खाना खाने के बाद सैर करनी चाहिए या लेटना चाहिए? यहां हैं सही पोस्ट मील रुटीन

Published on: 14 November 2021, 14:00 pm IST

खाने के बाद के रूटीन को लेकर अक्सर आप कन्फ्यूज़्ड रहते हैं। इसलिए हम बता रहें हैं कि पोस्ट ईटिंग फिटनेस के लिए आपको क्या करना चाहिए।

Post meal walk karna chahiye ya rest
जानिए खाने के बाद सैर करना चाहिए या लेटना। चित्र:शटरस्टॉक

कुछ लोग सलाह देते हैं कि दोपहर में खाना खाने के बाद कुछ देर आराम करना चाहिए ताकि भोजन अच्छी तरह पच सके। जबकि कुछ लोग खाना खाने के बाद पंद्रह मिनट वॉक की सलाह देते हैं। कन्फ्यूज हो गए न कि क्या करें? क्या सही है और क्या गलत? अरे रे, और ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि आपकी सारी कन्फ्यूजन दूर करने के लिए ही तो यहां हैं। तो आइए जानते हैं खाना खाने के बाद आपको असल में क्या करना चाहिए। 

वेट लॉस और फिटनेस के लिए आप हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज का पालन कारते हैं। लेकिन आपका फिटनेस गोल केवल कुछ घंटों के व्यायाम तक सीमित नहीं रह सकता। हेल्दी रहना एक समग्र जीवनशैली है, जिसका पालन आपको दिन भर करना होता है। सिर्फ दिन ही क्यों, आपके सोने का समय और तरीका भी इसमें शामिल है। खासतौर से आप खाना खाने के बाद आप क्या करते हैं, यह सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है।  

Heavy meal ke baad walking karni chahiye
हेवी मील के बाद हल्का वॉक अच्छा रहता है। चित्र:शटरस्टॉक

पोषक तत्वों की दैनिक जरूरतों को अपने आहार में शामिल करने के साथ आपको पोस्ट मील रूटीन (Post meal routine) का भी ख्याल रखना चाहिए। जी हां, इससे जुड़ी विभिन्न प्रकार की राय मिलती है। अगर आप भी खाने के बाद लेटना या टहलने के बीच परेशान हैं, तो हम आपकी दुविधा को दूर कर रहें हैं। हम बता रहें हैं खाने के बाद की जरूरी और हेल्दी ऐक्टिविटी। 

खाने के बाद सैर करना है फायदेमंद 

सैर करना एक लो इंटेंसिटी वर्कआउट है, जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। खाने के बाद अधिकतम लाभ प्राप्त करने और नुकसान से बचने के लिए आपको चलने की लंबाई और तीव्रता को ध्यान में रखना चाहिए।

शोध से पता चलता है कि खाने के बाद थोड़ी देर टहलने से व्यक्ति के ब्लड शुगर और प्रेशर, के स्तर को प्रबंधित करने में मदद मिलती है। शॉर्ट डिस्टेंस वॉकिंग से गैस और सूजन को कम किया जा सकता है। साथ ही यह नींद में सुधार कर सकता है और हृदय स्वास्थ्य को बढ़ा सकता है।

चलने के कई फायदे हैं, लेकिन खाने के बाद टहलने जाने के लाभों के सीमित प्रमाण हैं। आपको अपनी व्यक्तिगत परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही अपनी सैर करने की दूरी और गति को तय करना चाहिए। 

यहां हैं खाना खाने के बाद सैर करने के संभावित स्वास्थ्य-लाभ

1. गैस और ब्लोटिंग को कम करता है

2020 के एक अध्ययन के अनुसार, खाने के बाद सैर करने से अपच से पीड़ित लोगों में गैस और बदहजमी जैसे लक्षणों में सुधार होता है। अध्ययन का निष्कर्ष बताता है कि यदि आपकी वॉकिंग स्टेप 9500 के आस पास होती हैं, तो आपके लक्षणों में 50% तक कमी आ सकती हैं। शोधकर्ताओं का सुझाव है कि जैसे-जैसे शरीर चलता है, यह पाचन तंत्र को उत्तेजित करता है। जो भोजन के डाइजेस्ट होने में सहायता करता है।

khane ke baad apne pet ka khayal rakhiye
खाने के बाद आपको अपने पेट का अधिक ख्याल रखने की जरूरत है। चित्र-शटरस्टॉक।

एक जर्मन अध्ययन से पता चलता है कि भोजन के बाद चलने का मतलब है तेजी से गैस्ट्रिक खाली करना। यह तय करता है कि आपके पेट से होकर खाना कितनी जल्दी आपकी आंत तक पहुंचता है। खाने के बाद छोटी दूरी की सैर करने से यह पाचन को मजबूत और तेज करता है। 

2. ब्लड शुगर को नियंत्रित रखता है 

खाने के बाद आपका ब्लड शुगर स्वभाविक रूप से बढ़ जाता है। इसका कारण है आपके आहार में कार्बोहाइड्रेट का शामिल होना। यह रक्त शर्करा में अस्थायी वृद्धि करता है। जिस व्यक्ति को मधुमेह नहीं है, उसका शरीर इंसुलिन छोड़ता है। इंसुलिन रक्त शर्करा को कम करता है और स्तर को नियंत्रण में रखने में मदद करता है। खाने के बाद रक्त शर्करा को हेल्दी लेवल पर लाने के लिए सैर करना आवश्यक है। 

2018 के एक अध्ययन का निष्कर्ष बताता है कि भोजन के बाद थोड़ी देर टहलने से भोजन से पहले की गई सैर की तुलना में रक्त शर्करा का स्तर कम हो जाता है।

3. नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है 

किसी भी रूप में नियमित व्यायाम अनिद्रा को दूर करने में मदद कर सकता है। इस अभ्यास में खाने के बाद सैर करना भी शामिल है। रात के खाने के बाद आराम से टहलने जाने से नींद की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है। मध्यम मात्रा में एरोबिक गतिविधि करने से व्यक्ति को रात में गहरी नींद का अनुभव होता है। हालांकि, जोरदार व्यायाम उत्तेजक हो सकता है, और यह नींद में हस्तक्षेप कर सकता है।

4. मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है 

चलना मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने का एक संभावित तरीका है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह एड्रेनालाईन और कोर्टिसोल सहित तनाव हार्मोन को कम करता है।

जब आप सैर के लिए जाते हैं, तो आपका शरीर एंडोर्फिन छोड़ता है, जिसे हैप्पी हॉर्मोन के नाम से भी जाना जाता है। ये बेचैनी को कम करते हैं, मूड को बढ़ावा देते हैं, तनाव को कम करते हैं और विश्राम की भावनाओं को प्रेरित करते हैं। भोजन के बाद चलने से व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य में विशेष रूप से सुधार होता है। 

Walking aapke mental health ke liye faydemand hai
यह आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। चित्र:शटरस्टॉक

पर रुकिए इसके कुछ नुकसान भी हैं 

सैर करना अधिकांश लोगों के लिए एक सुरक्षित और स्वस्थ गतिविधि है। हालांकि, कुछ लोग अगर खाने के तुरंत बाद टहलने जाते हैं, तो उन्हें पेट में दर्द, थकान या बेचैनी का अनुभव होता है। यह तब होता है जब पेट में भोजन इधर-उधर हो जाता है, जिससे पाचन बाधित होता है। यदि किसी ने भारी भोजन किया है, तो उन्हें चलने से पहले थोड़ा इंतजार करना चाहिए। 

इंतजार करने का समय व्यक्ति और उनके भोजन के आकार पर निर्भर करता है। चूंकि प्रत्येक व्यक्ति का पाचन अलग होता है। उन्हें इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि वे भोजन के बाद कैसा महसूस करते हैं, और जानें कि उनके लिए सबसे अच्छा क्या है। 

खाने के बाद तुरंत सोना है अनहेल्दी

लंच या डिनर के बाद लेटना या सो जाना एक गलत आदत है। ऐसा करने से आपको एसिड रिफ्लक्स की परेशानी हो सकती है। यह सीने में जलन, खट्टे डकार, बेचैनी और कड़वा स्वाद का कारण बन सकता है। यह परेशानी और बढ़ सकती है यदि आपने मसालेदार या ऑयली भोजन किया है। 

Post meal sona unhealthy hai
खाने के बाद तुरंत सोना अनहेल्दी होता है। चित्र:शटरस्टॉक

तो लेडीज, क्या आप पोस्ट मील वॉकिंग के लिए तैयार हैं? खाने के बाद अपने आलस्य को दूर करें और थोड़ी दूर सैर करने निकलें!

यह भी पढ़ें: आटा मोमोज़ की ये हेल्दी ट्रीट है बच्चों के लिए खास, नोट कीजिए ईजी टू कुक रेसिपी

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें