कैंसर से जंग जीतने में सही आहार कर सकता है आपकी मदद, जानिए कैसे

Published on: 12 October 2021, 14:00 pm IST

कैंसर एक खतरनाक बीमारी है। पर क्या आप जानती हैं कि कुछ आहार जहां आपको इसका शिकार बना सकते हैं, वहीं कुछ आहार ऐसे भी हैं जो कैंसर से बचने में आपकी मदद कर सकते हैं।

anti cancer diet
जानिए कैसे सही आहार कैंसर से जंग जीतने में आपकी मदद कर सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

कैंसर दुनिया भर में मृत्यु के प्रमुख कारणों में से एक है। लेकिन अध्ययनों से पता चलता है कि साधारण जीवनशैली में बदलाव, जैसे स्वस्थ आहार का पालन करना, सभी प्रकार के कैंसर के 30-50% जोखिम को कम कर सकता है।

इसके अलावा, माना जाता है कि पोषण कैंसर के इलाज और उसका मुकाबला करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हालांकि कैंसर का इलाज करने के लिए कोई आहार सिद्ध नहीं हुआ है। मगर लक्षणों को कम करने और जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए उचित पोषण महत्वपूर्ण है।

क्यों ज़रूरी है कैंसर में सही डाइट लेना

स्टैंडफोर्ड हेल्थ केयर के अनुसार कैंसर के इलाज के दौरान और बाद में उचित पोषण बहुत महत्वपूर्ण है। इस तरह के उपचार में रेडिएशन थेरेपी, कीमोथेरेपी, हार्मोन थेरेपी, इम्यूनोथेरेपी या किसी तरह की सर्जरी शामिल हो सकती है। इन प्रक्रियाओं और दवाओं के कारण बहुत से लोग अपनी भूख और ऊर्जा खो सकते हैं, जिससे उन्हें कुपोषण का खतरा बढ़ जाता है।

cancer diet
सही डाइट लेना है ज़रूरी। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपकी यूजुअल डाइट से कैंसर की डाइट बहुत अलग हो सकती है। इसका मुख्य लक्ष्य आपका वज़न मेंटेन करना है। वजन बनाए रखने के लिए, ट्रीटमेंट झेलने के लिए, और सभी नई चुनौतियों से निपटने के लिए, आपको उच्च कैलोरी और उच्च प्रोटीन लेने की ज़रूरत है। सही डाइट आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को कैंसर से लड़ने में मदद करेगी।

जानिए क्या हो सकती है आपकी कैंसर डाइट

हवार्ड हेल्थ के अनुसार कोई भी भोजन कैंसर से रक्षा नहीं कर सकता है। हालांकि, फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, मसाले, स्वस्थ वसा, ताजी मछली और उच्च गुणवत्ता वाली डेयरी जैसे विविध संपूर्ण खाद्य पदार्थों से भरा आहार खाने से कैंसर का खतरा कम हो सकता है।

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन के अनुसार – दूध, दही, पनीर, ताज़े फल सब्जियां कैंसर रोगियों के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। साथ ही, आवश्यक पोषक तत्व प्राप्त करें – इनमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा और पानी शामिल हैं।

कैंसर ट्रीटमेंट के दौरान इन बातों का रखें ख्याल

डॉक्टर की सलाह से हर काम करें

कैंसर के दुष्प्रभाव और इसके उपचार से कभी-कभी खाना मुश्किल हो जाता है। इनमें घबराहट, उल्टी, स्वाद में बदलाव, भूख न लगना, निगलने में परेशानी, दस्त और कब्ज जैसे लक्षण शामिल हैं। यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो एक पंजीकृत आहार विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से बात करना महत्वपूर्ण है, जो इन लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है।

cancer diet
हमेशा डॉक्टर की सलाह से ही काम करें। चित्र : शटर स्टॉक।

सप्लीमेंट लेने से बचें

इसके अतिरिक्त, कैंसर वाले लोगों को विटामिन के साथ बहुत अधिक सपलीमेंट लेने से बचना चाहिए, क्योंकि वे एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं और बड़ी खुराक में लेने पर कीमोथेरेपी के साथ रिएक्ट कर सकते हैं।

बासी खाना या बाहर के बने हुए खाने से बचें

जिन लोगों का कैंसर ट्रीटमेंट चल रहा है उन्हें किसी भी तरह की बासी चीज़ें खाने से बचना चाहिए। उन्हें कभी भी रात का रखा हुआ खाना न खिलाएं। हमेशा ताज़े फल और सब्जियां ही खिलाएं। साथ ही, बाहर का खाना खाने से बचें।

जितना हो सके सक्रिय रहें

कैंसर झेलना आसान नहीं है, मगर जितना हो सके सक्रिय रहने की कोशिश करें। उदाहरण के लिए, रोजाना टहलें। यदि आप बहुत अधिक बैठते हैं या सोते हैं, तो शरीर में और ज़्यादा कमजोरी रहेगी।

यह भी पढ़ें : क्या साबूदाना खिचड़ी खाने से वजन बढ़ सकता है? आइए पता करते हैं

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें