फॉलो

योग आहार : ये 5 सात्विक खाद्य पदार्थ जो बढ़ा सकते हैं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता

Updated on: 21 June 2020, 18:25pm IST
योग सिर्फ कुछ आसनों का समुच्‍चय ही नहीं है, बल्कि यह एक लाइफस्‍टाइल है। सात्विक आहार भी योग का ही एक हिस्‍सा है, जिसे अपनाकर आप अपनी सेहत को भरपूर लाभ दे सकते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 79 Likes

जब हम योग के बारे में सोचते हैं, तो हम शायद ही कभी शारीरिक गतिविधि से परे इसे देख पाते हैं। निश्चित रूप से, हम यह जानते हैं कि योग हमारे लिए काफी फायदेमंद है। लेकिन योग का संपूर्ण लाभ लेने के लिए जरूरी है कि हम उसके कुछ और नियमों को अपने जीवन में आत्‍मसात करें।

इन्‍हीं में से एक है योग आहार। जो सात्विक भोजन करने को प्राथमिकता देता है। आज ही आपके लिए ऐसे हुछ कुछ सात्विक आहारों की लिस्‍ट लेकर आए हैं, जिन्‍हें आप अपनी डाइट में शामिल कर योग का भरपूर लाभ ले सकते हैं।

असल में क्‍या होता है  योग आहार 

एक योगिक आहार में पौष्टिक खाद्य पदार्थ शामिल होते हैं, जो सुपाच्‍य और शुद्धता को बढ़ावा देते हैं, इस प्रकार हमारे शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य के साथ-साथ भावनाओं और विचारों की शुद्धता को भी बढ़ावा देते हैं।

एक पंजीकृत आहार विशेषज्ञ, प्राकृतिक चिकित्सक और प्रमाणित मधुमेह शिक्षक शेरिल सलिस कहते हैं: “योग प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट या वसा में भोजन को नहीं बांटता; इसके बजाय यह उन्हें शरीर और दिमाग पर उनके प्रभाव के अनुसार वर्गीकृत करता है, तीन प्रकारों में – सत्‍व, रजस और तामस ।”

ता‍मसिक भोजन वह भोजन है जो हमें सुस्त बनाता है, जबकि राजसिक भोजन गतिविधि या बेचैनी बढ़ाने वाला होता है। मगर सात्विक भोजन, आपको हल्‍कापन महसूस करवाता है, और आप ऊर्जावान एवं उत्साही बने रहते हैं।

वह कहती हैंं, “न सिर्फ सही प्रकार का भोजन, बल्कि सही समय पर और उचित मात्रा में भोजन करना भी उतना ही महत्‍वपूर्ण है। हम सही प्रकार और सही मात्रा में भोजन ले रहे हैं, मगर उसका समय सही नहीं है तो पूरा सिस्‍टम ही खराब हो सकता है। इससे शरीर की प्राकृतिक लय में बाधा आती है।”

तो सात्विक खाद्य पदार्थ क्या हैं जिन्हें आप अपने आहार में शामिल कर सकती हैं? यहां कुछ ऐसे ही आहार के बारे में सलिस हमें बता रहीं हैं:

1 सहजन की चाय

आपको चाय या कॉफी बहुत पसंद है, लेकिन क्या आप जानती हैं कि हर पेय का हर घूंट आप में कुछ सकारात्‍मक और नकारात्मक एनर्जी देता है? यही कारण है कि सहजन की चाय को आप चाय की जगह एक स्‍वस्‍थ विकल्‍प के रूप में अपना सकती हैं।

yoga diet
अब अपने आहार में आपको यह सुरफूड जरूर शामिल करना चाहिए। चित्र : शटरस्टॉक

सहजन चाय आपको ग्रीन टी के सभी लाभ देती है। सहजन आपको पोषण देने के साथ, आपकी इम्‍यूनिटी को भी बढ़ावा दे सकता है। इससे आपके  चयापचय विनियमित होता है, और आप अपने वजन को नियंत्रण में रख पाती हैं।

यह भी पढ़ें- गुडनेस की भंडार है सहजन की चाय, हम बता रहे हैं इस हेल्‍दी चाय की रेसिपी

2 सोए की पत्तियां

इसके अलावा डिल लीव्‍स यानी सोआ, सोए की पत्तियां भी काफी लाभदायक मानी जाती हैं। वे उत्तेजित और मासिक धर्म प्रवाह को नियंत्रित करती हैं। इसलिए महिलाओं को इनका सेवन जरूर करना चाहिए। यह उनके स्तन में दूध का उत्पादन बढ़ाने में भी मददगार होती हैं। इसलिए नई मां यदि इसका सेवन करती हैं, तो उन्‍हें स्तनपान में सहायता मिलती है। इसके साथ ही इम्‍यूनिटी बढ़ाने में भी मददगार होती हैं।

3 फूलगोभी के डंठल

ढेर सारे पोषक तत्‍वों वाली यह सब्‍जी आपको इससे प्‍यार करने के बहुत सारे कारण देती है। लेकिन इस सब्जी का सेवन सिर्फ इसके स्‍टार्च युक्‍त फूलों के कारण ही नहीं, बल्कि इसके पूरे हिस्‍से को खाने का समर्थन किया जाता है।योग आहार, फूलगोभी के फूलों के साथ उसके डंठल का भी सेवन करना बताया गया है जो फाइबर, कैल्शियम, और विटामिन सी से समृद्ध होता है।

yoga diet
फूलगोभी के सिर्फ फूल ही नहीं, बल्कि उसके डंठल भी पोषण युक्‍त होते हैं। चित्र : शटरस्टॉक।

4 आंवला

आयुर्वेद में आंवले को पोषण का पावरहाउस माना गया है। विशेष रूप से इसमें विटामिन सी की मौजूदगी इसे लाभदायक आहार में शामिल करती है। इसमें किसी भी खट्टे फल से अधिक मात्रा में इम्‍यूनिटी बढ़ाने की क्षमता होती है जो आपको संक्रमण के खिलाफ एक हथियार प्रदान करती है।

yoga diet
आमला एक सुपरफूड है जिसे हर किसी को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। चित्र : शटरस्टॉक

आप इसे कच्चा, ताजा या सुखा कर किसी भी तरह इस्‍तेमाल कर सकती हैं। आप चाहें तो इसका रस भी पी सकती हैं, जो आपको आवश्यक पोषण देगा।

5 जौ

आहार फाइबर का यह एक उत्कृष्ट स्रोत  है। जौ की न केवल बाहरी परत में चोकर होता है,  बल्कि इसके अंदर भी रफेज होता है। तो आप चाहें तो इसे अपनी होल ग्रेन डाइट में शामिल कर सकती हैं। या प्रोसेस्‍ड बार्ले प्रोडक्‍ट में इसे ग्रहण करें, इसमें हर अवस्‍था में आहार फाइबर जिसमें बीटा-ग्लूकन घुलनशील फाइबर शामिल हैं, उपलब्ध होता है।

इसकी मौजूद फाइबर शरीर में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं और वजन घटाने में मददगार होते हैं। जौ का पानी पीना भी गुर्दे की पथरी में फायदेमंद होता है।

तो अपने जीवन में इन पांच सत्विक खाद्य पदार्थों को शामिल कर आप योग आहार का लाभ ले सकते हैं।( आईएएनएस से इनपुट के साथ)

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

संबंधि‍त सामग्री