वैलनेस
स्टोर

ओमेगा 3 फैटी एसिड, आपके संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए एक अत्‍यावश्‍यक पोषक तत्‍व, जानें इसके बारे में सब कुछ 

Updated on: 10 December 2020, 12:44pm IST
ओमेगा थ्री फैटी एसिड आपके शरीर के लिए अत्‍यावश्‍यक पोषक तत्‍व है। यह आपके शरीर, आंखों और मस्तिष्क के स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी है। 
प्रेरणा मिश्रा
  • 80 Likes
क्या आपकी डाइट में यह माइक्रोन्यूट्रिएंट्स हैं?चित्र- शटरस्टॉक।

ओमेगा थ्री फैटी एसिड का उपयोग बिल्कुल सुचारू रूप से डॉक्टर्स की सलाह के बाद ही करना चाहिए, वैसे तो ओमेगा थ्री फैटी एसिड वेज और नॉन वेज दोनों प्रकार के भोजन से प्राप्त होता है।

ओमेगा थ्री फैटी एसिड को अक्सर ओमेगा थ्री भी कहा जाता है। ओमेगा थ्री में पॉलीअनसैचुरेटेड फैट की मात्रा बहुत अधिक पाई जाती है। जिसकी आवश्यकता हमारे शरीर को होती है, जो हमारी शरीर स्वयं प्राप्त नहीं कर पाती जिसके लिए हमें भोजन का सहारा लेना पड़ता है जिसमें ओमेगा थ्री की मात्रा भरपूर हो।

ओमेगा 3 को मुख्यत: तीन भागों में बांट दिया गया है :-

1.अल्फा लिनोलेनिक एसिड – यह मुख्य रूप से पौधों में पाया जाता है।

2.डोकोसाहेक्साएनोइक एसिड – इसे हम मांसाहारी भोजन से प्राप्‍त कर सकते हैं।  

3.ईकोसापेन्टैनेनोइक एसिड – यह भी केवल मांसाहारी भोजन से ही प्राप्‍त हो सकता है। 

क्‍या हैं ओमेगा 3 के स्रोत

ओमेगा 3 के स्रोत में शाकाहारी और मांसाहारी दोनों प्रकार के भोजन आते हैं।

फैट को बिल्‍कुल छोड़ देना हेल्‍दी ऑप्‍शन नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अखरोट, अलसी के बीज, सोयाबीन, टोफू, फूल गोभी, सेल्मन मछली, टूना मछली, अंडे, हरी बीन्स, शलगम, झींगा, दूध, मूंगफली, हरी पत्तेदार सब्जियां, स्ट्रॉबेरी, स्प्राउट्स आदि इसके अच्छे स्रोत हैं।

हमारे शरीर के लिए क्‍यों जरूरी है ओमेगा 3?

ओमेगा थ्री आपके शरीर के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होता है। यह हृदय रोग से बचाने में भी मदद करता है एवं जोड़ों के दर्द, पीठ दर्द, आर्थराइटिस, जकड़न जैसी स्थितियों की संभावना भी कम कर देता है। 

अब आपको जानने चाहिए ओमेगा 3 के लाभ

1.तनाव को कम करता है 

कई विशेषज्ञों के अनुसार यह देखा गया है कि, जो व्यक्ति ओमेगा थ्री का सेवन करते है उनमें तनाव की स्थिति काफी कम होती है। 

2.गर्भावस्था में है फायदेमंद

गर्भावस्था के दौरान अगर आप ओमेगा थ्री का सेवन करती हैं, तो यह आपके साथ-साथ आपके बच्चे के विकास के लिए भी लाभदायक होता है।

गर्भावस्‍था और स्तनपान के दौरान ओमेगा 3 का सेवन आपके बच्चे को मानसिक और शारीरिक रूप से बनाएगा स्वस्थ। चित्र: शटरस्‍टॉक
गर्भावस्‍था और स्तनपान के दौरान ओमेगा 3 का सेवन आपके बच्चे को मानसिक और शारीरिक रूप से बनाएगा स्वस्थ। चित्र: शटरस्‍टॉक

ओमेगा थ्री फैटी एसिड बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए जरूरी है। 

3.बचाता है अल्जाइमर के जोखिम से 

अल्जाइमर एक ऐसा रोग है जिसकी संभावना उम्र बढ़ने के साथ बढ़ती जाती है। अगर आप इसके प्रभाव से बचना चाहती हैं तो आपको अपने आहार में अभी से ओमेगा थ्री को शामिल कर लेना चाहिए। इसके अतिरिक्त आप मछली का सेवन करती हैं, तो आपकी यादाश्त काफी मजबूत हो जाती है।

4. यह पीरियड क्रैम्‍प्‍स को कम करता है 

मासिक धर्म के समय में अक्सर महिलाओं को पेट में दर्द, ऐंठन जैसी समस्या होती है। ओमेगा थ्री के सेवन से पीरियड्स के समय पर होने वाले दर्द को शांत करने में मदद मिलती है। 

पर सीमित मात्रा में करें ओमेगा 3 का सेवन 

वैसे तो ओमेगा थ्री आपके स्वास्थ के लिए बेहद आवश्यक है, परन्तु इसके अधिक सेवन से आपके शरीर में वसा की मात्रा अधिक हो सकती है, जिससे आपका वजन बढ़ सकता है।

वेट लॉस यात्रा में कुछ चीजें क्लियर कर लेना अच्‍छा होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
वेट लॉस यात्रा में कुछ चीजें क्लियर कर लेना अच्‍छा होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसके अलावा अगर इसके सेवन को कंट्रोल न किया जाए तो हाई ब्‍लड प्रेशर, हृदय संबंधी रोग तथा मधुमेह जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

ओमेगा 3 की कितनी मात्रा है सही 

ओमेगा थ्री के सेवन से पहले अपने डायटिशन या डॉक्टर से सलाह अवश्य लें। वैसे तो ओमेगा थ्री का सेवन प्रति दिन के हिसाब से 4 ग्राम करना ही उचित होगा, क्योंकि फैटी एसिड आपके शरीर में फैट की मात्रा भी बढ़ा सकते हैं। चाइल्ड हेल्थ फाउंडेशन ने बच्चों,गर्भवती एवं स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को प्रति दिन 2 ग्राम ही ओमेगा थ्री का सेवन करने की सलाह दी है।

 

प्रेरणा मिश्रा प्रेरणा मिश्रा

हेल्‍दी फूड, एक्‍सरसाइज और कविता - मेरे ये तीन दोस्‍त मुझे तनाव से बचाए रखते हैं।