हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकती है आपकी रेगुलर ब्रेड, हम बता रहे हैं कैसे

Published on: 27 June 2022, 15:18 pm IST

ब्रेड का सेवन कम ही करें, क्योंकि यह न सिर्फ पेट की चर्बी बढ़ाती है, बल्कि हाई ब्लड प्रेशर के जोखिम का कारण भी बन सकती है।

Har roj bread khana unhealthy hai
हर रोज नाश्ते में ब्रेड खाना हानिकारक होता है। चित्र:शटरस्टॉक

हमें हर कोई कम नमक खाने की सलाह देता है, क्योंकि आगे चलकर यह हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकता है। मगर क्या आप जानती हैं कि आपकी दैनिक खपत का नमक सबसे ज्यादा कहां से आता है? इसका स्रोत है ब्रेड! जी हां, हर दिन खाई जाने वाली दाल और सब्जी से भी ज्यादा नमक लिए रहती है नाश्ते में खाई जाने वाली ब्रेड। आपके आहार में अधिकांश सोडियम उन खाद्य पदार्थों से आता है जिन्हें आप शायद सॉल्टी न समझें, जिसमें ब्रेड भी शामिल है। आइए समझते हैं क्या है ब्रेड और हाई ब्लड प्रेशर का कनैक्शन (does bread increase blood pressure)।

अमेरिकी स्वास्थ्य और मानव सेवा विभाग द्वारा 2013 और 2014 में एकत्र किए गए डेटा में सामने आया कि ब्रेड सोडियम के शीर्ष 10 स्रोतों में से एक है। एक सैंडविच पर ब्रेड के सिर्फ दो स्लाइस आपके अनुशंसित दैनिक सोडियम सेवन के एक चौथाई के बराबर हो सकते हैं।

आखिर क्यों होता है ब्रेड में इतना नमक?

ब्रेड बनाने के लिए उपयोग किए जाने वाले साबुत अनाज में सोडियम की मात्रा स्वाभाविक रूप से कम होती है। मगर इसमें प्रोसेस के दौरान नमक या सोडियम क्लोराइड मिलाया जाता है। नमक का उपयोग स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। यह खमीर को किण्वित करने के लिए भी आवश्यक है, जो ब्रेड के आटे को फ्लफी बनाता है।

असल में ब्रेड की शेल्फ लाइफ बढ़ाने या आटे की बनावट में सुधार करने के लिए डिज़ाइन किए गए कुछ एडिटिव्स में भी नमक हो सकता है। अधिकांश प्रकार की ब्रेड के एक स्लाइस में 100 से 172 मिलीग्राम सोडियम होता है।

एक दिन में एक व्यक्ति कितना नमक खाता है और कितना उसे खाना चाहिए

हार्वर्ड हेल्थ के अनुसार औसत वयस्क प्रतिदिन लगभग 3,400 मिलीग्राम सोडियम की खपत करता है, जो 2,300 मिलीग्राम के अनुशंसित दैनिक लक्ष्य से कहीं अधिक है। इसमें अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन और भी लो सोडियम इंटेक की सिफारिश करता है: प्रति दिन 1,500 मिलीग्राम से अधिक नहीं। विशेष रूप से उच्च रक्तचाप या हृदय रोग वाले लोगों के लिए।

bread ka sevan hanikarak hai
नाश्ते में ब्रैड का सेवन करना आपका बीपी बड़ा सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

हार्वर्ड हेल्थ के अनुसार यहां कुछ कॉमन ब्रेड हैं, जिनका सेवन हम आए दिन करते हैं, बिना यह जानें कि इनमें कितना ज़्यादा नमक हो सकता है। साथ ही, हाइ बीपी के मरीजों के लिए हम इसके अल्टर्नेट भी बताएंगे।

1. नॉर्मल ब्रेड

ब्रेड सामान्यत: नमकीन होती है। इसके एक स्लाइस में लगभग 100 से 200 मिलीग्राम सोडियम होता है। इसलिए इसका ज़्यादा सेवन हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकता है।

अल्टरनेटिव: नाश्ते के लिए टोस्ट के बजाय, सिर्फ एक चुटकी नमक के साथ एक कटोरी दलिया तैयार करें। जौ, ब्राउन राइस या क्विनोआ जैसे साबुत अनाज आप दिन भर में ले सकती हैं।

2. पिज्जा ब्रेड

पिज्जा की सभी आवश्यक सामग्री – क्रस्ट, सॉस और पनीर में बहुत अधिक नमक होता है। पेपरोनी या सॉसेज जैसी टॉपिंग्स को जोड़ने से और भी अधिक सोडियम जुड़ जाता है।

pizza bread
पिज्‍जा की ब्रेड खाना आपके पेट के लिए परेशानी बढ़ा सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अल्टरनेटिव: कम-सोडियम पिज्जा सॉस के साथ होलवीट, प्रीबेक्ड पिज्जा क्रस्ट और पार्ट-स्किम मोज़ेरेला या अन्य लाइट चीज़ के स्लाइस का उपयोग करके घर पर पिज्जा बनाएं। ऊपर से कटी हुई शिमला मिर्च, मशरूम, या अपनी पसंद की कोई भी सब्ज़ी डालें। पनीर के पिघलने तक 450°F पर बेक करें।

3. सैंडविच ब्रेड

पिज़्ज़ा की तरह, अधिकांश सैंडविच में सोडियम सामग्री बहुत ज़्यादा होती है।

अल्टरनेटिव: आप अपने सैंडविच को टमाटर, एवोकाडो और लेट्यूस जैसी सब्जियों के साथ बनाएं। पनीर को छोड़ दें और हमस डालें। या कटे हुए सेब या केले के साथ पीनट बटर ट्राई करें।

क्यों नहीं खानी चाहिए हाई बीपी वालों को ब्रेड?

समय के साथ, अत्यधिक नमक के सेवन से उच्च रक्तचाप (Hypertension) हो सकता है, जो रक्त वाहिकाओं को सख्त और संकरा कर देता है। इसकी वजह से प्रमुख अंगों में रक्त और ऑक्सीजन का प्रवाह कम हो जाता है। इसलिए हृदय पूरे शरीर में रक्त पंप करने की अधिक कोशिश करता है, जिससे रक्तचाप और बढ़ जाता है।

अनियंत्रित उच्च रक्तचाप धमनी की दीवारों को भी नुकसान पहुंचा सकता है, जो वसा जमा करना शुरू कर देता है, जिससे हृदय रोग और संभावित रूप से दिल का दौरा या स्ट्रोक हो सकता है।

यह भी पढ़ें : अपने एजिंग पेरेंट्स की डाइट में शामिल करें ये 6 सुपरफूड्स जो कर सकते हैं हाइपरटेंशन को कंट्रोल

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें