जलजीरा : सेहत, स्‍वाद और पाचन का एक जबरदस्‍त फॉर्मूला, आइए जानते हैं इसके स्‍वास्‍थ्‍य लाभ और रेसिपी

Updated on: 25 April 2022, 22:40 pm IST

क्या आप जानती हैं कि इस टेस्टी पेय में मौजूद सामग्री आपके मेटाबॉलिज्म को बूस्‍ट कर वजन घटाने में भी मददगार हो सकती है।

jaljeera ke fayde
इस चिलचिलाती गर्मी में घर पर ही जलजीरा तैयार करें। चित्र-शटरस्टॉक.

आप सभी ने अपने बचपन में स्‍कूल कैंटीन में या बाहर खोमचे वाले के पास जलजीरा जरूर पिया होगा। कई बार हो सकता है कि आपको बाहर जलजीरा पीने पर डांट भी पड़ी हो। इसके बावजूद हम सब आज भी जलजीरा के फैन हैं। असल में इसका खट्टा, चटपटा स्‍वाद न सिर्फ आपको तरोताजा कर देता है, बल्कि यह पाचन तंत्र के लिए भी अच्‍छा होता है। और इसका राज है इसमें शामिल होने वाले मसाले। तो वो जो डांट पड़ती थी, वह जलजीरा पीने के लिए नहीं, बल्कि बाहर का अनहायजनिक जलजीरा पीने के कारण पड़ती थी। तो क्‍या न इस चिलचिलाती गर्मी में हम घर पर ही जलजीरा तैयार करें। साथ ही इसके स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी जानें।

खासतौर से अगर आप वेट लॉस कर रही हैं, तो ये सोडा ड्रिंक पीने से बेहतर विकल्प है। ये पारंपरिक सेहतमंद पेय आपको डिटॉक्‍स करने के साथ-साथ आपको हाइड्रेट भी रखता है।

आइए जानते हैं क्‍यों आपके लिए फायदेमंद है जलजीरा

1 वजन कम कर सकता है

वजन कम करने के लिए जलजीरा को लाभदायक माना गया है। यह किसी भी कार्बोनेटेड ड्रिंक से कम कैलोरी वाला और ज्‍यादा स्‍वादिष्‍ट होता है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ रिसर्च इन फार्मास्यूटिकल साइंसेज के एक शोध में कहा गया है कि अगर 3 हफ्ते तक इसे खाली पेट लिया जाए, तो यह वजन कम करने में मददगार हो सकता है।

वज़न कम करने में मदद करता है। चित्र : शटरस्टॉक
वज़न कम करने में मदद करता है। चित्र : शटरस्टॉक

साथ ही जीरा शरीर में कार्बोहाइड्रेट और फैट के डाइजेशन में सहायता कर मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है। इसलिए अगर आप अपना वजन कम करना चहती हैं, तो जलजीरा आपके लिए बेस्‍ट है।

2 हाजमा दुरुस्‍त करता है

जिन लोगों का पाचन तंत्र ठीक नहीं है, उनके लिए काला नमक और जीरा रामबाण औषधि है। एक वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार, काले नमक में लैक्सेटिव गुण होने के साथ-साथ पाचन क्रिया की समस्या से राहत देने का गुण भी होता है। इसके साथ ही जलजीरा, सीने में जलन से राहत दिलाता है और शरीर को हाईड्रेट करता है।

3 एनीमिया में लाभकारी

शरीर में आयरन की कमी व कई अन्य कारण से एनीमिया यानी खून की कमी की समस्या उत्पन्न हो सकती है। दरअसल, जीरा में प्रचुर मात्रा में आयरन होता है, जो आयरन की कमी से होने वाली एनीमिया की समस्या से बचाव करता है।

4 कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है

जलजीरा में शामिल अन्‍य सामग्रियों के साथ अदरक भी डाली जाती है। जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने और दर्द से राहत देने की क्षमता रखती है। इससे जुड़े एक शोध के अनुसार, अदरक का पाउडर शरीर में मौजूद लिपिड को कम कर सकता है। अदरक से ट्राइग्लिसराइड और लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एलडीएल) यानी हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है।
इसके अलावा, रिसर्च में यह भी कहा गया है कि अदरक का सेवन करने से एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर में इजाफा हो सकता है। अदरक कोलेस्ट्रॉल को कम करके हृदय स्वास्थ्य पर भी अच्छा असर डाल सकता है।

जलजीरा के सेवन करने से बैड कोलेस्ट्रॉल को आसानी से कम किया जा सकता है चित्र: शटरस्‍टॉक
जलजीरा के सेवन करने से बैड कोलेस्ट्रॉल को आसानी से कम किया जा सकता है चित्र: शटरस्‍टॉक

अब जानते हैं ठंडा और चटखारेदार जलजीरा बनाने के लिए आपको क्‍या चाहिए

125 ग्राम इमली का गूदा
3 टेबल स्पून पुदीने की पत्तियां
1/2 चम्मच (पिसा हुआ) जीरा
¾ टी स्पून जीरा, टुकड़ों में कटा हुआ
50 ग्राम गुड़, कद्दूकस किया हुआ
4 टी स्पून काला नमक
1 टी स्पून घिसा हुआ अदरक (फ्लेवर्ड नमक)
3-4 टेबल स्पून नींबू का रस
एक चुटकी लाल कश्मीरी मिर्च
1.5 लीटर पानी
1/2 चम्‍मच गरम मसाला

तो चलिए तैयार करते हैं ठंडा और स्‍वादिष्‍ट जलजीरा

  • जलजीरा बनाने के लिए ऊपर लिखे सामान को मिक्सर में एक साथ डालकर पीस लें।
  • इसके बाद 4 कप ठंडा पानी डाल दें।
  • फिर अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • तैयार है आपका ठंडा और स्वादिष्ट जलजीरा।
  • अब इसे बेसन की रायते वाली बूंदी, पुदीने के पत्‍ते और नींबू की स्‍लाइस लगा कर सर्व करें।

इसे भी पढ़ें-सुबह की हेल्‍दी शुरूआत के लिए आजमाएं ये 4 सुपर टेस्टी ब्रेकफास्ट रेसिपी

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें