वैलनेस
स्टोर

वजन घटाना है तो रेगुलर आटे के साथ ही इस्‍तेमाल करें रागी का आटा, हम बता रहे हैं इसके 6 कारण

Published on:28 March 2021, 09:00am IST
रागी का आटा न सिर्फ ग्‍लूटेन फ्री है, बल्कि ये आपको वजन कम करने में भी मदद कर सकता है।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
अपने आहार में शामिल करें रागी का आटा, ये स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है. चित्र : शटरस्टॉक

वेट लॉस जितना सुनने में सरल लगता है, असलियत में यह उतना ही जटिल भी है। वास्‍तव में वजन कम करने के लिए आपको एक समग्र रणनीति अपनाने की जरूरत होती है। जिसमें हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल, वर्कआउट और आहार सभी कुछ शामिल है। खासतौर से आहार को आपको सही तरह से मैनेज करने की जरूरत है। आपकी डाइट को वेट लॉस डाइट बनाना है तो रेगुलर आटा की बजाए रागी का आटा शामिल करें।

जानिये क्या है रागी और इसके पोषक तत्व?

रागी एक बेहतरीन अनाज है और यह दिखने में सरसों की तरह होता है। रागी को उत्तर भारत में नाचनी के नाम से भी जाना जाता है। रागी को पीसकर इसका आटा तैयार किया जाता है। रागी इकलौता ऐसा आटा है, जो विटामिन-D का अच्छा स्रोत है। साथ ही, इसमें गुड कार्ब्स, प्रोटीन और अमीनो एसिड की अच्छी मात्रा होती है। अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के अनुसार 100 ग्राम रागी के आटे में-

कैलोरीज – 385
फैट – 7%
प्रोटीन – 10%
गुड कार्ब्स – 25%
कैल्शियम – 26%
कोलेस्ट्रोल – 0%
विटामिन-C – 7%
विटामिन-E – 4.6 %
आयरन – 11% मौजूद होता है।

हड्डियों को मजबूती देता है रागी का आटा. चित्र : शटरस्टॉक
हड्डियों को मजबूती देता है रागी का आटा. चित्र : शटरस्टॉक

1. हड्डियों को मजबूती देता है

हड्डियों के लिए कैल्शियम बेहद ज़रूरी है और रागी में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है। महिलाओं की बोन हेल्थ 30 के बाद कम होने लगती है, ऐसे में ये हड्डियों का विकास करने और ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में कारगर है। इसलिए, आहार में रागी ज़रूर शामिल करें।

2. वेट लॉस में मददगार

रागी वज़न कम करने में एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। अपने आहार में आटे की रोटी के बजाय अगर आप रागी के आटे से बनी रोटी खाएंगी, तो आपका वज़न तेज़ी से घटने लगेगा। इसमें ट्रिपटोफन नामक अमीनो एसिड होता है जो भूख को कम करता है।

3. मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद

रागी में उच्च मात्रा में फाइबर और पॉलीफेनोल होता है, जो शरीर में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करता है। साथ ही, ये शरीर में रक्तचाप को बनाए रखती है, जिससे मधुमेह और हृदय रोग और हाई ब्लड प्रेशर का खतरा कम होता है।

रागी में आयरन की अच्छी मात्रा होती है, इसे खाने से एनीमिया की शिकायत नहीं होती है. चित्र : शटरस्टॉक
रागी में आयरन की अच्छी मात्रा होती है, इसे खाने से एनीमिया की शिकायत नहीं होती है. चित्र : शटरस्टॉक

4. एनीमिया से राहत

रागी में आयरन की भरपूर मात्रा होती है और एनीमिया से ग्रसित लोगों में आयरन की खुराक शामिल करना बेहद ज़रूरी है। इसमें विटामिन-C भी होता है, जो शरीर में आयरन के अवशोषण में मदद करती है। साथ ही, ये रक्त में किसी तरह की रुकावट को हटाता है।

5. मस्तिष्क के लिए लाभकारी

बढ़ते बच्चों के लिए रागी बेहद फायदेमंद है। ये उनकी मेमोरी बूस्ट करने, चिंता और अवसाद जैसी समस्याओं को दूर करती है। रागी में एंटीऑक्सीडेंट्स और अमीनो एसिड की अच्छी मात्रा होती है, जो मस्तिष्क के विकास में मदद करते हैं।

6. त्वचा में लाए निखार

रागी का आटा त्वचा के लिए अद्भुत काम करता है। इसमें मेथियोनीन और लाइसिन जैसे महत्वपूर्ण तत्व होते हैं, जो त्वचा को एजिंग से बचाते हैं। इसे खाने से त्वचा के टिश्यू पोषित होते हैं जिससे फाइन लाइन्स से बचाव होता है।

यह भी पढ़ें : क्या आप हर रोज नाश्ते में ब्रेड खा रही हैं, तो जानिए क्‍या होता है आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर इसका प्रभाव 

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।