Kidney Beans : प्रेगनेंसी, ब्रेस्टफीडिंग और बढ़ते बच्चों के लिए राजमा हैं बहुत खास, जानिए इनके फायदे

सेहत के लिए बहुत खास होती है प्रोटीन से भरपूर राजमा। प्रेगनेंट और ब्रेस्टफीडिंग महिलाओं के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। ये मां के साथ साथ बच्चों की सेहत को भी कई फायदे देता है।
सभी चित्र देखे sehat ke liye behad khas hai rajma
शाकाहारियों के लिए राजमा पोषक तत्वों का बेहतरीन स्रोत है। चित्र : अडोबी स्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 5 Feb 2024, 05:42 pm IST
  • 123

राजमा एक बेहद खास सुपरफूड है, जिसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसका सेवन शरीर के लिए तमाम रूप में फायदेमंद साबित हो सकता है। यह ब्रेस्टफीडिंग मदर्स और बच्चों की सेहत के लिए भी बेहद खास होते हैं। सालों से मेरी मम्मी नियमित रूप से राजमे का सेवन कर रही हैं, साथ ही वे बचपन में हमारी हेल्दी ग्रोथ के लिए इसे हमारी डाइट में भी शामिल किया करती थीं। मां से रजमे की गुणवत्ता के बारे में जानने के बाद मैने सोचा क्यों न इसे आपके साथ भी शेयर किया जाए। तो चलिए जानते हैं राजमा के कुछ महत्वपूर्ण फायदों से जुड़ी जरूरी जानकारी।

हमने राजमा के फायदों से जुड़ी जरूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए न्यूट्रीशनिस्ट और डाइटिशियन डॉली बालियां से बात की। तो चलिए जानते हैं राजमा के फायदों को लेकर क्या कहती हैं एक्सपर्ट।

जानें राजमा खाने के कुछ महत्वपूर्ण फायदे (Health benefits of kidney beans)

1. ब्रेस्टफीडिंग मदर्स के लिए हैं फायदेमंद

ब्रेस्टफीडिंग मदर्स के लिए राजमा एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं, साथ ही ये प्रोटीन का एक बेहतरीन स्रोत है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन की आवश्यकता होती है, इसकी आवश्यकता को पूरा करने में राजमा आपकी मदद कर सकता है।

breastfeeding
शिशु की सेहत के लिए जरूरी है ब्रेस्ट फीडिंग। चित्र- शटर स्टॉक

राजमा फाइटोकेमिकल और फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। इसे डाइट में शामिल करने से ब्रेस्टफीडिंग महिलाओं में न केवल दूध का उत्पादन बढ़ता है, बल्कि यह उनके बच्चे को भी जरूरी पोषण देता है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान राजमा का सेवन पूरी तरह से सुरक्षित होता है। अगर आप वीगन या शाकाहारी हैं, तो यह प्लांट बेस्ड न्यूट्रिशन का एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें: World Cancer Day पर जानिए क्या सच में ग्रिल्ड और स्मोक्ड फूड्स से बढ़ जाता है कैंसर का खतरा?

इसके फायदे यहीं तक सीमित नहीं हैं। यदि इसका सीमित मात्रा में सेवन किया जाए तो यह पाचन क्रिया में भी सुधार कर सकता है। यह हृदय आंतों की सेहत को भी बनाए रखता है। राजमा का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बेहद कम होता है, और ये ब्लड शुगर को रेगुलर करने में प्रभावी रूप से कार्य करता है। ब्रेस्टफीडिंग मदर्स को इन सभी फैक्टर्स का पूरा ध्यान रखना चाहिए।

2. बच्चों के हेल्दी ग्रोथ में मदद करे

राजमा प्रोटीन, फाइबर, प्लांट बेस्ड ओमेगा 3 फैटी एसिड और फोलेट जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। ग्रोइंग एज के बच्चों में अक्सर जिंक और आयरन की कमी पाई जाती है। ऐसे में राजमा आयरन और जिंक का एक बेहतरीन स्रोत है, इसलिए यह बच्चों की सेहत के लिए और ज्यादा खास माना जाता है। यदि आपका बच्चा 12 महीने से ऊपर है तो आप उन्हे राजमा दे सकती हैं।

हालांकि, इसका पूरा ध्यान रखें कि राजमा अच्छी तरह से पका हो। इसे बॉयल करें और अच्छे से मैश कर लें। अब आप अपने छोटे बच्चों को इसे दे सकती हैं। वहीं बड़े बच्चों की डाइट में राजमा शामिल करने के कई तरीके हैं, राजमा की सब्जी, राजमा रोल यहां तक की आप राजमा का सूप भी तैयार कर सकती हैं।

rajma ke fayde
जीवन में विभिन्‍न पड़ावों पर आपकी सेहत संबंधी जरूरतें बदलती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. प्रेगनेंट महिलाओं के लिए फायदेमंद है

प्रेगनेंसी में हीमोग्लोबिन को मेंटेन रखने के लिए बॉडी को अधिक मात्रा में आयरन की आवश्यकता होती है। राजमा में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है, जो प्रेगनेंसी के दौरान हीमोग्लोबिन को बढ़ाने में आपकी मदद कर सकता है। यदि किसी महिला में प्रेगनेंसी के दौरान आयरन की कमी है, तो उन्हें इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। इसके अलावा राजमा एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो प्रेगनेंसी में आपकी और बच्चे दोनों की त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

यह डाइटरी फाइबर का बेहतरीन स्रोत है, जो ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को सामान्य रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद अमीनो एसिड मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करती है। साथ ही साथ इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाती है, जिसकी की प्रेगनेंसी में आप बार-बार बीमार नहीं पड़ती। साथ ही आपको किसी प्रकार का इन्फेक्शन भी नहीं होता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

4. वेट मैनेजमेंट में मदद करे

राजमा में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जो शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करते हैं। साथ ही ये मसल्स बनाने में भी मदद करता है। इसके साथ ही राजमा फाइबर का एक बेहतरीन स्रोत है। इसके सेवन से आप लंबे समय तक संतुष्ट रहते हैं और आपको बार-बार भूख नहीं लगती। इससे आप ओवरइटिंग नहीं करती हैं और अनचाही कैलरी का इंटक भी सीमित रहता है। इसके साथ ही ये कई अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व प्रदान करती है, जिससे कि वेट लॉस जर्नी और ज्यादा आसान हो सकती है।

peas effects on blood sugar
राजमा ब्लड शुगर बढ़ने नहीं देता है। चित्र : शटरस्टॉक

5. ब्लड शुगर लेवल को रेगुलेट करे

राजमा एक बेहद खास सुपरफूड है, जिसकी ग्लाइसेमिक इंडेक्स काफी कम होती है। इस प्रकार इसका सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहद कारगर साबित हो सकता है। राजमा के सेवन से शुगर धीरे-धीरे रिलीज होता है, और ब्लड शुगर लेवल अचानक से नहीं बढ़ता। यदि आप प्रीडायबिटिक हैं, तो आपको भी अपनी डाइट में राजमा को जरूर शामिल करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: World Cancer Day पर जानिए क्या सच में ग्रिल्ड और स्मोक्ड फूड्स से बढ़ जाता है कैंसर का खतरा?

  • 123
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख