वैलनेस
स्टोर

सिट, स्लो और साइलेंस, वजन कम करने के लिए जानिए कैसे काम करते हैं रुजुता दिवेकर के ये 3 नियम

Published on:2 July 2021, 09:00am IST
सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर को उनके हेल्थ टिप्स के लिए जाना जाता है। इस बार, उन्होंने पोर्शन साइज़ के महत्व को समझाया है और बताया कि कैसे शरीर के चयापचय को बनाए रखने के लिए किसी को भी भूखा नहीं रहना चाहिए। उन्होंने तृप्ति बनाए रखने के लिए कुछ सुझाव भी साझा किए हैं!
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
स्वस्थ तरह से वज़न घटाने के लिए अपनाएं ये रूल्स. चित्र : शटरस्टॉक

वजन कम करना ज्यादातर लोगों का सपना होता है, और वे इसे हासिल करने के लिए संघर्ष करते हैं। हालांकि हर कोई पौष्टिक आहार खाने और व्यायाम करने जैसे बुनियादी नियमों को जानता है, लेकिन फैट को कम करने के लिए और भी बहुत कुछ जरूरी है।

यह समझना भी महत्वपूर्ण है कि भूखा रहना किसी भी तरह से मदद नहीं करता। यह केवल समस्याओं का कारण बनता है। सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने भी इसी बात पर बार-बार जोर दिया है। वे हमेशा समग्र जीवन शैली की प्रबल समर्थक रही हैं, और उनका मानना ​​है कि देसी खानपान सबसे सही है!

उन्होंने हमें फिर से घी और परांठे से प्यार करना सिखाया है, और इसके लिए हम उनके आभारी रहेंगे।

इस बार रुजुता ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट शेयर किया है, जिसमें बताया गया है कि कितना खाना खाना चाहिए। जबकि हम अक्सर इस बारे में बात करते हैं कि क्या खाना चाहिए और कितनी बार खाना चाहिए, खाने की मात्रा को काफी हद तक नजरअंदाज कर दिया जाता है। बिगनर्स के लिए, पोर्शन साइज़ कंट्रोल करना एक बहुत बड़ा कारक है जो स्वस्थ वजन घटाने में योगदान देता है, लेकिन तभी जब सही तरीके से पालन किया जाता है।

रुजुता दिवेकर की बताई टिप्स अपनाएं। चित्र : शटरस्टॉक

उन्होंने अपना वीडियो साझा किया है, जहां वह बता रही हैं कि हम में से अधिकांश अपने फिटनेस लक्ष्यों से कैसे भटक जाते हैं, क्योंकि हम कम खाते हैं। वे कहती हैं “हम सभी खाना कम करने के लिए पागल हैं, जैसे कि यह स्वास्थ्य, कल्याण और लंबे जीवन का सबसे छोटा मार्ग है। लेकिन ऐसा नहीं है – इसका मतलब यह नहीं है कि अगर आप कम खाते हैं, तो आप खुश और शांति से रहने वाले हैं।”

इसी वजह से लोग आधी रात को चॉकलेट, चिप्स और बिस्कुट जैसे सभी प्रकार के जंक की तलाश में रहते हैं। यह न केवल आपकी फिटनेस यात्रा में बाधा उत्पन्न करता है, बल्कि आपका वज़न बढ़ाता है।

वह आगे कहती हैं “जब आप बहुत छोटे पोर्शन साइज़ खाने की कोशिश करती हैं, तो उपचय कम हो जाएगा। जब उपचय कम हो जाता है, तो अपचय बढ़ जाता है। इसी वजह से आप कमज़ोर और मोटे दिखाई देने लगते हैं।”

उनकी पोस्ट :

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

 

तो समाधान क्या है?

रुजुता कहती हैं – भूख और तृप्ति दो हॉर्मोन अर्थात् घ्रेलिन और लेप्टिन द्वारा संचालित होती है। इसलिए, हमारे पास भूख को समाप्त करने की क्षमता होती है।”

इस संबंध में, उन्होंने भूख और तृप्ति के संकेतों को तेज करने के लिए नियम साझा किए हैं।

रुजुता 3S का पालन करने में विश्वास करती है – सिट, स्लो और साइलेंस (sit, slow, and silence)। वे लोगों को आदर्श रूप से खाने के लिए फर्श पर या किसी निश्चित स्थान पर बैठने की सलाह देती हैं।

दूसरा टिप खाने को धीरे-धीरे चबाना है। अधिकांश समय, हम कई कार्यों को टाल देते हैं और आवश्यकता से अधिक खा लेते हैं। विचार यह है कि वापस बैठें और चबाने के लिए समय निकालें।

वे कहती हैं कि पूरी तरह से मौन रहकर भोजन करना आवश्यक है। इसका मतलब है कि भोजन करते समय कोई गैजेट नही चलने चाहिए और बात भी नहीं करनी चाहिए। अपनी सभी इंद्रियों को अपने भोजन पर केंद्रित करना महत्वपूर्ण है।

तो लेडीज, संपूर्ण आहार लेना शुरू करें और फ्रीक्वेंसी बढाएं!

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।