मूंग की दाल का हलवा हेल्दी है या अनहेल्दी, चलिए रेसिपी के साथ यह भी पता करते हैं

Published on: 7 October 2021, 18:30 pm IST

मूंग दाल का हलवा सबसे पसंदीदा भारतीय मीठे व्यंजनों में से एक है। पर अकसर यही चिंता रहती है कि यह हेल्दी भी है या नहीं।

Winters mein meetha khane se bache
सर्दियों में ज्यादा हलवा खाने से बचें। चित्र : शटरस्टॉक

मूंग दाल का हलवा! इसका नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। क्यों नहीं? आखिर यह होता ही इतना टेस्टी है। मगर डाइट कॉन्शियस लोगों और डायबिटीज के मरीजों को इसे खाने से पहले दो बार सोचना पड़ता है। ऐसा इसलिए क्योंकि हमें नहीं पता है कि यह कितना हेल्दी है। मगर क्या हर मीठी चीज़ अनहेल्दी होती है?

हर मिठाई हेल्दी होती हैं या नहीं, यह तो नहीं पता! मगर हम यह ज़रूर पता कर सकते हैं कि आपका फेवरिट मूंग दाल हलवा कितना हेल्दी है? तो चलिये जानते हैं इसके बारे में –

मूंग दाल का हलवा (Moong dal halwa)

यह हलवा शादियों, समारोहों और त्योहारों में खासतौर पर पसंद किया जाता है। यह एक क्लासिक भारतीय मिठाई है। आपको यह दुकानों में सर्दियों में ज़्यादा देखने को मिलेगा। यह एक बहुत ही सरल व्यंजन है और इसे घर पर आसानी से बनाया जा सकता है। इस मिठाई को बनाने के लिए आवश्यक सभी सामग्री सभी घरों में आसानी से मिल जाती है जैसे मूंग दाल, चीनी, घी और सूखे मेवे।

moong dal halwa
मूंग दाल का हलवा! इसका नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। चित्र : शटरस्टॉक

तो, मूंग दाल हलवे में कितनी कैलोरीज होती हैं?

आपको बता दें कि एक कटोरी मूंग दाल हलवे में 212 कैलोरी होती है। कैलोरी की कुल मात्रा बहुत अधिक नहीं है। यह एक पौष्टिक व्यंजन है और इस व्यंजन को पकाने के लिए जिन सामग्रियों का उपयोग किया जाता है वे प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा से भरपूर होते हैं।

जानिए मूंग दाल हलवे का पोषण मूल्य

विटामिन A – 2% | विटामिन B1- 10% | कैल्शियम – 8% | मैग्नीशियम – 5% | जिंक – 0.4mg | आयरन – 2% | पोटेशियम – 161.8mg | कोलेस्ट्रॉल – 2.9mg | फैट – 9.1g | प्रोटीन – 5.9 ग्राम | फाइबर – 1g | कार्बोहाइड्रेट – 27.7g

सिर्फ लो कैलोरी ही नहीं, बल्कि आपके स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है मूंग दाल हलवा। जानना चाहती हैं कैसे,

अब जानिए मूंग दाल हलवे के फायदे

1. यह जिंक और प्रोटीन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

2. इस हलवे में मौजूद तत्व त्वचा के लिए भी अच्छे होते हैं और त्वचा को नम और तरोताजा रखते हैं। साथ ही, अगर इसे देसी घी के साथ बनाया जाए तो, यह और भी हेल्दी हो जाता है।

3. मूंग दाल में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

4. अगर चीनी के बजाय मूंग दाल हलवा गुड़ के साथ बनाया जाए, तो यह मधुमेह रोगियों के लिए भी अनुकूल बन सकता है।

diabetes me apko apne khanpan ka bahut dhyan rakhna hota hai
डायबिटीज में आपको अपने खानपान का बहुत ध्यान रखना होता है। चित्र: शटरस्टॉक

क्या आप मूंग दाल के हलवे का सेवन कर सकते हैं?

हां क्यों नहीं! मॉडरेशन में किसी भी चीज़ का सेवन हेल्दी है। फिर मूंग दाल हलवा तो अपने आप में पोषण से भरपूर है। यदि आपको डायबिटीज है, तो इसे घर पर बेहद कम चीनी या शुगर फ्री के साथ बनाएं। इसके अलावा, अगर आप हेल्थ कॉन्शियस हैं तो, इसमें घी कम डालें और चीनी के बजाय गुड़ का इस्तेमाल करें। साथ ही, बाज़ार से बना हलवा खाने से बचें।

यह भी पढ़ें : आयुर्वेद के अनुसार आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकते हैं ये ट्रेंडिंग फूड कॉम्बिनेशन्स

अब जानिए क्या है मूंग दाल हलवे की रेसिपी

मूंग दाल का हलवा बनाने के लिए आपको चाहिए

1 कप मूंग दाल
9 बड़े चम्मच घी
1/2 कप पानी
2 बड़े चम्मच कटे बादाम
1/2 कप गुड़
4 हरी इलायची
2 बड़े चम्मच पिस्ता
2 बड़े चम्मच कटे हुए काजू

moong dal halwa recipe
मीठे के शौकीनों के लिए हेल्दी विकल्प है मूंग दाल का हलवा. चित्र : शटरस्टॉक

मूंग दाल का हलवा बनाने की विधि

सबसे पहले मूंग दाल को 12 से 15 घंटे के लिए पानी में भिगो दें। उसके बाद, एक ग्राइंडिंग जार में दाल का चिकना पेस्ट बना लें। पानी के प्रयोग से बचें और पेस्ट को थोड़ा गाढ़ा रहने दें।

इसके बाद मध्यम आंच पर एक पैन रखें और उसमें घी गर्म करें। घी के गरम होने पर इसमें पिसी हुई दाल का पेस्ट डाल कर तब तक भूनिये जब तक कि दाल के पेस्ट में घी सोख न ले। इसमें 2-5 मिनट का समय लगेगा।

अब एक अलग पैन गरम करें, उसमें गुड़ और पानी डालें, इसे पिघलने दें और अशुद्धियों को दूर करने के लिए छान लें। मूंग दाल के मिश्रण में पिघला हुआ गुड़ डालें, अच्छी तरह मिलाएं और इसे तब तक पकने दें जब तक कि मिश्रण गाढ़ा न हो जाए या मिश्रण पैन छोड़ने लगे।

ढक्कन बंद करें और दाल के पेस्ट को 10-15 मिनट तक पकने दें। 15 मिनिट बाद ढक्कन खोलिये। अब पैन में कटे हुए ड्राई फ्रूट्स डालकर 2-3 मिनट तक पकाएं और गर्म – गर्म परोसें!

यह भी पढ़ें : Do’s and Don’ts of Navratri : जानिए आपको नवरात्रि व्रत के दौरान क्या करना चाहिए और क्या नहीं

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें