चाय-बिस्कुट बढ़ा सकते हैं हृदय संंबंधी समस्याएं, एक्सपर्ट से जानिए सुबह के लिए हार्ट हेल्दी ड्रिंक्स

चाय के साथ हम बिस्कुट बड़े चाव के साथ खाते हैं। इन दोनों का कॉम्बिनेशन स्वाद तो देता है, लेकिन इससे स्वास्थ्य को कई नुकसान भी होते हैं। विशेषज्ञ बताते हैं कि इसके स्थान पर स्वास्थ्यवर्धक पेय पीना चाहिए।
chai ke saath biscuit hanikarak hai.
चाय-बिस्किट खाने से ब्लड शुगर लेवल में तेज वृद्धि हो सकती है। चित्र : अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 28 Sep 2023, 04:45 pm IST
  • 125

हम वर्षों से चाय के साथ बिस्कुट खाते आये हैं। इन दो कंपोनेंट को एक साथ खाने का स्वाद तो मजेदार होता ही है, फुर्सत में बैठकर किसी से ख़ास विषय पर बात करने के लिए भी प्रेरित करता है। हम एक परम्परा की तरह सुबह उठकर चाय बिस्कुट खाते हैं। आहार विशेषज्ञ मानते हैं कि एक-दूसरे का प्रेरक भोजन होने के बावजूद चाय और बिस्कुट स्वास्थ्य के लिए अन्हेल्दी (tea and biscuit effect) है।

चाय-बिस्कुट के हैं बहुत नुकसान (Chai Biscuit Health Hazard)

हॉर्मोन एंड गट हेल्थ कोच डायटीशियन मनप्रीत कालरा अपने इन्स्टाग्राम पोस्ट में बताती हैं, ‘सुबह सबसे पहले चाय-बिस्कुट खाने से एसिडिटी हो सकती है। पेट की चर्बी बढ़ (chai biscuit can increase belly fat) सकती है। पोषक तत्वों को अवशोषित करने की क्षमता ख़राब हो सकती है। चाय-बिस्किट खाने से ब्लड शुगर लेवल (blood sugar level) में तेज वृद्धि हो सकती है। इसके कारण आंतों के स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं। दरअसल, चाय और बिस्कुट दोनों में प्रोसेस्ड चीनी होती है। इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।

मैदा भी करता है नुकसान (Maida is injurious for health)

मनप्रीत कालरा के अनुसार, मैदा आंत में चिपककर बेली फैट बढ़ा सकता है। किसी भी प्रकार के बिस्कुट बनाने में बड़ी मात्रा में मक्खन का उपयोग किया जाता है। ये संतृप्त वसा (Saturated Fat) होती है। सामान्य आकार के बिस्किट में संतृप्त वसा की मात्रा आमतौर पर संतृप्त वसा के अनुशंसित दैनिक जरूरत (recommended daily value) का 30-50% होती है। गेहूं के आटे या मैदा में मौजूद संतृप्त वसा (Saturated Fat) की हाई मात्रा पेट के साथ-साथ हार्ट हेल्थ की समस्याएं पैदा कर सकता है।

पाम ऑयल का उपयोग (Palm Oil)

बिस्कुट बनाने में सबसे अधिक पाम तेल का उपयोग किया जाता है। यह वसा आधारित है और नियमित उपयोग हृदय रोग के लिए जोखिम कारक हो सकता है। यह सस्ता है और उपभोग के लिए सबसे हानिकारक तेलों में से एक है। पाम ऑयल एंटीऑक्सीडेंट क्षमता को भी कम कर देता है, जिससे हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है।

हाई सोडियम (High Sodium)

साधारण मीठे बिस्कुट में प्रति 25 ग्राम बैग में 0.4 ग्राम नमक होता है। अधिक मात्रा में नमक का सेवन हाई ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर का खतरा बढ़ा सकता है। अधिक नमक के सेवन से भी वॉटर रिटेंशन होता है, जिससे सूजन और वजन बढ़ता है।

प्रीजर्वेटिव (Preservative)

स्टोर से खरीदे गए बिस्कुट और कुकीज़ में ब्यूटाइलेटेड हाइड्रॉक्सीनिसोल (BHA) और ब्यूटाइलेटेड हाइड्रॉक्सीटोल्यूइन (BHT) होते हैं। ये दोनों मानव ब्लड के लिए हानिकारक हैं। इसके अलावा कुछ बिस्कुटों में डीएनए क्षति का कारण बनने वाला सोडियम बेंजोएट भी मौजूद होता है।

biscuit ke preservative nuksandayak hain.
बिस्कुटों में डीएनए क्षति का कारण बनने वाला सोडियम बेंजोएट भी मौजूद होता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

यहां हैं चाय-बिस्कुट के स्थान पर लिए जाने वाले पेय (Heart Healthy Drinks) 

मनप्रीत कालरा चाय और बिस्कुट की बजाय 4विकल्प अपनाने के लिए कहती हैं। इनका सुबह सबसे पहले सेवन करना चाहिए।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

1 धनिये का पानी (Coriander Water)

पेट फूलने की समस्या से जूझ रही हैं, तो दिन की शुरुआत धनिये के पानी से करना चाहिए। इसे बनाने के लिए एक चम्मच पिसे हुए धनिये में एक गिलास गुनगुना पानी डालें। यह पाचन एंजाइमों की गतिविधि को बढ़ाता है, पाचन को बढ़ाता है और सूजन और पेट फूलना कम करता है

2 सौंफ पानी (Funnel Water)

आंत की परेशानियों से राहत पाने और आंत की सूजन को कम करने के लिए सौंफ का पानी पिया जा सकता है। सौंफ को कूटकर एक ग्लास पानी के साथ पीना चाहिए।

3 एलोवेरा जूस (Aloe Vera Juice)

यदि अक्सर कब्ज का अनुभव होता है, तो एलोवेरा जूस पिया जा सकता है। इस पेय का रेचक प्रभाव हो सकता है

chai biscuit ke badle aloe vera juice len
यदि अक्सर कब्ज का अनुभव होता है, तो एलोवेरा जूस पिया जा सकता है। चित्र:शटरस्टॉक

4 दालचीनी के साथ नारियल पानी (Cinnamon with Coconut Water)

मनप्रीत के अनुसार, दालचीनी के साथ नारियल का पानी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। यह लेप्टिन संवेदनशीलता को बढ़ाता है। यह सुबह की चीनी की लालसा से लड़ने में मदद कर सकता है।

यह भी पढ़ें :- ये 4 कुकिंग मिस्टेक्स आपकी होममेड चपाती को बना देती हैं फास्ट फूड से भी ज्यादा अनहेल्दी

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख