फॉलो
वैलनेस
स्टोर

इम्युनिटी बढ़ाने वाले वह 4 कदम जो आप आज से ही उठा सकती हैं, जानते हैं एक नूट्रिशनिस्ट से

Published on:16 October 2020, 09:51am IST
कोविड-19 महामारी के बाद से एक ऐसी चीज है जिस पर सभी ध्यान दे रहे हैं, वह है इम्युनिटी! लेकिन इम्युनिटी बढ़ाने के लिए सिर्फ विटामिन सी खाना काफी नहीं, आइये जानते हैं क्या कहते हैं एक्सपर्ट।
विदुषी शुक्‍ला
  • 93 Likes
खसरे से बचने के लिए जरूरी है कि इम्‍युनिटी का ध्‍यान रखा जाए।चित्र: शटरस्टॉक

आप अपनी और अपने परिवार की इम्युनिटी को बढाने के लिए क्या करती हैं? अगर आपका जवाब है विटामिन सी के सप्लीमेंट्स लेना, तो हम आपको बता दें यह काफी नहीं है। सिर्फ कोविड-19 से बचने के लिए ही नहीं, अच्छी इम्युनिटी होना हर तरीके से महत्वपूर्ण है। शुक्र है कोरोना वायरस का, जिसने हमें अपनी सेहत का ध्यान रखना सिखाया है। और रही सही कसर हम पूरी कर देते हैं, यह बता कर कि आपको अपनी सेहत का ख्याल कैसे रखना है।

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए यह चार कारगर कदम उठाएं और आपको एक हफ्ते में ही फर्क नजर आएगा। ऐसा सिर्फ हम नहीं कहते, विश्व विख्यात डॉक्टर और नूट्रिशनिस्ट, और हाऊ नॉट टू डाई‘, ‘ हाऊ नॉट टू डाइटजैसी मशहूर वैज्ञानिक किताबों के लेखक डॉ माइकल ग्रेगर भी इन्हें मानते हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

1.हल्दी है सबसे ज्यादा फायदेमंद

जर्नल न्यूट्रिशन फैक्ट्सके फाउंडर डॉ ग्रेगर इम्युनिटी बढाने के लिए हल्दी को सबसे महत्वपूर्ण मानते हैं। हल्दी में ऐंटी बैक्टिरियल, ऐंटी वायरल, ऐंटी फंगल और ऐंटी इन्फ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं, जो वायरल संक्रमण, सूजन और पाचन संबंधी समस्याओं से बचाने में मददगार साबित होते हैं।

हल्दी आपको डबल फाइदा देगा। चित्र-शटरस्टॉक।

अगर आपको अपनी इम्यूनिटी बूस्ट करनी है तो आपको हर रोज हल्दी वाला दूध पीना चाहिए। पर इसके लिए बाजार में मिलने वाले हल्दी पाउडर की बजाए कच्ची हल्दी का इस्तेमाल करें तो और भी बेहतर होगा। इसके सेवन से स्लीप क्वालिटी भी बेहतर होती है। जब आपकी नींद पूरी होगी तो आपका शरीर अगले दिन के लिए बेहतर तरीके से तैयार हो पाएगा। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नाम का तत्व आपके पूरे शरीर को तनावमुक्त करने में मददगार होता है।

2.शाकाहारी भोजन को दें प्राथमिकता

हमारे देश में खानपान में बहुत भिन्नता है और शाकाहार और मांसाहार दोनों ही सामान्यतः खाया जाता है। लेकिन यह कोई नई बात नहीं है कि मांसाहार ही अक्सर इस तरह की बीमारियों के फैलने का जरिया होता है। अब चाहे वह बर्ड फ्लू हो या कोविड-19 इसमें कोई शक नहीं कि मांसाहार अवॉयड करना बीमारियों से दूर रखेगा।

शाकाहार स्वस्थ रहने के लिए ज्यादा बेहतर आहार है। चित्र : शटरस्टॉक

लेकिन यही कारण नहीं है कि डॉ ग्रेगर शाकाहार का समर्थन करते हैं। “प्लांट-बेस्ड भोजन सभी पोषक तत्वों से भरपूर होता है, बस ध्यान रखें आपको दिन भर में क्या क्या खाना है। हर दिन तीन तरह की दाल, दो तरह की बेरीज, एक फल, एक हरी सब्जी, अलसी या तिल और कोई एक व्होल ग्रेन अपने आहार में शामिल करें”, बताते हैं डॉ ग्रेगर।

3.जिंक भी है विटामिन सी जितना ही महत्वपूर्ण

पबमेड सेंट्रल में प्रकाशित स्टडी के अनुसार वैज्ञानिकों का मानना है कि जिंक वायरल बुखार और फ्लू के संक्रमण के समय और गम्भीरता को कम करता है और आप जल्दी रिकवर कर पाते हैं। जिंक के लिए व्होल ग्रेन, बीन्स और मेवे आपके दैनिक आहार का हिस्सा होने चाहिए। मसूर, राजमा, अखरोट, बादाम जिंक के महत्वपूर्ण स्रोत हैं।

4.मसालों को नियमित रूप से करें आहार में शामिल

मसाले जैसे दालचीनी, लौंग, काली मिर्च, हल्दी इत्यादि आपकी इम्युनिटी बढ़ाने में बहुत कारगर हैं।

दालचीनी दालचीनी में सिन्नामेलडीहाइड नामक कंपाउंड से आती है। इसके साथ ही दालचीनी में आयरन, विटामिन बी-6, मैग्नीशियम और कैल्शियम मौजूद होते हैं, जो दालचीनी के हेल्थ बेनेफिट्स बढाते हैं। दालचीनी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं।

दालचीनी का रोज़ाना सेवन आपको कई लाभ देता है. चित्र- शटर स्टॉक।

काली मिर्चकाली मिर्च न सिर्फ भोजन का स्वाढद बढ़ा देती है, बल्कि यह एंटी बैक्टीगरियल और एंटी इंफ्लामेटरी गुणों से भरा हुआ है। जिससे आप न सिर्फ कई तरह के इंफेक्शंन से बची रहती हैं, बल्कि यह घावों को जल्दी  भरकर सूजन दूर करने में भी मददगार है। यह विटामिन सी रिच है, जो स्वाभाविक रूप से इम्युघनिटी बढ़ाने के लिए जाना जाता है। साथ ही एक उत्कृष्ट एंटीबायोटिक के रूप में भी काम करता है।

यह भी देखे:पेट में मौजूद गुड बैक्टीरिया हैं आपकी सेहत की कुंजी, जानिए कौन से फूड हैं इसके लिए फायदेमंद

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।