सर्दियों में गुड़ और सोंठ के कॉन्बिनेशन से बनाएं फायदेमंद और स्वादिष्ट लड्डू

Published on: 2 December 2021, 20:00 pm IST

सर्दियों का मौसम यानी हेल्दी लड्डुओं का मौसम। इसी श्रृंखला में आज आपके लिए पेश हैं गुड़ और सोंठ के लड्डू।

Sonth jaggery ladoo
गुड़ और सोंठ दोनों ही तासीर में गर्म होती है। चित्र : शटरस्टॉक

सर्दियों का मौसम आ चुका है, ऐसे में शरीर को गर्म रखने के लिए मां कई देसी उपाय आजमाती हैं। इन्हीं में से एक है गुड और सोंठ के लड्डू (Jaggery and sonth ladoo recipe)। असल में इसमें इस्तेमाल होने वाली दोनाें मुख्य सामग्री गुड़ और सोंठ दोनों ही तासीर में गर्म होती हैं। इसलिए इन्हें प्रसव के बाद नई मां को भी खिलाया जाता है। जिससे उन्हें रिकवरी में मदद मिल सके। 

आयुर्वेद के अनुसार गुड़ (Jaggery)  और सोंठ (Sonth) दोनों ही आपको सर्दियों में गर्म रहने में मदद करते हैं। साथ ही ये आपको कई मौसमी बीमारियों को दूर रखने के काम आती हैं। बस शर्त यह है कि इनका सेवन नियंत्रित मात्रा में करना चाहिए। आज हम आपको इन लड्डुओं के ऐसे फायदे बताने जा रहे हैं, जिसे जानने के बाद आप इन्हें अपने आहार में शामिल करने में जरा भी वक्त नहीं लगाएंगे। 

gud south ke laddu
यह लड्डू प्रसव के बाद कमजोरी को दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद होते है। चित्र-शटरस्टॉक.

चलिए जानते हैं गुड़ और सोंठ के लड्डुओं के फायदे

1 इम्युनिटी बूस्ट करते हैं गुड़ सोंठ के लड्डू 

सूखी हुई अदरक (Dry ginger powder) को सोंठ (Sonth) कहा जाता है। आयुर्वेद में सोंठ की तुलना दवा से की गई है, क्योंकि इसमें एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) गुण होते हैं। जो हमारी इम्यूनिटी बढ़ाने का काम करते हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान तो यह और भी जरूरी हो गया है। 

2 डिलीवरी के बाद दूध के उत्पादन को बढ़ाते हैं ये लड्डू

यह लड्डू प्रसव के बाद कमजोरी को दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। साथ ही ये  स्तन में दूध का उत्पादन बढ़ाने का काम करते हैं। सर्दियों में मां के लिए इसका सेवन करना बेहद लाभदायक होता है। इनमें आयरन, कैल्शियम, विटामिन और मिनरल्स होने के साथ-साथ उच्च मात्रा में यानी 200-300 तक कैलोरी होती हैं। इस वजह से ड‍िलीवरी के बाद इनका सेवन करना अच्‍छा होता है।

3 सर्दी की समस्याओं से दिलाते हैं छुटकारा 

इस मौसम में कई प्रकार की समस्याएं हमें घेर लेती हैं, जिसमें नाक बंद होना और मौसमी जकड़न एक आम बात है। इन सभी समस्याओं में सोंठ के लड्डू आपके लिए फायदेमंद होते हैं। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इन लड्डुओं को खाने के बाद गर्म पानी के सेवन से सर्दी और फ्लू से तुरंत राहत मिल सकती है।

इतने सारे फायदे जानने के बाद यकीनन आप भी इन्हें बनाना चाहेंगी। तो जल्दी से नोट कर लीजिए रेसिपी 

इसके लिए आपको चाहिए 

  1. 25 ग्राम सोंठ
  2. 250 ग्राम गुड़
  3. 50 ग्राम गोंद
  4. कद्दूकस किया हुआ नारियल
  5. दो चम्मच खसखस
  6. दो चम्मच हल्दी पाउडर
  7. पिस्ता और काजू
  8. 50 ग्राम देसी घी

यहां हैं गुड़-सोंठ के लड्डुओं की रेसिपी 

  1. सबसे पहले गोंद को तोड़कर बादाम के साथ पीस लीजिए। अब एक कड़ाही में घी गरम कीजिए और गोंद को धीमी गैस पर भून लीजिए।
  2. जब तक गोंद भुन रहा है, तब तक काजू पिस्ता को बारीक बारीक काट लें।
  3. बचे हुए घी में गुड़ मिलाएं और लगातार चलाते रहें। जब तक वह पूरी तरह से पिघल न जाए।  गुड़ को भी अलग प्लेट में निकाल लें।
  4. अब कढ़ाही में घी डालकर काजू गुलाबी होने तक तले और खसखस को भी उसी में शामिल कर दें। अब गुड़ और सोंठ दोनों को मिलाएं।
  5. जब भुना हुआ गोंद ठंडा हो जाए तो उसे प्लेट में ही बेलन की सहायता से पीस लीजिए।
  6. पिघले गुड़ में, बादाम पाउडर, नारियल और पिस्ता, काजू,खसखस, गोंद डालकर सारी चीजें को अच्छी तरह मिलने तक मिलाएं। अब कढ़ाही को गैस से उतार लीजिए। हल्के गर्म मिश्रण से ही लड्डू बांध लीजिए।
  7. ध्यान रहे कि लड्डू बंधने के बाद फौरन ही उसका सेवन न करें उसे थोड़ी देर हवा में रखे रहने दें। तो बस लीजिए आपके लड्डू तैयार हैं। इन्हें एयर टाइट कंटेनर में आप एक से दो महीने तक स्टोर कर सकती हैं।

यह भी पढ़े : क्या होता है सेहत पर असर जब आप अंकुरित आलू या लहसुन का सेवन करते हैं

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें