एंटी ऑक्सीडेन्ट्स से भरपूर डार्क चॉकलेट है, डायबिटीज़ में भी फायदेमंद

Updated on: 7 July 2022, 21:37 pm IST

शुगर लेस डार्क चॉकलेट के स्वास्थ्यवर्धक विकल्प मौजूद हैं और मधुमेह रोगी भी इसका आनंद ले सकते हैं।

fridge me chocolate
डायबिटीज़ के मरीजों के लिए बेस्ट है डार्क चॉकलेट। चित्र : शटरस्टॉक

चॉकलेट सोल फ़ूड है। इसका स्वाद मुंह में पिघलकर आपको स्वर्ग की अनुभूति करा सकता है। चॉकलेट मूड बूस्टर ही नहीं, एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर भी है। इस विश्व चॉकलेट दिवस पर, हम कोको से बने डार्क चॉकलेट की वकालत कर रहे हैं,  क्योंकि सामान्य मिल्क चॉकलेट जहां आपकी कमर का साइज बढ़ा सकती है, वहीं डार्क चॉकलेट आपकी सेहत और फिटनेस दोनों के लिए फायदेमंद है। 

बहुत से लोगों को लगता है कि डार्क चॉकलेट मधुमेह रोगियों के लिए हानिकारक है। शुगर कॉन्टेंट होने के कारण हो सकता है कि यह मधुमेह रोगियों के लिए हानिकारक हो मगर डार्क चॉकलेट के स्वास्थ्यवर्धक विकल्प हैं और मधुमेह वाले लोग इसका आनंद ले सकते हैं। इनमें फ्लेवोनॉइड और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो मधुमेह वाले लोगों में ब्लड शुगर (blood sugar) के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

डार्क वेरिएंट में फ्लेवोनोइड्स हाई ब्लड शुगर के स्तर के कारण होने वाले इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने के लिए दिखाए गए हैं, जो टाइप 2 मधुमेह को रोकने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग फ्लेवोनोइड्स रिच डाइट लेते हैं, उनमें हृदय रोग या स्ट्रोक होने का जोखिम उन लोगों की तुलना में कम होता है जो इस प्रकार के भोजन का सेवन नहीं करते हैं।

nutritious hota hai dark chocolate
पोषक तत्वों से भरपूर है डार्क चॉकलेट- वर्ल्ड डार्क चॉकलेट डे। चित्र शटरस्टॉक।

मधुमेह रोगी हैं तो डार्क चॉकलेट कैसे करेगी आपकी मदद?

  1. डार्क चॉकलेट में मैग्नीशियम, जिंक, आयरन और पोटैशियम भी होता है। मैग्नीशियम लीवर की कार्यक्षमता को बढ़ाते हुए इंसुलिन के स्राव को बढ़ाकर ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। जस्ता इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद करता है, जबकि आयरन, ग्लूकोज टॉलरेंस  में सुधार करता है और एनीमिया को रोकता है।
  2. इसमें मौजूद पोटेशियम तंत्रिका कार्य (nervous system), मांसपेशियों की ताकत और स्वस्थ रक्तचाप के स्तर को बनाए रखने के लिए आवश्यक है।
  3. डार्क चॉकलेट मधुमेह रोगियों के लिए एक बेहतरीन भोजन है । इसमें बहुत सारे एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्व होते हैं जो ऑक्सीडेटिव तनाव (oxidative stress)की रोकथाम कर आपके ब्लड शुगर के स्तर को प्रबंधित करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

 डार्क चॉकलेट में मिल्क चॉकलेट की तुलना में अधिक कैफीन हो सकता है। यह बताना मुश्किल हो सकता है कि आपकी बॉडी को डार्क चॉकलेट से पर्याप्त एंटीऑक्सीडेंट मिल रहे हैं या नहीं। हालांकि, ये चीजें ब्लड शुगर के स्तर को प्रभावित नहीं करती हैं ।

इसे अपनी diabetes डाइट में शामिल करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आपको मीठा खाने की इच्छा हो तो इसका 1 छोटा टुकड़ा खा लें। याद रखें 1 क्यूब दिन के लिए पर्याप्त है। यदि आप मधुमेह रोगी हैं तो किसी भी चीज की अधिकता आपके लिए सही नहीं हो सकती।

यह भी पढ़ें : क्रीम, जेल या अंडर आई मास्क, थकी आंखों को आराम देने के लिए क्या है ज्यादा बेहतर

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें