फॉलो

स्‍वीट कॉर्न को हेल्‍दी समझकर डाइट में ओवरलोड तो नहीं कर रहीं? हमने चैक की इसकी पौष्टिकता

Published on:19 July 2020, 19:00pm IST
अगर आप आंख मूंदकर स्‍वीट कॉर्न को अपनी डाइट में शामिल कर रहीं हैं, यह सोचकर कि ये हेल्‍दी हैं, तो आपको इस आलेख को ध्‍यान से पढ़ना चाहिए।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 79 Likes

ग्‍लूटन हमेशा से आहार में बहस का विषय रहा है। मेरी राय में बहस का अगला मुद्दा  स्‍वीट कॉर्न या पीली मक्‍की होने वाली है। मोटापा, ब्रेन फॉग, आंत संबंधी समस्‍याएं और वजन बढ़ने तक वे सभी कारण स्‍वीट कॉर्न से भी जुड़े हैं, जो ग्‍लूटन से जुड़े हैं।

स्‍वीट कॉर्न को हेल्‍दी स्‍नेक्‍स कहकर सभी जगह परोसा जाता है। जब तक कोरोनावायरस के कारण सोशल डिस्‍टेंसिंग और लॉकडाउन शुरू नहीं हुआ था, तब सिनेमाहॉल, मॉल, फूड जॉइंट्स सभी जगह इन्‍हें हेल्‍दी स्‍नेक्‍स समझकर सभी लोग खा रहे थे। बल्कि कई बार तो आप इन्‍हें ब्रेकफास्‍ट में भी शामिल कर रहीं थीं।

लेकिन क्या आप जानती हैं कि पीली मक्‍की या स्‍वीट कॉर्न सबसे अधिक जेनेटिकली इंजीनीयर्ड फूड है। जिसका जीएमओ (Genetically Modified Organism) 90 %  है।

शेष स्वाभाविक रूप से उत्पादित किया जा सकता है। जिसका श्रेय  हवाओं, पक्षियों और मधुमक्खियों द्वारा क्रॉस परागण के द्वारा होता है। ग्‍लूटन अकेला ऐसा तत्‍व नहीं है जो हमारी बॉडी के टिश्‍यूज को इमिटेट्स करता है, बल्कि स्‍वीट कॉर्न भी लगभग यही करती है।

जबकि सफेद रंग की भारतीय मक्‍की अमेरिकन स्‍वीट कॉर्न से ज्‍यादा हेल्‍दी है। पर वह अब चलन से बाहर हो गई है। और उसकी जगह अमेरिकन स्‍वीट कॉर्न ने ले ली है। इसलिए स्‍वीट कॉर्न को भारतीय मक्‍की जितना हेल्‍दी समझने की गलती न करें।

वजह बहुत साधारण है कि यह आसानी से हर स्‍टोर, हर फूड जॉइंट पर आसानी से उपलब्‍ध है। इसलिए लोग पीली मक्‍की की बजाए इसी अमेरिकन स्‍वीट कॉर्न का सेवन कर रहे हैं। पर यह उसका हेल्‍दी विकल्‍प नहीं है।

is sweet corn healthy
अपनी इंडियन मक्‍की, स्‍वीट कॉर्न से ज्‍यादा हेल्‍दी है। चित्र: शटरस्टॉक

इसकी प्रजेंटेशन कुछ ज्‍यादा ही फैंसी और मुंह में पानी लाने वाली है। सिनेमाघरों, मॉल और सलाद में इसे बहुत सारे पिघले हुए मक्खन और चाट मसाला के साथ सर्व किया जाता है। जिससे हम इसकी तरफ लालायित होते हैं। पर यह मोटापा बढ़ाने का अच्‍छा साधन है। इसके अलावा इससे ब्‍लॉटिंग और सूजन भी हो सकती है।

अगर आपको यह बहुत ज्‍यादा पसंद है तो कभी-कभार इसका एक कप खा लेना काफी है। पर हम स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से आपको इसे न खाने की ही सलाह देंगे। क्‍योंकि आपको नहीं पता कि ये कहां से आती हैं और कैसे उत्‍पादित हो रही है।

तो जो लोग ग्‍लूटन से दूर रहना चाहते हैं और स्‍वीट कॉर्न खा रहे हैं, यह सोचकर कि हेल्‍दी विकल्‍प है, तो यकीनन वे गलती कर रहे हैं। वास्‍तव में सच्‍चाई यह नहीं है।

तब आपको क्‍या करना चाहिए?

आहार विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि आपको स्‍वीट कॉर्न की बजाए सफेद भारतीय मक्‍की को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। इसमें शुगर की तुलना में फाइबर अधिक है। जो आपके लिए ज्‍यादा स्‍वास्‍थ्‍यकर है। यह स्‍वीट कॉर्न की तुलना में आपकी डाइट में शामिल होने के लिए ज्‍यादा डिजर्व करती है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

संबंधि‍त सामग्री