फॉलो

क्या आपकी डायनिंग टेबल पर मिश्री है? अगर नहीं तो आपको जानने चाहिए मिश्री के ये स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

Published on:12 August 2020, 20:00pm IST
रॉक कैंडी यानी मिश्री आपको सिर्फ स्वाद ही नहीं देती, बल्कि यह बहुत सारे सेहत लाभ भी लिए हुए हैं। हम आपको बता रहे हैं इसके कुछ अमेजिंग फायदे।
योगिता यादव
  • 94 Likes
मिश्री मुंह को मिठास देने के साथ ही सेहत को भी लाभ देती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

सौंफ और मिश्री, माखन और मिश्री, बादाम और मिश्री… यानी  मिश्री जिसके साथ भी जुड़ती है, वह कॉम्बीनेशन मिठास और प्योरिटी की फीलिंग देता है। असल में मिश्री की क्रिस्टलीकरण और पुनर्संरचना की प्रक्रिया इसे आपकी फि‍जिकल हेल्थ ही नहीं, बल्कि मेंटल हेल्थ के लिए भी बहुत फायदेमंद बनाती है। तो आइए जानते हैं जन्माष्टमी (shri krishna janmashtami) के इस खास भोग और बच्चों की प्यारी मिश्री (Rock candy) के सेहत लाभ।

हम आपको बताते हैं मिश्री खाने के कुछ सेहत लाभ

वजन घटाने में है मददगार

अगर वेट लॉस आपका लक्ष्य है तो आपको अपने डायनिंग टेबल पर मिश्री की स्थायी जगह बना देनी चाहिए। और मिश्री के साथ आपको दूसरे बाउल में रखनी है सौंफ। जी हां, मिश्री को सौंफ के साथ खाने से यह आपके वेट लॉस में मददगार साबित होती है।

मिश्री वजन कम करने में मददगार है । चित्र: शटरस्टॉक।

अगर आप सौंफ और मिश्री की बराबर मात्रा लेकर उसका पाउडर बना लेंगी तो यह और भी लाभदायक होगा। आपको बस यह एक चम्मच पाउडर हर रोज खाना खाने के बाद खाना है।

बेहतर होता है पाचन

क्या कभी आपने सोचा है कि घर में खाना खाने से लेकर बड़े-बड़े रेस्तरां तक खाना खाने के बाद मिश्री क्यों दी जाती है? इसका जवाब हम आपको बताते हैं- असल में मिश्री पाचन को दुरुस्त बनाए रखती है। खाना खाने के बाद मिश्री का सेवन करने से आपको खाना पचाने में आसानी रहती है और गैस जैसी समस्याएं नहीं बनतीं।

सौंफ के साथ मिश्री का सेवन करने से पाचन बेहतर होता है। चित्र : शटरस्‍टॉक

तनाव को करती है कम

मिश्री को गर्म दूध के साथ खाने से आपका तनाव कम होता है और मेमोरी भी बढ़ती है। तो अगर आप इन दिनों किसी भी तरह का तनाव महसूस कर रहीं हैं, तो रात को सोने से पहले गुनगुने दूध के साथ थोड़ी सी मिश्री का सेवन करें। मिश्री मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभदायक होती है। अगर आप डायबिटिक हैं, तो इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य कर लें।

बनाए रखती है एनर्जेटिक

अगर आप लगातार काम करके थक गईं हैं, आप उपवास पर हैं या आपकी मम्मी मेनोपॉज से गुजर रहीं हैं, तो अपने आहार में मिश्री यानी रॉक कैंडी को जरूर शामिल करें। मिश्री इंस्टेंट एनर्जी देने वाला सोर्स है। जो आपके सुस्त मूड को ताज़ा करता है। मेनोपॉज के बाद होने वाले मूड स्विंग की समस्या से जूझने में भी यह मददगार हो सकती है।

हर वक्‍त की थकान से निजात दिलाती है मिश्री। चित्र: शटरस्‍टॉक

बढ़ती है आंखों की रोशनी

मिश्री अपनी तासीर में ठंडी होती है, जो मांसपेशियों को आराम दिलाकर आपको तनावमुक्त करती है। जब आप तनाव मुक्त होती हैं, तो यह शरीर के अन्य अंगों की तरह आपकी आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है। आयुर्वेद में कहा गया है कि हर रोज मिश्री का घी के साथ सेवन करने से आंखों की रोशनी में भी सुधार होता है।

तो देखा आपने खाने के बाद मुंह की दुर्गंध दूर करने वाली मिश्री जिसे आप अभी तक सिर्फ माउथ फ्रेशनर के तौर पर ही इस्तेमाल करती थीं, वह आपकी सेहत के लिए कितनी लाभदायक है! क्या अब भी आप इसे अपनी डायनिंग टेबल पर जगह नहीं देंगी?

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।

संबंधि‍त सामग्री