वैलनेस
स्टोर

ओवरईटिंग से स्वस्थ तरीके से निपटने में मदद करेंगे ये 3 टिप्स, जानिए क्‍यों करती हैं आप माइंडलेस ईटिंग

Updated on: 25 March 2021, 13:50pm IST
कभी टीवी देखते हुए तो कभी, टिफि‍न पैक न करने के कारण आप कभी भी कुछ भी खा लेती हैं। यही वे कारण हैं जो आपकी सेहत को खराब कर रहे हैं।
विनीत
  • 86 Likes
जानिए ओवरईटिंग के क्या कारण हैं, और इससे कैसे बचा जाए। चित्र-शटरस्टॉक।

दुर्भाग्य से, ये विकर्षण न केवल हमारे द्वारा खाए जाने वाले भोजन के आनंद को कम कर देते हैं, बल्कि वे जल्दी और बहुत ज्‍यादा खाने के लिए भी जिम्‍मेदार होता है। ऐसे में हमारा मस्तिष्क शारीरिक परिपूर्णता के संकेतों को लेने, या यहां तक ​​कि जो हम मानसिक रूप से खा रहे हैं, उसे भी नोटिस करने में विफल रहता है।

इसका मतलब है कि ऐसे त्वरित स्नैक्स का चुनाव करना जो कि तेजी से हमारी ऊर्जा को बढ़ावा देते हैं, या किसी अन्य कार्य को पूरा करने के दौरान जो कुछ भी निकटतम है, उसे खाना। कभी-कभी, माइंडलेस ईटिंग वह भी है जब हम टीवी देखते हुए भोजन करते हैं।

यहां हम आपको ओवर ईटिंग से निपटने के लिए कुछ टिप्स बता रहे हैं, साथ ही ओवरईटिंग के क्या कारण हैं। ये टिप्स आपको ओवरईटिंग से स्वस्थ तरीके से निपटने में मदद करेंगी। 

ओवरईटिंग के कारण क्या हैं?

इससे पहले कि हम यह जानें कि आप ओवरईटिंग से कैसे बच सकती हैं, यह जानना महत्वपूर्ण है कि ओवरईटिंग के क्या कारण हैं। हालांकि, इसके अंतहीन कारण हैं, लेकिन हम यहां ओवरईटिंग के कुछ सबसे आम कारणों के बारे में बता रहे हैं।

थकान महसूस होना: 

हम अक्सर भोजन के बाद थकावट महसूस करते है और ऐसे में कुछ मीठा या कार्ब्स-रिच फूड्स की ओर हमारा रुझान हो जाता है।

यह भी पढें: हाई फाइबर और पोटेशियम का बेहतरीन स्रोत है कच्‍चे केले की सब्‍जी, जानिए इसके स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

बोर्डम (Boredom) : 

भोजन करना कभी-कभी हमारे टाइम-पास का भी एक तरीका है। मूवी या टीवी देखते हुए बिना सोचे-समझे स्‍नैक्‍स खाते रहना भी बहुत कॉमन है।

अल्कोहल: 

कुछ ड्रिंक्स आपकी भूख को बढ़ा सकते हैं और आपके पूर्ण महसूस करने की भावना में भी बाधा डाल सकते हैं। नमकीन, वसायुक्त स्नैक्स को अक्सर अल्कोहल-आधारित ड्रिंक्स के साथ जोड़ा जाता है, जिसके चलते आप अपनी प्यास बुझाने के लिए अधिक शराब पीते हैं।

शराब का ज्‍यादा सेवन मेमोरी पर असर डालता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
शराब का ज्‍यादा सेवन मेमोरी पर भी असर डालता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पर्याप्त पानी नहीं पीना: 

प्यासे होने के कारण अक्सर आप भूखा महसूस कर सकती हैं और ओवरईटिंग कर सकती हैं।

यह भी पढें: बोन हेल्‍थ और मांसपेशियों के लिए फायदेमंद है मावा, जानिए कैसे करनी है असली मावे की पहचान

यहां जानिए ओवरईटिंग से कैसे बचें

अगर आप ओवरईटिंग से बचना चाहती हैं और फिर से स्वस्थ होना चाहती हैं, तो इन 3 सरल चीजों को आजमाएं:

  1. अधिक माइंडफुल बनें

आप मन लगाकर कैसे भोजन कर सकती हैं? आप देखें, जब आप अपने भोजन के साथ मन से जुड़ती हैं, तो आप माइंडलेस ईटिंग से बच सकती हैं और मन लगाकर खाना शुरु कर सकती हैं। माइंडफुल ईटिंग का मतलब है कि आपके शरीर को वास्तव में क्या चाहिए और उसे किसी चीज की जरूरत है।

अच्छी तरह ध्‍यान देकर और मन से खाना खाएं। जब भी आप भोजन करें या स्नैक्स लें तो उनके प्रति सचेत रहें। अपने आप से पूछें कि आप इस विशेष भोजन को क्यों चुन रही हैं। क्या आप बोर हो रही हैं? क्या आप वास्तव में भूखी हैं? क्या आप परेशान या तनावग्रस्त हैं?

जब आप अपने विचारों और भावनाओं को नोटिस करती हैं और उन्हें रोकती हैं, तो आप वास्तव में इस पर अधिक ध्यान केंद्रित कर सकती हैं कि आपके दिमाग में क्या चल रहा है।

यहां तक ​​कि अगर आप आगे बढ़ती हैं और स्नैक्स खाती हैं, तो आप इस तथ्य से अधिक अवगत होंगी कि आप इसे खा रही हैं, बजाय एक स्वचालित कार्रवाई के। यह आपको अनिच्छित खाने के व्यवहार की एक श्रृंखला को तोड़ने में मदद कर सकता है।

  1. अपने भोजन की योजना बनाएं

कभी-कभी हम गलत भोजन का विकल्प इसलिए भी चुन लेते हैं, क्योंकि हमें बहुत तेजी से भूख लगी होती है। अपने भोजन की योजना बनाना और पहले से इसकी तैयारी करना, आपको फास्ट फूड और अन्य अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचा सकता है।

यदि आप डिनर के लिए बाहर जा रही हैं, तो रेस्तरां में जाने से पहले मेनू की जांच करें ताकि आपको पता हो कि क्या उम्मीद करनी है।

ऑफिस या अपने कार्यस्थल पर जाते समय, अपना लंच घर से ही पैक करके लेकर जाएं। जिससे कि आपको कैंटीन या किसी पिज्जा प्लेस पर जाने की जरूरत न पड़े। इस तरह, आप अच्छी गुणवत्ता वाली सामग्रियों का उपयोग करके अपने लिए स्वस्थ भोजन तैयार कर सकती हैं। 

जब आप यह जानती हैं कि आपके बैग में एक ताज़ा बना हुआ टर्की सैंडविच मौजूद है, तो ऐसे में आपकी आलू के चिप्स के पैकेट का चुनाव करने की संभावना कम है।

ओवरईटिंग से बचने के लिए अपने खानपान का विशेष ध्यान रखें। चित्र-शटरस्टॉक।
  1. अधिक प्रोटीन और फाइबर खाएं

प्रोटीन एक मूल्यवान पोषक तत्व है, जो आपके शरीर में कई अन्य भूमिकाओं के साथ-साथ मांसपेशियों के ऊतकों को बहाल करने के लिए आवश्यक अमीनो एसिड की आपूर्ति करता है। आपके पाचन तंत्र में प्रोटीन को टूटने में बहुत अधिक समय लगता है, इसलिए आप लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करेंगी।

अध्ययनों से पता चलता है कि प्रोटीन में उच्च नाश्ता खाने से तृप्ति (खाने के बाद संतुष्ट महसूस करना) बढ़ जाती है और पूरे दिन की भूख कम हो जाती है।

शोधकर्ताओं ने यह दिखाने के लिए फंक्शनल मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग (functional magnetic resonance imaging) का भी उपयोग किया कि प्रोटीन युक्त नाश्ता खाने से उन संकेतों को कम किया जा सकता है। जो आपके मस्तिष्क को भोजन की प्रेरणा और संचालित खाने के व्यवहार को नियंत्रित करने के बढ़ावा देते हैं।

फाइबर भी ओवरईटिंग को रोकने में मदद कर सकता है। फाइबर आपका पेट भरता है लेकिन इसमें बहुत कम कैलोरी होती है। यह आपके ब्लड शुगर लेवल को भी विनियमित करने में भी मदद करता है ताकि आपको बाद में दिन में मीठी चीजों (जैसे कार्ब्स और ट्रीट) की लालसा होने की संभावना कम हो। फाइबर पाचन तंत्र में टूट नहीं सकता है, इसलिए यह आपके अपशिष्ट में थोक जोड़ता है और आपको नियमित रखने में मदद करता है।

यह भी पढें: पेट संबंधी समस्याओं से राहत पाने में ये 9 हर्ब्‍स और मसाले कर सकते हैं आपकी मदद

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।