सुपरफूड है कच्ची अमिया, वेट लॉस से लेकर हेल्दी हार्ट तक ढेर सारे हैं इसके फायदे

बचपन की यादों में कच्चा आम अपनेे नटखट स्‍वाद के साथ मौजूद है। चाहें पेड़ से कच्चे आम तोड़ना हो या अचार वाले आम के टुकड़ों को चोरी-चोरी खाना। पर क्या आप जानती हैं कि कच्‍चे आम का ये नटखट स्‍वाद आपकी सेहत के लिए कितना लाभदायक है।
kachha aam aapke sharir ke liye jaruri bhut sare poshak tatv pradan karta hai.
कच्‍चा आम आपके शरीर के लिए जरूरी बहुत सारे पोषक तत्‍व प्रदान करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
योगिता यादव Updated: 21 Dec 2020, 09:21 pm IST
  • 87

कुछ खट्टा खाने का मन है! ऐसा सिर्फ गर्भवती महिलाओं के साथ ही नहीं होता, बल्कि किसी के भी साथ हो सकता है। हम में से ज्या दातर लोग खट्टा स्वाद पसंद करते हैं। असल में हमारा मन हमारे शरीर की आवश्यहकताओं का संकेत होता है। तो जब हमारा खट्टा खाने को मन करता है, तो इसका मतलब है कि हमारे शरीर को विटामिन सी की जरूरत है।

विटामिन सी का परफेक्ट सोर्स है कच्चा आम या कच्ची अमिया। अचार, चटनी और कच्चे आम के पना में इस्तेमाल होने वाला यह कच्चा असल में सुपरफूड है। ये अकेला आपको एक साथ बहुत सारी स्वास्‍थ्‍‍‍य  समस्याओं से बचाता है। आइए जानते हैं इसके सेहत लाभ।

बढ़ाता है इम्यूनिटी

रोगों का मुकाबला करने की आपकी सारी हिम्म्त आपकी इम्यूनिटी (Boost Immunity) पर निर्भर करती है। और इसे बनाए रखने के लिए विटामिन सी (Vitamin C) का सेवन करना बहुत जरूरी है। तो आपको बता दें कि कच्चे आम में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता है। साथ ही इसमें विटामिन ए भी होता है। विटामिन ए (Vitamin A) और सी (Vitamin C) का यह कॉम्बो आपकी स्किन, आंखों और बालों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी लाभदायक होता है।

कम होता है कैंसर का जोखिम

जापान के 2014 के एक अध्ययन में यह सामने आया कि कैरोटीनॉयड युक्त फल और सब्जियाँ जैसे आम, कोलन कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं। यह प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को भी कम करता है।

आइडियल पोस्ट वर्कआउट ड्रिंक

वर्कआउट के बाद (Post workout Drink) अगर आप एक गिलास कच्चे आम का रस पीती हैं तो यह आपको फि‍र से रिफ्रेश कर देगा। गर्मी और वर्कआउट के दौरान आप बहुत सारा पसीना बहाती हैं। इस पसीने में सिर्फ पानी ही नहीं निकलता, बल्कि आपके शरीर से सोडियम और खनिज भी निकलते हैं। कच्चे आम का रस इस कमी को पूरा करता है। यह आपको हाइड्रेट करता है और शरीर में सोडियम और अन्य खनिज असंतुलन को ठीक करता है।

अगर आप वर्कआउट के बाद थक गईं हैं, तो कच्‍चे आम का रस पिएं। Gif: Giphy

दूर होती हैं पाचन संबंधी समस्याएं

गर्मियों के दौरान बढ़ने वाले गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं के इलाज में कच्चा आम एक अद्भुत प्राकृतिक उपचार है। यह पाचन रस के स्राव को उत्तेजित करता है और कब्ज, अपच, अम्लता, प्रेगनेसी में होने वाली मॉर्निंग सिकनेस (Morning Sickness) और मतली का इलाज करके पाचन तंत्र को स्वस्थ रखता है।

डायबिटीज करता है कंट्रोल

2019 में चूहों पर हुए एक शोध में यह सामने आया कि कुछ प्लांट्स में एक खास यौगिक होते हैं जो डायबिटीज के खिलाफ सुरक्षात्मक कवच देते हैं। इनमें वजन कम करने, ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखने और ब्लड में फैट के लेवल को कम करने की क्षमता होती है। वहीं 2014 के एक अध्ययन में यह भी सामने आया कि जिन लोगों को डायबिटीज है, वे अगर सूखे आम का सेवन करते हैं, तो उनके मोटापे को‍ नियंत्रित किया जा सकता है।

स्वस्थ दिल

कच्चे आम में भरपूर मात्रा में विटामिन बी, नियासिन और फाइबर होता है। जो हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। जिससे ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है। परिणामस्वरूप हृदय रोगों के प्रति आपका जोखिम कम हो जाता है।

कच्‍चा आम आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी लाभकारी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

हेल्दी रहता है लिवर

कच्चा आम लिवर के स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। यह पित्त एसिड के स्राव को उत्तेजित करता है और शरीर से विषाक्त पदार्थों को साफ करके वसा के अवशोषण में मदद करता है।

दांत और ओरल हेल्‍थ के लिए जरूरी

अगर आप सांस की बदबू से परेशान हैं तो कच्चाम आम खाना शुरू कर दें। यह मसूड़ों से होने वाली ब्ली डिंग को रोकता और दांतों से कैविटी हटाने में मदद करता है। यदि आप मजबूत दांत और बेहतर ओरल हेल्थ चाहती हैं, तो ये छोटी सी अमिया आपके काम आ सकती है। बस इसकी एक फांक पर हल्का सा नमक लगाइए और खाइए। इसका खट्टा स्वाद कभी-कभी आपको सन्न कर देगा।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

आंखों के लिए लाभदायक

आम में एक एंटीऑक्सिडेंट होता है जिसे ज़ेक्सैन्थिन कहा जाता है। 2019 में आए एक अध्ययन की रिपोर्ट में यह कहा गया कि ज़ेक्सैंथिन आंखों के स्वास्‍थ्‍य में एक प्रोटेक्टिव लेयर की तरह काम करता है। यह उम्र के साथ होने वाली मैक्यूलर डिजनरेशन की स्थिति से आंखों की रक्षा करता है।

तो अब अगर आपका खट्टा खाने का मन हो तो संकोच न करें, कच्चें आम की एक फांक लें और नमक के साथ चटखारे लगाकर खाएं।

  • 87
लेखक के बारे में

कंटेंट हेड, हेल्थ शॉट्स हिंदी। वर्ष 2003 से पत्रकारिता में सक्रिय। ...और पढ़ें

अगला लेख