फॉलो

“रसोड़े में कौन था” सोचना छोड़कर जानिए कि काले चने का सेवन आपके लिए कितना फायदेमंद है

Updated on: 27 August 2020, 12:01pm IST
थैंक्‍स टू कोकिला बेन कि सोशल मीडिया पर इस समय का सबसे बड़ा सवाल यही बन गया है 'रसोड़े में कौन था', पर हम ये नहीं पूछेंगे, ब‍ल्कि बताएंगे कि क्‍यों आपको हर रोज अपनी डाइट में काले चने शामिल करने चाहिए।
योगिता यादव
  • 98 Likes
काले चने महिलाओं की सेहत के लिए बहुत जरूरी हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

Twitter पर आजकल यही ट्रेंड कर रहा है, इसी पर मीम्‍स बन रहे हैं और Nation यही जानना चाहती हैं कि ‘रसोड़े में कौन था?’ हालांकि सास-बहू सीरियल्‍स देखने वाले सब जान गए हैं कि कौन कहां था। पर इससे पहले कि ये सवाल आपका सिर दर्द बन जाए हम इससे अलग आपको कुछ हेल्‍दी एडवाइज देने वाले हैं। और वो ये कि खाली कुकर को गैस पर चढ़ाने की बजाए, उसमेें काले चने उबालें। राशि बेन शायद नहीं जानती कि काले चने का सेवन महिलाओं के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है। पर हम आपको बताते हैं।

तो सबसे पहले जानिए काले चने में मौजूद पोषक तत्‍व

काले चने न सिर्फ प्रोटीन का भंडार हैं, बल्कि ये आपके शरीर को और भी कई लाभ देते हैं। अगर सौ ग्राम काले चने की बात करें तो इनमें 121 कैलोरीज, मात्र 2 ग्राम फैट, 10 मिग्रा सोडियम, 20 मिग्रा कार्बोहाइड्रेट और डायटरी फाइबर भी मौजूद होता है।

महिलाओं के लिए जरूरी है काले चने का सेवन

काले जाने में सिर्फ प्रोटीन और विटामिन ही नहीं, वे माइक्रो न्‍यूट्रीएंट्स और खनिज भी होते हैं, जिनकी हमारे शरीर को आवश्‍यकता होती है।

खासतौर से कैल्शियम और मैग्‍नीशियम, जिसकी ओर महिलाएं ध्‍यान नहीं दे पातीं और उन्‍हें इनकी सबसे ज्‍यादा जरूरत होती है। आप इन्‍हें चाहें उबालकर खाएं, भून कर या अंकुरित करके स्‍नैक्‍स में शामिल करें, ये हर तरह से आपको फायदा देते हैं।

अब जानते हैं काले चने खाने के ये अमेजिंग फायदे

दूर होती है खून की कमी

2018 में मेडिकल जर्नल बीएमजे ग्लोबल हेल्थ में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार भारतीय महिलाओं में एनीमिया एक बड़ी समस्‍या है। जिसके चलते उन्‍हें कई तरह की स्‍वास्‍थ्‍य जटिलताओं का सामना करना पड़ता है। नेशनल फैमिली हेल्‍थ सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार 53.2 फीसदी गैर-गर्भवती महिलाएं और 50.4 फीसदी गर्भवती महिलाएं एनीमिक हैं।

ज्‍यादातर महिलाओं में आयरन की कमी होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

तो अगर आप एनीमिया से बचना चाहती हैं, तो जरूरी है कि अपने आहार में काले चने को शामिल करें। एनीमिया के मरीजों के लिए काले चने का सेवन करना फायदेमंद होता है।

पाचन रहता है दुरुस्‍त

काले चने में भरपूर मात्रा में आहारीय रेशा यानी डायटरी फाइबर मौजूद होता है। जिससे पाचन संबंधी समस्‍याएं दूर होती हैं। अगर आपको कब्‍ज अथवा कोई और पाचन संबंधी समस्‍या है तो हर रोज रातकर काले चने भिगोकर रखें। सुबह इन भीगे हुए चने का सेवन करें और उस पानी को भी पिए। इससे कब्‍ज की समस्‍या में राहत मिलती है और पाचन तंत्र भी दुरुस्‍त रहता है।

थकान होती है दूर

अगर आप दिन भर थकान का अनुभव करती हैं, तो काले चने का सेवन आपको इस थकान से राहत दे सकता है।

हर समय थकान का अनुभव करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

आप काले चने को कपड़े में भिगोकर रख दें। जब इनमें अंकुर फूंटने लगें तो इनका नाश्‍ते में सेवन करें। यह आपको एनर्जी देकर थकान की समस्‍या से छुटकारा दिलाएंगे। अगर आपको इंस्‍टेंट एनर्जी की जरूरत है तो आप भुने हुए चने का गुड़ के साथ सेवन करें।

सबसे अच्‍छी बात कि काले चने का स्‍नैक्‍स के रूप में प्रयोग करने से ये आपकी वेट लॉस जर्नी को भी आसान बना सकता है। तो मैडम राशि बेन अगली बार खाली कुकर नहीं चने डालकर गैस पर चढ़ाइएगा।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।

संबंधि‍त सामग्री