वैलनेस
स्टोर

जानिए क्‍यों आपको विशेषज्ञ की सलाह के बिना नहीं करना चाहिए जायफल का सेवन

Updated on: 6 January 2021, 18:31pm IST
भारतीय मसाले गुणों की खान हैं। ऐसा ही एक खास मसाला है जायफल, पर बिना डॉक्‍टरी सलाह के इसका सेवन करना आपके लिए जोखिम भरा भी हो सकता है।
योगिता यादव
  • 93 Likes
जायफल एक खुशबूदार हेल्‍दी मसाला है। चित्र: शटरस्‍टॉक

जायफल गुणों से भरपूर है। सेहतमंद जीवन जीने के लिए आप इसे कई तरह से अपने आहार में शामिल करते हैं। यह एक बेहतरीन पेन किलर तो है ही, कई गंभीर रोगों के उपचार में भी काम आता है। पर असंयमित मात्रा में लगातार जायफल का सेवन आपके शारीरिक और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक हो सकता है।

जायफल जहां एक तरफ गुणों की खान है, वहीं ऐसा भी माना जाता है कि जायफल का सेवन सेहत संबंधी कई जोखिम भी पैदा कर सकता है। एक खुशबूदार मसाला जो आपको दर्द से राहत दिलाता है, वह कब सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है, यह जानने के लिए हमने फॉर्टिस हॉस्पिटल, वसंत कुंज की एचओडी क्लिनिकल न्‍यूट्रीशनिस्‍ट एंड डायटिक्‍स सीमा सिंह से बात की। उन्‍होंने जायफल के बारे में कुछ जरूरी बातें हमें बताईं।

गुणों की खान है जायफल

जायफल आपको शारीरिक पीड़ा से राहत दिलाता है, अनिद्रा दूर करता है, प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाने के साथ-साथ कैंसर-रोधी भी है। खासतौर से ल्‍युकीमिया से बचाव करता है। इसके अलावा, ओरल हेल्‍थ और अन्‍य कई विकारों में भी यह उपयोगी है।

कैविटीज दूर करता है जायफल

जायफल का इस्‍तेमाल बच्‍चों के दूध के दांत में कैविटीज़ होने पर तथा अन्‍य कई स्थितियों में किया जाता है। खानपान में, जायफल का इस्‍तेमाल मसाले के तौर पर और फ्लेवर के लिए किया जाता है।

सौंदर्य प्रसाधनों में भी होता है इस्‍तेमाल

इसी तरह, मैन्‍यूफैक्‍चरिंग उद्योग में, साबुन और सौंदर्य प्रसाधनों में खुशबू के लिए जायफल का प्रयोग होता है।

मगर सीमित मात्रा से ज्‍यादा या लंबे समय तक जायफल का सेवन आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए नुकसानदायक साबि‍त हो सकता है।

जायफल असल में गुणों की खान है। चित्र: शटरस्‍टॉक
जायफल असल में गुणों की खान है। चित्र: शटरस्‍टॉक

फॉर्टिस हॉस्पिटल, वसंत कुंज में एचओडी क्लिनिकल न्‍यूट्रीशनिस्‍ट एंड डायटिक्‍स सीमा सिंह कहती हैं, “खानपान में जायफल का इस्‍तेमाल जिस मात्रा में होता है, वह सुरक्षित स्‍तर माना जाता है। लेकिन अधिक मात्रा में और लंबी अवधि के लिए इसका सेवन संभवत: असुरक्षित हो सकता है।“

क्‍यों नहीं करना चाहिए बिना विशेषज्ञ परामर्श के जायफल का सेवन

हो सकती है भ्रम की स्थिति

प्रतिदिन 120 मिग्रा या अधिक मात्रा में जायफल का लंबे समय तक सेवन करने से व्‍यक्ति भ्रमित अवस्‍था (hallucinations ) में जा सकता है और अन्‍य कई मानसिक प्रभाव भी पड़ सकता है।

और भी हैं नुकसान

अधिक मात्रा में जायफल का सेवन करने वाले लोगों को मितली आना, मुंह सूखना, चक्‍कर आना, अनियमित हृदय गति, घबराहट और भ्रम का शिकार होना जैसी समस्‍याएं पेश आयी हैं। कई बार यह घातक भी हो सकता है।

गर्भावस्‍था में हो सकता है खतरनाक

गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली माताओं के मामले में, खानपान में मौजूद मात्रा से कहीं अधिक मात्रा में जायफल का सेवन संभवत: असुरक्षित हो सकता है। इसकी वजह से गर्भपात या जन्‍मजात विकार भी हो सकते हैं।

गर्भावस्‍था में जायफल का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
गर्भावस्‍था में जायफल का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

खानपान में मौजूद मात्रा से अधिक जायफल का सेवन करने से स्‍तनपान कराने वाली माताओं के मामले में यह सुरक्षित होता है या नहीं, इस बारे में कोई खास भरोसेमंद जानकारी नहीं है। इसलिए बेहतर यही है कि सुरक्षित रहें और उतना ही सेवन करें जितना भोजन में आमतौर पर मौजूद मात्रा होती है।

कुछ दवाओं के साथ इसका सेवन हो सकता है नुकसानदायक

आरंभिक शोध से ये संकेत मिले हैं कि अधिक मात्रा में जायफल का सेवन पुरुषों में प्रजनन क्षमता कम हो सकती है। लिहाज़ा, जो पुरुष बच्‍चा चाहते हैं उन्‍हें जायफल लेने से बचना चाहिए।

सीमा सिंह सुझाव दती हैं कि लिवर द्वारा जिन दवाओं की प्रकृति में बदलाव होता है उनके साथ जायफल का सेवन शरीर में कई तरह के असर पैदा कर सकता है और इसके साइड इफेक्‍ट भी होते हैं।

इसलिए यदि आप ऐसी दवाओं का सेवन कर रही हैं जिनमें लिवर द्वारा बदलाव होता है तो जायफल लेने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह अवश्‍यक कर लें।

कुछ दवाओं के साथ जायफल का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक
कुछ दवाओं के साथ जायफल का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

साथ ही वे यह भी कहती हैं कि जायफल को 2 सप्‍ताह से अधिक अवधि के लिए नहीं लेना चाहिए क्‍योंकि यह गैस्‍ट्राइटिस या एसिडिटी को बढ़ाता है।

जायफल को अपनी दैनिक खुराक का हिस्‍सा बनाने से पहले, अपने डॉक्‍टर से अवश्‍य बात करें। गलती से भी जायफल की अधिक मात्रा न लें, क्‍योंकि यह आपके शरीर में विषाक्‍तता बढ़ा सकती है।

तो लेडीज, याद रखें कि खाना पकाते समय कम मात्रा में जायफल का प्रयोग करना पूरी तरह से सुरक्षित होता है। इसलिए, जायफल युक्‍त एग्‍नॉग या स्‍पाइस्‍ड केक का पूरा लुत्‍फ लें – लेकिन सीमित मात्रा में ही सेवन करें।

यह भी पढ़ें – एक्सपर्ट के सुझाए ये 8 आहार आपके दिमाग को स्‍वस्‍थ और तेज बनाए रखने में करेंगे मदद

योगिता यादव योगिता यादव

पानी की दीवानी हूं और खुद से प्‍यार है। प्‍यार और पानी ही जिंदगी के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी हैं।