क्रिसमस को बनाए वेट गेन फ्री, ट्राई करें ये टेस्टी और हेल्दी एगलेस केक रेसिपी

क्रिसमस पर पार्टी करनी है पर आप डर रही है कि कहीं आप जंक फूड या ज्यादा मिठाईयां न खा ले जिससे आपका वेट गेन हो जाए, तो घबराएं नही हम आपके लिए लेकर आए है टेस्टी और हेल्दी केक की रेसिपी जिसे खाने के लिए आपको एक बार भी नहीं सोचना पड़ेगा।

healthy cake recipe
क्रिसमस पार्टी के लिए ट्राई करें ये हेल्दी एग्लेस रेसिपी। चित्र : अडोबी स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 17 December 2022, 18:30 pm IST
  • 145

क्रिसमस बस अब कुछ ही दिन दूर है। सभी जगह क्रिसमस की तैयारियां तेजी से चल रही है। बाजारों में अलग-अलग तरह के केक मिल रहे है। लेकिन कुछ लोग अपनी हेल्थ के प्रति बहुत सचेत होते है इसलिए इस तरह बाजार में मिलने वाले केक या मिठाइयों को खाना पसंद नही करते है। आमतौर पर बाजार में मिलने वाले क्रिसमस केक में ज्यादा मात्रा में फैट, शुगर और कैलोरी होती है जो बहुत अनहेल्दी होता है। हम सब जानते है कि केक में शुगर की मात्रा अधिक होती है, और यह उन मुख्य सामग्रियों में से एक है जो इसे अनहेल्दी बनाता है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन महिलाओं के लिए एक दिन में 100 कैलोरी और पुरुषों के लिए 150 कैलोरी से अधिक चीनी शामिल करने की सलाह नहीं देता है। सफेद केक के एक टुकड़े में 26 ग्राम चीनी होती है, और एंजेल-फूड केक में लगभग 15 ग्राम। प्रत्येक ग्राम चीनी में चार कैलोरी होती है, इसलिए बिना फ्रॉस्टिंग के सफेद केक का एक टुकड़ा महिलाओं को चीनी की अनुशंसित दैनिक सीमा से अधिक कर देता है।

आज हम आपके साथ जो रेसिपी शेयर करने जा रहे है उसमें गेहूं का आटा, गुड़, दही, दूध और बादाम का इस्तेमाल करके बनाने वाले है जिसे आप बिना कैलोरी की चिंता किए बगैर खा सकते है। तो चलिए आपको बताते है इस केक को बनाने की विधि और सामाग्री।

सामग्री

2 कप (570 ग्राम) दही
1 छोटा चम्मच (3 ग्राम) बेकिंग सोडा
3 कप (360 ग्राम) गेहूं का आटा
2 छोटे चम्मच (8 ग्राम) बेकिंग पाउडर
1 + ½ कप (300 ग्राम) गुड़
1 कप (240 मिली) वनस्पति तेल
1 चम्मच (5 मिली) वेनिला
½ कप (120 मिली) दूध
½ कप (50 ग्राम) कटे हुए बादाम

इस तरह बनाए हेल्दी केक

  • एक 8 इंच के सर्कुलर पैन को तेल से ग्रीस करें और इसे पार्चमेंट पेपर से लाइन करें।
  • एक बड़े बाउल में दही और बेकिंग सोडा डालें। इसे अच्छे से मिलाएं और 5 मिनट के लिए अलग रख दें।
  • मिश्रण झागदार हो जाएगा और आकार में लगभग दोगुना हो जाएगा। एक दूसरे बर्तन में गेहूं का आटा और बेकिंग पाउडर छान कर अलग रख दें।
  • बाकी सामग्री के लिए, गुड़ और वनस्पति तेल मिलाएं और दोनों को तब तक फेंटें जब तक सब कुछ अच्छी तरह से मिल न जाए।
  • अब दही और बेकिंग सोडा का मिश्रण डालें और मिलाएँ। वेनिला और दूध में डालें और उसे भी मिलाएं।
  • सूखी सामग्री को गीली सामग्री के साथ मिलाएं और बैटर को एक साथ लाएं।
  • बैटर को तैयार बेकिंग पैन में डालें और ऊपर से कटे हुए बादाम छिड़कें, आप इसमें अपनी पसंद के कोई भी ड्राइ फ्रुट डाल सकते है। 180C पर 45-50 मिनट के लिए बेक करें।

यह भी पढ़े – क्या कुकिंग के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है बादाम का तेल? आइए जानते हैं इसके बारे में सब कुछ

केक में इस्तेमाल की गई सामाग्री के फायदे

jaggery benefits
इस रेसेपी में गुड़ का इस्तोेमाल किया गया है। चित्र : शटरस्टॉक

गुड़

गुड़ जल्दी पाचन में मदद करता है। गुड़ शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर खून को भी साफ करने में मदद करता है। गुड़ इलेक्ट्रोलाइट्स के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता हैं, जिससे मेटाबॉलिज्म भी संतुलित रहता है।

इसमें एंटीऑक्सिडेंट और जिंक और सेलेनियम जैसे आवश्यक खनिज होते हैं, जो संक्रमण सहनशीलता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। गुड़ खून में हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है। इसलिए, यह आपकी इम्युनिटी के लिए बहुत अच्छा है।

साथ ही गुड़ में पोटैशियम और सोडियम जैसे आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जो शरीर में एसिड के उचित संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं, जिससे रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित किया जा सकता है। उच्च रक्तचाप की समस्या वाले लोगों को सकारात्मक प्रभाव पाने के लिए नियमित रूप से इसका सेवन करना चाहिए।

dahi ke fayde

दही में लैक्टोबैसिलस और बिफीडोबैक्टीरिया जैसे प्रोबायोटिक्स या लाइव बैक्टीरिया भी होते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

दही

दही का सेवन वजन घटाने के लिए अच्छा होता है। यह स्टेरॉयड हार्मोन या कोर्टिसोल के विकास को रोकता है, जिससे मोटापे का खतरा नियंत्रित होता है।

दही में लैक्टोबैसिलस और बिफीडोबैक्टीरिया जैसे प्रोबायोटिक्स या लाइव बैक्टीरिया भी होते हैं। ये बैक्टीरिया पाचन तंत्र को मजबूत करते हैं और सूजन, जलन, पेचिश, कब्ज और दस्त जैसी स्थितियों को कम करते हैं।

बादाम

बादाम आपके शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जैसे मैग्नीशियम, विटामिन ई और डाइट्री फाइबर। बादाम की एक सर्विंग, पौष्टिक और पेट भरने वाला स्नैक है।

अमेरिकन डायटेटिक एसोसिएशन के एक हालिया अध्ययन के अनुसार, बादाम का सेवन आपके लाल रक्त कोशिकाओं में विटामिन ई के स्तर को बढ़ाने के काम करता है और कोलेस्ट्रॉल होने के जोखिम को भी कम करता है। इस प्रकार प्रतिदिन मुट्ठी भर बादाम खाने से आपके रक्तप्रवाह में अधिक विटामिन ई उत्पन्न हो सकता है और यह आपको कोलेस्ट्रॉल के जोखिम से भी बचा सकता है।

यह भी पढ़े –  आपकी सेहत के लिए कमाल कर सकते हैं मटर के ये छोटे दाने, यहां जानें इसकी 2 लाजवाब रेसिपी

  • 145
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें