ऐप में पढ़ें

क्या दशहरे पर दूध जलेबी खाने की योजना है? तो एक आहार विशेषज्ञ से जानिए सेहत पर इसका प्रभाव

Published on:15 October 2021, 08:00am IST
दूध-जलेबी त्योहारों का ट्रेडिशनल कॉम्बो है। अगर आपको इसकी मिठास और कैलोरी से डर लगता है, तो हमारी आहार विशेषज्ञ आज आपका डर दूर करने वाली हैं।
khana hamesha guilt free hona chahiye
आहार विशेषज्ञ मानते हैं कि खाना हमेशा गिल्ट फ्री होना चाहिए। चित्र: शटरस्टॉक

दूध (Milk) और जलेबी (Jalebi) पूरे उत्तर भारत, गुजरात तथा महाराष्ट्र में बहुत ही पसंद की जाती है। खासतौर पर दशहरे (Dussehra) पर लोग इस पारंपरिक मिठाई का लुत्फ लेना चाहते हैं। कुरकुरी ताज़ा जलेबी और गर्मागर्म दूध (Doodh Jalebi benefits), अपने बेमिसाल स्वाद के कारण यह कॉम्बो सभी को आकर्षित करता है।

हम सभी इसे खाना पसंद करते हैं, पर डरते हैं इसकी मिठास से। कहीं वजन न बढ़ जाए। तो आइए इस दशहरे पर एक आहार विशेषज्ञ से जानें कि बस एक प्लेट दूध-जलेबी (Is Doodh Jalebi healthy) आपकी सेहत पर क्या असर डाल सकती है।

दशहरा और दूध-जलेबी का कॉम्बो 

नवरात्रि के लंबे उपवास के बाद ज्यादातर लोग दशहरे पर दूध-जलेबी खाना पसंद करते हैं। आप सभी ने दूध और जलेबी को स्वादिष्ट होने के कारण बहुत बार खाया होगा लेकिन क्या आप जानते है कि दूध और जलेबी खाने के और क्या फायदे हैं?

जी हां, दूध और जलेबी जहां स्वाद मे लाजवाब है वहीं इसके स्वास्थ्य संबंधी फायदे भी आपको हैरान कर देंगे क्योंकि ये स्वास्थ्य की दृष्टि से भी काफी फायदेमंद है।

आइए सबसे पहले जानते हैं जलेबी की 1 प्लेट में पाए जाने वाले पोषक तत्व 

कैलोरी- 220 kcal.
कार्बोहाइड्रेट- 28 gms.
वसा-  11 gms.
प्रोटीन- 2 gms.
कैल्शियम- 2.5 mg
पोटेशीयम- 18 mg
विटामिन ए- 103.5 mcg

अब जानिए एक गिलास या 100 ग्राम दूध में पाए जाने वाले पोषक तत्व

कैलोरी- 117 kcal
कार्बोहाइड्रेट- 5.0 gms
वसा- 8.8 gms
प्रोटीन- 4.3 gms.
कैल्शियम- 34.68 mg
फॉस्फोरस- 17 mg
विटामिन ए- 7 mcg

doodh ek sampoorn ahar hai
दूध एक संपूर्ण आहार है। चित्र : शटरस्टॉक।

सेहत के लिए भी फायदेमंद है यह कॉम्बो

किसी भी एनर्जी ड्रिंक, पार्टी पेग और कॉकटेल से बेहतर है दूध का सेवन करना। ये उत्सवों का पारंपरिक तरीका है, जो आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद है। दूध मे अच्छी मात्रा मे कैलोरी, प्रोटीन, कैल्शियम, फॉस्फोरस आदि पोषक तत्त्व पाए जाते है। आयुर्वेद मे भी कहा गया है क दूध का सेवन गर्म ही करना चाहिए। यदि गर्म दूध के साथ गर्म जलेबी भी हो, तो फिर तो बात ही अलग है।

मिठास भरी जलेबी और भी बहुत कुछ देती है 

जलेबी हम सभी को पसंद होती है, लेकिन बहुत से लोग वजन बढ़ जाने के डर से इसे नहीं खाते हैं। आयुर्वेद के अनुसार जलेबी वात और पित्त दोष को संतुलित करती है। जब इसे दूध के साथ खाया जाता है तो यह पोषक तत्वों का संतुलन बनाने में भी मदद करती है। तो आइये इससे होने वाले लाभ और पोषक तत्वों के बारे मे जानते हैं-

ताज़ा और पारंपरिक मिष्ठान्न दूध-जलेबी खाने से मिलने वाले लाभ

1.माइग्रेन से दिलाती है राहत 

यदि आपको रोज़ रोज़ सिर दर्द की समस्या है, खासकर माइग्रेन की तो सुबह नाश्ते में दूध-जलेबी खाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इससे आपको माइग्रेन में आराम मिल सकता है।

2. वज़न बढ़ाने में मददगार 

निश्चित रूप से यह कॉम्बो वजन बढ़ाने वाला है। यदि आपको अपना वज़न बढ़ाना है, तो देशी घी में बनी जलेबी को एक गिलास दूध के साथ हर रोज सुबह खाएं।

3.तनाव से राहत देती है 

यदि आपको किसी तरह का तनाव है, तो भी दूध-जलेबी आपको राहत दे सकती है। शोध भी मानते हैं कि मिठास हमें तनावमुक्त महसूस करवाती है। इसी तरह दूध-जलेबी खाने से आपको भी अपने तनाव से राहत मिल सकती है।  दूर हो जायेगा और आप रिलेक्स महसूस करोगे।

4. कमज़ोरी दूर कर लिबिडो बढ़ाती है 

दूध और जलेबी का साथ मे सेवन करने से शारीरिक कमज़ोरी भी दूर होती है। आप जानकर हैरान होंगी, लेकिन ये आपकी कामेच्छा यानी लिबिडो बढ़ाने में भी मददगार हो सकती है।

5. कम होता है त्वचा का रुखापन 

जिन लोगों की त्वचा मे रूखापन रहता है और एड़ियां फटने की समस्या होती है उन लोगों को भी दूध और जलेबी का सेवन करना चाहिए। इससे त्वचा अच्छी हो जाती है। इसके साथ ही जलेबी और दूध सामान्य दृष्टि को बनाये रखने मे सहायक हैं।

ye high calorie dessert hai, isliye limit me khayen
ये हाई कैलोरी डेज़र्ट है इसलिए नियंत्रित मात्रा में ही खाएं। चित्र: शटरस्टॉक

यह भी ध्यान रखें 

1 याद रखें कि किसी भी चीज को सीमित मात्रा में खाना ही सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है।2 जलेबी मैदे तथा चीनी से बनी होती है। इसलिए डायबिटीज के रोगियों को इससे परहेज करना चाहिए। जलेबी के सेवन से रक्त मे शर्करा बढ़ सकती है।
3 जो लोग अपना वज़न घटाना चाहते हैं, उन्हे इसका सेवन बहुत ही कम या फिर नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें – फेस्टिवल सीजन में मेरी मम्मी का पसंदीदा मसाला है काली मिर्च, क्या आप जानते हैं इसके फायदे

Dt. Anshika Srivastava Dt. Anshika Srivastava

Dt. Anshika Srivastava is Founder of Nutri Hub. Chief Clinical Nutrition Consultant.