और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

हेल्‍दी और फि‍ट रहना चाहती हैं, तो अपनी सलाद की प्‍लेट में करें इन रंगों को शामिल

Published on:17 May 2021, 09:00am IST
ढेर सारे विटामिन और खनिजों को ग्रहण करने का सबसे आसान तरीका है, हर रोज दो छोटी प्‍लेट सलाद खाना। जानिए कौन से रंग हैं जो आपकी सलाद की प्‍लेट को और भी पोषण युक्‍त बनाते हैं।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 90 Likes
अपनी सलाद की प्‍लेट में इन रंगों को जरूर शामिल करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
अपनी सलाद की प्‍लेट में इन रंगों को जरूर शामिल करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

भारतीय खाने में सलाद का स्थान अहम है। कुछ लोग सलाद बड़े चाव से खाते हैं, तो कुछ को यह बिल्कुल भी पसंद नही होता। मगर शायद आप नहीं जानतीं कि ये बहुत सारे खनिज और विटामिन को ग्रहण करने का सबसे आसान तरीका है।

यह सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते हैं, बल्कि आपको कब्ज़ और गैस जैसी पाचन संबंधी बीमारियों से भी बचाकर रखते हैं। यह बहुत जल्दी आपका पेट भर देते हैं। जो लोग अपना वज़न कम करना चाहते हैं, उनके लिए तो यह और भी जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें कैलोरीज की मात्रा बहुत कम होती है।

जैसे जीवन में हर रंग का अपना महत्व है उसी तरह सलाद की प्लेट में भी हर रंग की सब्जियों के अपने फायदे हैं। तो आइये जानते हैं सलाद के इन्ही रंगों के बारे में –

1 गहरा लाल जामुनी रंग यानी चुकंदर

चुकंदर में आयरन, सोडियम, पोटेशियम, फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में होते हैं, जिससे यह शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है और इसमें मौजूद फाइबर्स पेट को साफ रखने में मददगार साबित होते हैं।

हीमोग्‍लोबिन लेवल बढ़ाना है तो अपने आहार में शामिल करें चुकंदर। चित्र: शटरस्‍टॉक

चुकंदर में विटामिन-B, विटामिन-C, फास्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। जो शरीर में ब्लड प्यूरिफिकेशन और ऑक्सीजन को बढ़ाने का काम करते हैं।

2 हरी पत्तियां – लेटिस

सलाद के पत्तों में प्रोटीन, लिपिड फैट, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस जैसे कई आवश्यक पोषक तत्व और मिनरल्स मौजूद होते हैं। ये सभी हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी साबित हो सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट के गुण मस्तिष्क को ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस से बचाते हैं। लेटिस की पत्तियों को सलाद के तौर पर खाने से आप खुद को तनाव मुक्त महसूस करेंगी।

3 हल्‍का लाल या नारंगी – गाजर

ये तो आपने बचपन से ही सुना होगा कि गाजर खाने से आंखों की रोशनी बेहतर होती है,। साथ ही, गाजर में बीटा कैरोटीन नामक विटामिन पाया जाता है, जो पोषक तत्वों और फाइबर का खजाना है।

"<yoastmark

गाजर खाने से आपका इम्यून सिस्टम दुरुस्त रहता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं, जो फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से बचा सकते हैं। इसके अलावा, ये मधुमेह और कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है।

4 हल्‍का गुलाबी रंग – प्‍याज

कच्‍चा प्‍याज खाने से गर्मियों में लू नहीं लगती है। प्याज में एंटीबायोटिक्स, एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। प्याज खाने से शरीर की इम्युनिटी भी दुरुस्त रहती है। इसलिए अपने सलाद में प्याज को ज़रूर शामिल करें।

5 हल्‍का हरा रंग – ककड़ी

गर्मियों के मौसम में ककड़ी खाने के ढेरों फायदे हैं। ककड़ी में बहुत सारा पानी होता है, जो शरीर को डिहाइड्रेशन से बचाता है। इसके साथ ही, इसमें विटामिन A, C, K, पोटेशियम, ल्यूटीन, फाइबर जैसे कई पोषक तत्व होते हैं। साथ ही, यह वज़न घटाने में भी मदद करती है।

टमाटर आपकी सेहत को नेक्‍स्‍ट लेवल पर ले जा सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
टमाटर आपकी सेहत को नेक्‍स्‍ट लेवल पर ले जा सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

6 गहरा लाल रंग – टमाटर

टमाटर में विटामिन-C, पोटैशियम, फोलेट और विटामिन-K पाए जाते हैं जो, हृदय रोग और कैंसर जैसे जोखिम को कम कर सकते हैं। टमाटर में फाइबर होता है जो गट हेल्थ के लिए फायदेमंद है और शरीर को ऊर्जा देता है। साथ ही, यह वजन कम करने में सहायक है।

7 हरा रंग – खीरा

खीरे में 90 प्रतिशत पानी होता है। इसलिए ये आपको हाइड्रेट रख सकता है। इसमें विटामिन A, B1, B6, C, D पोटेशियम, फास्फोरस, आयरन आदि प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। जो शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। खीरा कब्ज से राहत दिलाने के साथ ही पेट से जुड़ी हर समस्या के लिए फायदेमंद साबित होता है। इसके अलावा एसिडिटी या जलन में नियमित रूप से खीरा खाना लाभदायक साबित होता है।

यह भी पढ़ें – Covid – 19 Diet Plan : जानिये रिकवरी में कितनी ज़रूरी है लिक्विड डाइट?

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।