और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या ‘ऑर्गैनिक’ लेबल वाले खाद्य पदार्थ अधिक पौष्टिक होते हैं? आइए पता करते हैं

Updated on: 28 October 2021, 14:03pm IST
हेल्दी ईटिंग मार्केट में ऑर्गेनिक फूड (Organic food) काफी चर्चा का विषय बन गया है। लेकिन क्या यह आपके रोजाना खाए जाने वाले फलों और सब्जियों की तुलना में ज्यादा हेल्दी हैं?
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 105 Likes
Organic food bhi health ko affect kar sakte hai
ऑर्गैनिक लेबल वाले खाद्य पदार्थ भी सेहत को प्रभावित कर सकते हैं। चित्र:शटरस्टॉक

वर्षों से हमें यह विश्वास दिलाया गया है कि पारंपरिक भोजन की तुलना में ऑर्गैनिक भोजन खाना स्वास्थ्यवर्धक है। क्या इसका मतलब यह है कि पारंपरिक भोजन की तुलना में ऑर्गैनिक भोजन अधिक पौष्टिक होता है? हम बता रहे हैं इससे जुड़े कुछ विशेष तथ्य। 

क्या है ऑर्गेनिक फूड (organic food)?

ऑर्गैनिक फूड ऐसे खाद्य पदार्थ हैं, जो प्राकृतिक कृषि प्रक्रियाओं और तकनीकों (natural farming techniques) का उपयोग करके उगाये जाते हैं। कीटनाशकों (pesticides), शाकनाशी (herbicides), फर्टिलाइजर (fertiliser)  के किसी भी उपयोग के बिना जैविक भोजन का उत्पादन किया जाता है। 

इसमे जानवरों को कोई एंटीबायोटिक्स (antibiotics), पशु उपोत्पाद (animal by-products) या ग्रोथ हार्मोन (growth hormone) नहीं मिला हैं। जैविक भोजन (organic food) अधिक महंगा है, क्योंकि यह प्राकृतिक कृषि तकनीक रोजाना के पारंपरिक तकनीकों की तुलना में अधिक महंगी होती हैं।

Organic food ka label check kare
ऑर्गैनिक खाद्य पदार्थ का लेबल देखें। चित्र:शटरस्टॉक

यह धारणा रखना कि ऑर्गैनिक फूड  स्वास्थ्यवर्धक है, वास्तव में सही है। मैक्रो न्यूट्रीशन वैल्यू (macro nutrition value) यानि प्रोटीन (protein), वसा (fat), कार्बोहाइड्रेट (carbohydrate)और आहार फाइबर (dietary fibre) के संदर्भ में जैविक और पारंपरिक खाद्य उत्पादों के बीच बहुत अंतर नहीं है, लेकिन कुछ कारणों की वजह से ऑर्गैनिक फूड ज्यादा फायदेमंद हो सकते है। 

  1. एंटीऑक्सीडेंट का ऊंचा स्तर : ऑर्गैनिक फलों और सब्जियों में उच्च फेनोलिक कम्पाउन्ड (phenolic compound) यानि एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। 
  2. ओमेगा -3 फैटी एसिड की अधिक मात्रा: ऑर्गैनिक डेयरी उत्पादों और मीट में पारंपरिक उत्पादों की तुलना में ओमेगा -3 फैटी एसिड की मात्रा अधिक होती है। 
  3. कम टॉक्सिक : ऑर्गैनिक खाद्य पदार्थों में जहरीले मेटाबोलाइट्स (metabolites) के निम्न स्तर होते हैं। यह कैडमियम (cadmium) जैसी खतरनाक धातुएं, और सिंथेटिक उर्वरक (synthetic fertiliser) और कीटनाशक (pesticides)  से मुक्त होता है। 
  4. ऑर्गैनिक खाद्य पदार्थों की खपत एंटीबायोटिक प्रतिरोधी बैक्टीरिया (antibiotic resistant bacteria) के संपर्क को भी कम कर सकती है।

हालांकि, ये अंतर बहुत कम पोषण संबंधी महत्व के हैं। ऑर्गैनिक फूड के सेवन से एलर्जी की बीमारी और अधिक वजन और मोटापे के जोखिम को कम किया जा सकता है। लेकिन इसका कोई ठोस प्रमाण नहीं है क्योंकि जैविक भोजन के उपभोक्ता ज्यादातर समग्र रूप से स्वस्थ जीवन शैली रखते हैं।

स्वास्थ्य लाभ के बावजूद, बड़ा सवाल यह है कि क्या ‘ऑर्गेनिक’ के रूप में लेबल किए गए खाद्य पदार्थ अधिक पौष्टिक होते हैं?

जवाब है ‘हमेशा नहीं!’

किसी उत्पाद को ‘ऑर्गेनिक’ लेबल किया जाता है, इसका मतलब यह नहीं है कि यह पोषक तत्वों से भरपूर भी है। भले ही ये नॉन-ऑर्गेनिक काउंटर पार्ट्स की तुलना में एक बेहतर विकल्प हैं। इनमें से कुछ उत्पाद अभी भी हाई प्रासेस्ड फूड हैं जो कैलोरी, अतिरिक्त चीनी, नमक और अतिरिक्त वसा में उच्च हैं। उदाहरण के लिए, ऑर्गेनिक होने के बावजूद ऑर्गेनिक कुकीज, चिप्स और आइसक्रीम जैसे आइटम, इन उत्पादों में भी पोषक तत्वों की कमी हो सकती है। 

खाद्य पदार्थों का चुनाव करते समय पहले अपनी पोषण संबंधी आवश्यकताओं को जानें और उसके अनुसार  भोजन के मैक्रो पोषक तत्व (macronutrients) जैसे कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, आहार फाइबर और सूक्ष्म पोषक तत्व (micronutrients) जैसे खनिज और विटामिन के अनुसार खाद्य पदार्थों का चयन करें। 

Organic food healthy hota hai
ऑर्गैनिक खाना आपकी सेहत के लिए अच्छा है। चित्र:शटरस्टॉक

पूरी तरह से ऑर्गैनिक या पारंपरिक खाद्य पदार्थों का चयन करने से पहले इन बातों का ख्याल रखें!

  1. विभिन्न स्रोतों से खाद्य पदार्थों का चयन करें। यह आपको पोषक तत्वों का बेहतर मिश्रण देगा और एक ही कीटनाशक (pesticide) के संपर्क में आने की संभावना को कम करेगा। 
  2. मौसम के अनुसार फल,सब्जियां और स्थानीय उत्पाद खरीदें। 
  3. खाद्य लेबल को ध्यान से पढ़ें। किसी खाद्य पदार्थ के जैविक होने या उसके पोषक तत्व मौजूद होने के लेबल से यह साबित नहीं होता है कि यह एक स्वस्थ विकल्प है। इनमें चीनी, नमक, वसा या हाई कैलोरी भी हो सकते है। 
  4. ताजे फलों और सब्जियों को बहते पानी के नीचे अच्छी तरह से धोएं और साफ़ करें। धोने से फलों और सब्जियों की सतह से गंदगी, बैक्टीरिया और रसायनों को हटाने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें: सर्दियों में डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद है मेथी-मटर की सब्जी, यहां जानिए रेसिपी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।