वैलनेस
स्टोर

देर रात तक जागना पड़ता है, तो वेट लॉस के दौरान आप इन स्नैक्स का कर सकती हैं सेवन

Published on:28 June 2021, 20:00pm IST
जिन्हें नाईट शिफ्ट में देर रात तक काम करना पड़ता है, उनके लिए कोई भी हेल्दी डाइट प्लान चल नहीं पाता। पर निराश न हों, हम यहां कुछ हेल्दी स्नैक्स बता रहे हैं, जिन्हें आप देर रात को भी खा सकती हैं।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
रात को भूख लग रही है तो कुछ हेल्दी खाएं. चित्र : शटरस्टॉक

क्या आपको भी नाइट शिफ्ट करनी पड़ती है और इस दौरान पेट में चूहे कूदने लगते हैं? मगर वेट लॉस डाइट की वजह से आपको खुद को कंट्रोल करना पड़ता है। तो परेशान न हों क्योंकि आपकी इस परेशानी का समाधान हमारे पास है – जी हां हम लाएं हैं आपके लिए कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ जिन्हें आप रात को भूख लगने पर खा सकती हैं, वो भी बिना वज़न बढ़ने की चिंता किए!

पोषण विशेषज्ञों का मानना है कि अगर कोई स्वस्थ भोजन चुनता है, तो कभी-कभी लेट नाईट स्नैकिंग में कोई समस्या नहीं है। मगर इसकी नियमित आदत बनाने और अनहेल्दी खाद्य पदार्थों को खाने से वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है।

तो देर किस बात की, चलिए जानते हैं कुछ हेल्दी लेट नाईट स्नैक्स –

1. केले

केला सिर्फ आपके पेट के लिए ही नहीं, बल्कि आपके दिमाग के लिए भी अच्छा होता है। केला मेलाटोनिन के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे आपका नींद का पैटर्न भी बेहतर होता है।

फाइबर, विटामिन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत, केले को स्टोर करना आसान है और आसानी से उपलब्ध है। आप कटे हुए केले के टुकड़ों में बादाम का मक्खन मिला सकती हैं या केले की स्मूदी बना सकती हैं।

वैकल्पिक रूप से, आप दही में कटे हुए केले के टुकड़े भी मिला सकती हैं और कुछ अखरोट के टुकड़े भी मिला सकती हैं। मस्तिष्क और आंत के लिए अच्छा है।

केले में मौजूद पेप्‍टाइन नामक कंपाउंड पाचन के लिए अच्‍छा होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. सूखे मेवे

मिक्स्ड नट्स (बादाम, अखरोट, पिस्ता आदि) का एक जार हमेशा संभाल कर रखें। ताकि जब आपको भूख लगे तो आप इन नट्स की एक मुट्ठी खा सकें। वे प्रोटीन, विटामिन और अन्य आवश्यक पोषक तत्वों का एक समृद्ध स्रोत हैं।

पोषण विशेषज्ञ दावा करते हैं कि संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल में कम आहार के हिस्से के रूप में रोजाना 1.5 औंस नट्स खाने से हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है। इसके अलावा, पिस्ता में मेलाटोनिन की मात्रा सबसे अधिक होती है और यह आपको अच्छी नींद लेने में मदद कर सकता है।

अनसाल्टेड और बिना स्वाद वाले मेवे स्वास्थ्यप्रद होते हैं। एक और नट जो आप एक स्प्रेड रूप में ले सकती हैं वह है पीनट बटर, टोस्ट के एक स्लाइस, या मल्टीग्रेन ब्रेड, या होलवीट ब्रेड के साथ आप पीनट बटर ले सकती हैं।

मखाना आपकी इम्युनिटी बूस्ट करने में मदद कर सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. मखाने

मखाना को फॉक्स नट्स के रूप में भी जाना जाता है। अधिकांश भारतीय घरों में यह एक लोकप्रिय नाश्ता है। इन बीजों का उपयोग अक्सर कुछ भारतीय मिठाइयों और खीर, रायता या मखाना करी में किया जाता है। अपने मिड नाईट स्नैक के रूप में आप मखाने खा सकती हैं।

बस 1 चम्मच घी के साथ सूखा मखाना भून लें और अपने पसंदीदा मसाला जैसे काली मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर या चाट मसाला पाउडर छिड़कें। आंच पर हिलाते हुए थोड़ा सा नमक डालें या थोड़ा सा नमक का पानी छिड़कें। और आपका मिड नाईट स्नैक तैयार है।

4. अंडे

देर रात को खाने के लिए अंडे सबसे अच्छा स्नैक्स हैं। आप कुछ उबले अंडे रेफ्रिजरेटर में रख सकती हैं, और भूख लगने पर इसे सलाद के तौर पर भी खा सकती हैं। यदि आप कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ध्यान में रखना चाहिती हैं, तो केवल अंडे का सफेद भाग ही खाएं, जिसमें 6 ग्राम प्रोटीन होता है। साथ ही विटामिन B2 और जर्दी की तुलना में वसा की मात्रा कम हो।

अंडे सेलेनियम, विटामिन D, B6, B12 और जिंक, आयरन और कॉपर जैसे खनिजों का समृद्ध स्रोत हैं। प्रोटीन के इस ‘पूर्ण’ स्रोत में सभी नौ आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं, जिन्हें हम अपने शरीर में नहीं बना सकते हैं और हमें अपने आहार से प्राप्त करना चाहिए।

आप चाहें तो कीवी सैंडविच भी बना सकती हैं. चित्र : शटरस्टॉक

5. कीवी

कीवी एक हल्का, संतोषजनक नाश्ता है, जो विटामिन C से भरपूर होता है। दो कीवी को छीलकर काट लें, जो सेरोटोनिन का एक प्राकृतिक स्रोत है, ये विश्राम को बढ़ावा देता है और तृप्ति की भावना देता है।

आप चाहें तो कीवी सैंडविच भी बना सकती हैं –

ऑर्गेनिक राई ब्रेड के 4 स्लाइस, 50 ग्राम मस्कारपोन चीज़ और 2 पकी कीवी लें। अब कीवी को छीलकर पतले-पतले स्लाइस में काट लें। राई की ब्रेड के ऊपर मस्कारपोन चीज़ फैलाएं और चीज़ के ऊपर कीवी स्लाइस रखें। ये परफेक्ट स्नैक है!

यह भी पढ़ें : क्‍या सिलबट्टे पर पिसी चटनी का आपके स्‍वास्‍थ्‍य से कोई संबंध है? आइए पता करते हैं

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।