क्या प्रेगनेंसी में संपूर्ण पोषण दे सकती है वीगन डाइट? आइए जानते हैं एक्सपर्ट से

ज्यादातर लोगों का यह मानना है कि शाकाहार मांसाहार की तुलना में कम पोषण युक्त होता है। तब क्या प्रेगनेंसी में इसका सेवन करना चाहिए।

Vegan-diet-pregnancy
प्रेगनेंसी में वीगन डाइट है लाभकारी। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 22 September 2022, 11:00 am IST
  • 147

गर्भावस्था के दौरान सेहत का खास ख्याल रखना चाहिए। महिला के कंसीव करने के बाद से उनकी बॉडी में कई प्रकार के शारीरिक और मानसिक बदलाव होते हैं। इस दौरान अधिक एनर्जी की आवश्यकता होती है। गर्भावस्था के शुरुआती महीनों में हार्मोनल बदलाव होते हैं। ऐसे में मिचली, उल्टी और चक्कर जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ये परेशानियां लगभग प्रेग्नेंसी कंसीव करने के बाद हर महिला को होती हैं। इस दौरान महिलाओं को अपने आहार पर बहुत ध्यान देने की जरूरत होती है। पर क्या वीगन डाइट इस समय उनकी पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा कर सकती है? आइए जानते हैं इस बारे में।

Pregnancy-with-PCOS
प्रेगनेंसी प्लान करने से पहले अपने वजन को करें नियंत्रित. चित्र शटरस्टॉक।

गर्भावस्था और पोषण

इस दौरान महिलाओं को ऐसी डाइट का सेवन करना चाहिए, जो आपको स्वस्थ रखे और वजन को भी कंट्रोल करे। महिलाओं के लिए वीगन डाइट एक ऐसा डाइट प्लान है जो शरीर को पर्याप्त पोषक तत्व देता है, साथ ही मां और बच्चे की सेहत को हेल्दी भी रखता है।

वीगन डाइट एक ऐसी डाइट है, जिसमें पशु और पशु उत्पाद का सेवन करने से परहेज किया जाता है। इस डाइट में फलीदार पौधे, अनाज, बीज, फल, सब्ज़ियां, नट्स और ड्राई फ्रूट्स को शामिल किया जाता है।

मैक्स हेल्थकेयर के क्लिनिकल न्यूट्रीशन एंड डायटेटिक्स विभाग की रीजनल हेड ऋतिका समद्दर कहती हैं, “प्रेगनेंसी में महिलाओं की इम्युनिटी का स्ट्रॉन्ग होना बहुत आवश्यक होता है। इस दौरान वीगन डाइट का सेवन इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाता है और बॉडी को हेल्दी रखता है। केला, पपीता, किशमिश और अदरक जैसे खाद्य पदार्थ ऐसे प्रीबायोटिक्स हैं जो पेट में स्वस्थ रोगाणुओं के निर्माण को प्रोत्साहित करते हैं, जिससे इम्युनिटी मजबूत होती है।”

यह भी पढ़े- टैनिंग से गहरा हो गया है गर्दन का रंग, तो इन 7 टिप्स से लाएं उसमें निखार

क्यों खास है वीगन डाइट

शाकाहारी भोजन (Vegan diet) प्रेगनेंसी में महिलाओं के लिए एक दवा की तरह कार्य करता है। प्लांट बेस्ड डाइट सेहत को दुरुस्त रखती है। शाकाहारी फूड्स में प्रोटीन और विटामिन भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो गर्भावस्था में महिला और बच्चे के विकास के लिए आवश्यक हैं। वीगन डाइट का पर्याप्त सेवन करने से कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन ए, बी, सी सहित सभी आवश्यक पोषक तत्व मिलते हैं।

इसके अतिरिक्त ये डाइट फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भी भरपूर होती है, जो कंसीव करने के बाद महिलाओं की खास आवश्यकता होती है। प्लांट बेस्ड डाइट में मौसमी फल, सब्जियां, नट और फलियां खाने पर अधिक जोर दिया जाता है।

postpartum-diet.jpg
ताज़े फल और सब्जियां खाएं। चित्र : शटरस्टॉक

क्या प्रेगनेंसी में फायदेमंद है वीगन डाइट

नट्स जैसे बादाम, अखरोट, अलसी के बीज ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन से भरपूर होते हैं। गर्भावस्था में इनका सेवन करने से पोषण संबंधी आवश्यक्ताओं की पूर्ति होती है। वीगन डाइट सेहत के लिए सभी प्रकार से फायदेमंद है।

2019 में अमेरिका स्थित नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, प्रेगनेंसी और स्तनपान के दौरान शाकाहारी भोजन पूरी तरह से सुरक्षित है। ऋतिका समद्दर के अनुसार, इस डाइट का सेवन करते वक़्त खास सावधानी बरतने की जरूरत होती है।

इन फूड्स को करें अपनी वीगन डाइट में शामिल

  • प्रेगनेंसी में आप वीगन डाइट लेना चाहती हैं तो सोयाबीन का सेवन कर सकती हैं।
  • साबूत अनाज, बींस, मटर और दालों को डाइट में शामिल करें।
  • ड्राई फ्रूट्स और बीजों (चिया और अलसी) का सेवन करें।
  • मौसमी फल और जामुनी, लाल व नारंगी रंग के फल और सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें।

यह भी पढ़े- आपकी बोन हेल्थ को भी नुकसान पहुंचा सकता है हाई बीपी, जानिए क्या कहते हैं शोध

  • 147
लेखक के बारे में
निशा कपूर निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
nextstory