और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

सस्‍ता सा सिंघाड़ा आपकी सेहत को देता है ये 5 अनमोल फायदे, हर रोज करें सेवन

Updated on: 10 December 2020, 12:36pm IST
सर्दियों में बाजार में सिंघाड़े तो आपने अक्सर देखे होंगे। लेकिन क्या आप जानती हैं कि यह मौसमी फल पोषक तत्‍वों का भंडार है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 76 Likes
आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं सिंघाड़े।चित्र- शटरस्टॉक।

सर्दियों में सबसे आम समस्या क्या होती हैं? गले में खराश और दर्द, एड़ियों और होठों का फटना और पानी की कमी। है ना! अगर हम आपको बताएं कि एक मौसमी फल है, जो आपको इन सभी बीमारियों से राहत दे सकता है, तो?

मौसमी फलों की खासियत ही ये है कि वे उस मौसम में होने वाली सभी समस्याओं से निजात दिला सकते हैं। और सर्दियों में यह चमत्कारिक काम करता है सिंघाड़ा।
सिंघाड़ा जिसे इंडियन वॉटर चेस्टनट (Indian water chestnut) भी कहते हैं, सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। सिंघाड़े की खेती टैंक, तालाब या झीलों में की जाती है क्योंकि यह एक जलीय पौधा है। भारत में सिंघाड़ा बहुत लोकप्रिय है।

सिंघाड़े को फल की तरह खाया जाता है, इसकी सब्जी बनती है और इसका आटा भी बनाया जाता है, जिसका इस्तेमाल व्रत में होता है।

क्यों खाना चाहिए सिंघाड़ा। चित्र: शटरस्टॉक

क्‍या हैं सिंघाड़े में मौजूद पोषक तत्‍व

सिंघाड़े में विटामिन ए,विटामिन सी, सिट्रिक एसिड, फॉस्फोरस, निकोटिनिक एसिड, मैंगनीज, थियामिन, कैल्शियम, जिंक और सोडियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। सिंघाड़ा कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है। साथ ही इसमे डाइटरी फाइबर भी होता है जो आपको सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है।

आइये नजर डालते हैं सिंघाड़े से होने वाले स्‍वास्‍थ्‍य लाभ पर-

1. गले के दर्द और खराश से राहत देता है

सिंघाड़े में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जिससे यह इंफेक्शन खत्म करने की शक्ति रखता है। गले में टॉन्सिल्स या खराश वायरल इन्फेक्शन का ही नतीजा होती है। सिंघाड़े के आटे को दूध में मिलाकर पीने से गले की सभी समस्याओं से राहत मिलती है।

2. गर्भवती महिलाओं के लिए है फायदेमंद

सिंघाड़े में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है, जो गर्भावस्था में आवश्यक होता है। इसके साथ ही सिंघाड़ा आयरन और फॉलेट का बहुत अच्छा स्रोत है। फॉलेट बच्चे के विकास के लिए आवश्यक है। वहीं आयरन शरीर में खून की कमी नहीं होने देता। अंतिम तिमाही में सिंघाड़े का सेवन करने से प्रसव के समय किसी कॉम्प्लिकेशन का जोखिम बहुत कम होता है।

ये भी पढ़ें- बेहतर चयापचय और बहुत सारे फायदों के लिए इन सर्दियों में आपको खाना चाहिए सरसों का साग

3. कब्ज की समस्या दूर करता है

सिंघाड़े में बहुत अधिक मात्रा में डाइटरी फाइबर होता है। यह पेट की सभी समस्याएं जैसे कब्ज, गैस और एसिडिटी में राहत देता है। फाइबर पेट की अच्छी तरह सफाई करता है। सिंघाड़े के सेवन से भूख भी कम लगती है, यानी वजन नियंत्रित करने में भी यह फायदेमंद है।

4. फटी एड़ियों के लिए सिंघाड़ा

शायद आपको मालूम नहीं कि एड़ियां पानी की कमी से नहीं, मैंगनीज की कमी से फटती हैं। सिंघाड़े में मैंगनीज प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। अगर आपकी एड़ियां फट रही हों, तो सिंघाड़े का सेवन बढ़ा दें।

ज्‍यादा पानी पीना आप के लिए फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. पानी की कमी को खत्म करता है

सर्दियों में बहुत बड़ी समस्या यह है कि हम पानी कम पीते हैं। इस समस्या का इलाज है सिंघाड़े का सेवन।
सिंघाड़ा पानी मे ही उगता है और यही कारण है कि सिंघाड़े में पानी की मात्रा बहुत होती है। लेकिन उसके लिए आपको सिंघाड़े को फल के रूप में ही खाना चाहिए। क्योंकि आटे में सारा पानी सुखा दिया जाता है।

अब आप सिंघाड़े के इतने फायदे जान चुकी हैं, तो देर ना करें। आज ही बाजार से सिंघाड़े लाएं और इसके गुणों का लाभ उठाएं

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।