • मटर तलने के लिए तेल गरम कर लीजिये। इसे तलने के लिए अत्यधिक गरम तेल की आवश्यकता होती है।  
चटपटे हरे मटर स्‍नैक्‍स सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं. चित्र : शटरस्टॉक
हरी मटर के दानों में, 177 कैलोरी, 21 ग्राम कार्ब्स, 7.86g प्रोटीन, 0.58 ग्राम फैट होता है। चित्र : शटरस्टॉक
  • इसमें थोड़े से मटर के दाने डाल कर एक छलनी की सहायता से तलें। आंच तेज होनी चाहिए।
  • यदि वे भूरे रंग के दिखाई देते हैं और उछलते समय तेज आवाज आती है तो वे तली हुई हैं। 
  • सारे मटर को इसी तरह तल कर निकाल लीजिये। 
  • चटपटे मसाले के लिए 1 चम्मच अमचूर पाउडर, 1 चम्मच धनिया पाउडर, 1 चम्मच लाल मिर्च पाउडर, 1 चम्मच नमक, 1/2 चम्मच काला नमक और 1 चम्मच काली मिर्च को अच्छे से मिला लें।
  • अब मसाले को मटर के साथ अच्छी तरह मिला लें और परोसें।
  • इसे ठंडा करने के बाद आप एक एयरटाइट कंटेनर में भरकर रख सकते हैं। 1.5 से 2 महीने तक इसका सेवन किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: कमर और कूल्हों की चर्बी कम करनी है, तो अपने रेगुलर राइस को ब्राउन राइस से रिप्लेस करें

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें