अपने दिल का ख्याल है, तो आहार में जरूर शामिल करें ये 4 तरह की दालें, हम बता रहे हैं कारण

अगर आपको लगता है कि हृदय स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए आपका एक्सरसाइज करना ही काफी है, तो आप हेल्दी डाइट की भूमिका को नजरंदाज कर रहीं हैं।
हार्ट हेल्थ के लिए दालों के फायदे। चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 17 August 2022, 09:00 am IST
ऐप खोलें

भारतीय खानपान में दालें बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। यहां दाल के बिना खाना अधूरा है। शाकाहारी भोजन में दाल ही प्रोटीन का मुख्य स्रोत मानी जाती हैं। जब हृदय स्वास्थ्य (Heart health) को बनाए रखने की बात आती है, तो आहार और जीवनशैली महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की वेबसाइट के मुताबिक, ये फाइबर में समृद्ध हैं और हार्ट हेल्दी डाइट का भी हिस्सा हो सकते हैं। दालों में फाइबर आपको लंबे समय तक भरा हुआ रखने में मदद कर सकता है। इस प्रकार वजन घटाने में सहायता करता है, और रक्त कोलेस्ट्रॉल में सुधार करने में भी मदद करता है। जो हृदय रोगों का प्रमुख कारण है।

ट्रांस वसा और संतृप्त वसा या उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर में योगदान करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने से रक्त वाहिकाओं की दीवारों पर वसा जमा हो जाती है। यह हृदय और मस्तिष्क में रक्त और ऑक्सीजन के प्रवाह को रोकती है, जिससे दिल का दौरा और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है।

जानिए क्या है हार्ट हेल्थ और दालों का कनेक्शन

अमेरिका के एक अध्ययन के परिणामों के अनुसार, सप्ताह में केवल एक बार दाल खाने वालों की तुलना में, सप्ताह में चार या अधिक बार दाल खाने से कोरोनरी हृदय रोग के जोखिम को 22% और हृदय रोग के जोखिम को 11% तक कम किया जा सकता है। साथ ही, रक्तचाप को कम करके, स्वस्थ रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करके हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है।

यहां हैं वे 4 दालें जो आपकी हार्ट हेल्थ को बेहतर बनाए रखती हैं

1 मूंग दाल

मूंग दाल सबसे ज़्यादा पौष्टिक होती है और इसका उपयोग कई तरह के व्यंजन बनाने के लिए भी किया जा सकता है। साथ ही हरी मूंग स्प्राउट्स प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत हैं। यह मैंगनीज, पोटेशियम, फोलेट, मैग्नीशियम, तांबा, जस्ता और विटामिन बी का सबसे अच्छा स्रोत है। साथ ही फाइबर में भी उच्च है, इसलिए इसे अपने आहार में ज़रूर शामिल करें।

सुपाच्य और न्यूट्रीशनल वैल्यू अधिक होने के कारण मूंग दाल बेहतर होती है। चित्र:शटरस्टॉक

2 मसूर दाल

मसूर दाल भारतीय रसोई में सबसे आम दालों में से एक है। मसूर दाल को बनाना बहुत ही आसान है। मसूर दाल प्रोटीन, आवश्यक अमीनो एसिड, पोटेशियम, आयरन, फाइबर और विटामिन बी1 का अच्छा स्रोत है। यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने और शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करती है।

3 लोबिया

लोबिया की दाल भी कई लोग खाना पसंद करते हैं। भारत में, इसे अन्य दाल की तैयारी की तरह ही तैयार किया जाता है। स्वास्थ्य लाभ: लोबिया प्रोटीन और फाइबर से भरपूर होती है, और यदि आप अपना वजन कम करने की कोशिश कर रही हैं तो यह आपके आहार में शामिल करने के लिए एक अच्छी है। यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर के उतार-चढ़ाव को भी नियंत्रित करती है, और उन्हें कम रखती है।

4 उड़द दाल

काली उड़द दाल सभी को बहुत पसंद होती है और इसी से दाल मखनी बनाई जाती है। ड़द की दाल पाचन में सुधार करने में मदद करती है। यह प्रोटीन का अच्छा स्रोत है और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है। यह फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट और जटिल कार्बोहाइड्रेट का सबसे अच्छा स्रोत हैं इसलिए इसे अपने दैनिक आहार में ज़रूर शामिल करें।

क्यह भी पढ़ें : कम तेल-मसाले वाला ये कटहल कोफ्ता है आपकी डाइट के लिए परफेक्ट, यहां है रेसिपी

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story