क्या आपको भी फूलगोभी खाने पर गैस हो जाती है? तो जानिए इसका कारण और सेवन का सही तरीका

Published on: 4 December 2021, 11:30 am IST

स्वादिष्ट और क्रंची फूलगोभी टेस्टी तो लगती है, पर इसे खाते ही कुछ लोगों को गैस और अपच होने लगती है। पर यह तभी होता है, जब आप इसके सेवन का सही तरीका नहीं जानते।

phool gobhi kaise banaye
वनस्पति विज्ञान के अनुसार फूलगोभी ब्रैसिका ओलेरासिया प्रजाति परिवार से जुड़ी हुई एक सब्ज़ी है। चित्र : शटरस्टॉक

आहार विशेषज्ञ तरह-तरह की सब्जियों का सेवन करने की सलाह देते हैं। तथ्य यह है कि प्लेट में जितने ज्यादा रंग होंगे, पोषण भी उतना ही बेहतर होगा। इनमें मौजूद मिनरल्स, फाइबर, विटामिन और कई तरह के पोषक तत्व शरीर के समग्र पोषण के लिए फायदेमंद होते हैं। इन्हीं खास सब्जियों में से एक है फूल गोभी। पर अगर आपको भी फूल गोभी खाने पर गैस बनने लगती है, तो जानिए इसका कारण और सेवन का सही तरीका। 

पहले समझिए क्या है फूल गोभी 

वनस्पति विज्ञान के अनुसार फूलगोभी ब्रैसिका ओलेरासिया प्रजाति परिवार से जुड़ी हुई एक सब्ज़ी है। फूल गोभी को ज्यादातर लोग पसंद करते हैं। फूलगोभी का सेवन पराठे,कोफ्ते, सब्जी आदि चीजों के रूप में किया जाता है। पर कुछ लोग मन होते हुए भी इन्हें नहीं खा पाते। इसकी वजह है फूल गोभी खाने के बाद होने वाली गैस। क्या आपकी समस्या भी यही है? अगर हां, तो अब आपकी इस समस्या को दूर करने के लिए हम यहां हैं। 

गोभी ग्रिल करने के लिए आदर्श सब्जी है। चित्र: शटरस्‍टॉक
फूलगोभी कैल्शियम, फास्फोरस, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

पोषक तत्वों में खास है फूलगोभी 

फूलगोभी कैल्शियम, फास्फोरस, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है। जो शरीर के लिए काफी लाभदायक हैं, लेकिन कुछ लोगों के लिए फूल गोभी नुकसानदायक होती है। गोभी का सेवन करने से गैस की समस्या उत्पन्न होती है, जो काफी तकलीफ देती है।

फूलगोभी खाने से क्यों होती है गैस ? 

फूलगोभी से गैस होने का मुख्य कारण है उसमें मौजूद फाइबर। सबसे आम गैस बनाने वाले फूड, प्लांट बेस्ड फूड होते हैं, जिनमें फाइबर भारी मात्रा में पाया जाता है। एनसीबीआई के डाटा के अनुसार रेशेदार सब्जियों को गैस-उत्पादक खाद्य पदार्थ माना जाता है। क्योंकि उनकी सेल वॉल पर जिस प्रकार का फाइबर पाया जाता है, उसे शरीर पचाने में असमर्थ होता है।

प्लांट बेस्ड फूड में सेल्यूलोज नामक एक पदार्थ होता है, जिसे केवल पाचक एंजाइम, सेल्युलेस द्वारा ही तोड़ा जा सकता है। समस्या की बात यह है कि मानव शरीर सेल्युलेस का उत्पादन नहीं करता है। इसलिए, हम प्लांट फूड में मौजूद फाइबर को ठीक से पचा नहीं पाते हैं और उन्हें खाने के बाद अत्यधिक गैस बन सकती है।

क्या फाइबर हमारे शरीर के लिए खराब होता है?

यह सच है कि फाइबर पाचन प्रक्रिया के लिए गैस की समस्या उत्पन्न कर सकते हैं। लेकिन फाइबर हमारे स्वास्थ्य के लिए काफ़ी मूल्यवान हैं। यह हमारी आंतों के पथ से विषाक्त अपशिष्ट को साफ करता है। जिससे कई बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है।

फूलगोभी से गैस होने का मुख्य कारण है उसमें मौजूद फाइबर। चित्र-शटरस्टॉक

मगर चिंता न करें, क्योंकि प्रकृति के खजाने में हर समस्या का समाधान मौजूद है। फूल गोभी खाने के बाद होने वाली गैस की एक बड़ी वजह उसे पकाने और खाने का गलत तरीका भी हो सकता है। 

यहां जानिए फूलगोभी खाने का सही तरीका 

  1. फूल गोभी को खाने से गैस की समस्या हो सकती है, लेकिन अगर इसे सही ढंग से खाया जाए तो गैस की दिक्कत होने की संभावनाएं काफी कम होती हैं। अगर आप ताजा गोभी का सेवन करते हैं तो उसमें 30% ज्यादा प्रोटीन और कई अलग-अलग एंटीऑक्सीडेंट होते हैं।
  2. इसके लिए हमेशा कच्ची गोभी खाने से बचें। गोभी को टॉपिंग या सलाद की बजाए सब्जी के रूप में पकाकर खाएं।
  3. कई लोग गोभी को उबालकर खाते हैं। ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। गोभी को उबालने से इसके भीतर मौजूद एंटीऑक्सीडेंट लगभग न के बराबर रह जाते हैं। इसलिए गोभी के सेवन का सही तरीका इसे सब्जी के रूप में पकाकर खाना है।
  4. और हां गोभी की सब्जी में हींग और लहसुन का छौंक इसे आपकी सेहत के लिए बेहतर बना सकता है। असल में ये दोनों ही मसाले आपके पाचन के लिए फायदेमंद होते हैं।

यह भी पढ़े : अगर आपकी हेल्दी डाइट का हिस्सा है किशमिश, तो जानिए इसके सेवन का सही तरीका

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें