और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

फ्रोजन फूड खाने से पहले आपको दो बार सोचना चाहिए, यह साबित करने के लिए हमारे पास हैं 7 कारण

Published on:25 June 2021, 10:30am IST
फ्रोजन फूड खाने से उद्देश्य हल नहीं होगा। जितना अधिक आप इस पर निर्भर होंगे, उतना ही आपको बाद में पछताना पड़ेगा।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
फ्रोजन फूड्स आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं. चित्र : शटरस्टॉक
फ्रोजन फूड्स आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं. चित्र : शटरस्टॉक

हम सभी फ्रोजन फूड्स से प्यार करते हैं, क्योंकि वे जल्दी तैयार हो जाते हैं और बेहद स्वादिष्ट होते हैं। लेकिन हम एक बात भूल रहे हैं कि फ्रोजेन फूड्स पर बहुत अधिक निर्भर रहना हमारे शरीर के लिए खतरनाक हो सकता है।

कभी-कभी गैर-मौसमी व्यंजन का आनंद लेना ठीक है, लेकिन जमे हुए मांस, फल, सब्जी या अन्य उत्पादों के आदी होना एक समझदारी वाला विकल्प नहीं है। सबसे बड़ा कारण है – उनमें से अधिकांश मौसमी नहीं हैं और उनकी पोषण की गुणवत्ता वास्तव में बहुत कम है।

इसके अलावा भी सात बड़ी समस्याएं हैं, जो फ्रोजन फूड खाने से होती हैं। जैसे:

1. मधुमेह का खतरा

फ्रोजन फूड को ताजा रखने के लिए स्टार्च का उपयोग किया जाता है। यह स्टार्च भोजन में स्वाद और बनावट जोड़ने में मदद करता है। पचने से पहले स्टार्च चीनी में परिवर्तित हो जाता है। शुगर के स्तर में कोई भी वृद्धि आपको मधुमेह के खतरे में डाल सकती है।

2. हृदय रोग का खतरा

सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट मनीषा चोपड़ा ने बताया “पैकेज्ड या फ्रोजन खाद्य पदार्थों में ट्रांस वसा होती हैं जो हृदय रोग होने के जोखिम को बढ़ाते हैं, और धमनियों के बंद होने से भी जुड़े होते हैं। यह वसा शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) को बढ़ाती है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) को कम करती है। यह सब हृदय रोग में योगदान देता है। ऐसे खाद्य पदार्थों में सोडियम भी अधिक होता है, जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी बढ़ा सकता है। ”

3. वजन बढ़ना या मोटापा

जमे हुए खाद्य पदार्थों में वसा की मात्रा बहुत अधिक होती है। इन खाद्य पदार्थों में वसा से कार्ब्स और प्रोटीन का अनुपात लगभग दोगुना है, यही वजह है कि वे कैलोरी से भरे हुए हैं।

फ्रोजन फूड खाने से पहले आपको दो बार सोचना चाहिए. चित्र : शटरस्टॉक
फ्रोजन फूड खाने से पहले आपको दो बार सोचना चाहिए. चित्र : शटरस्टॉक

4. बहुत कम पोषण मूल्य

भोजन को लंबे समय तक फ्रीज करने से वस्तुओं में मौजूद कुछ महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज नष्ट हो सकते हैं। इसलिए, फ्रोजन फूड ताजे खाद्य पदार्थों की तरह पौष्टिक नहीं होते हैं।

5. ताजा भोजन जितना अच्छा नहीं लगता

ताजा भोजन में स्पष्ट रूप से एक महान सुगंध और स्वाद होता है, जो कि जमे हुए भोजन में नहीं होता है। ताजा भोजन की तुलना में ये खाद्य पदार्थ अच्छे भी नहीं लग सकते हैं। ताजा भोजन की कमी और स्वाद जमे हुए खाद्य पदार्थों से मेल नहीं खा सकता है।

6. अग्नाशय के कैंसर का खतरा

सुश्री चोपड़ा बताती हैं “शोध से पता चलता है कि जमे हुए भोजन खाने से अग्नाशयी कैंसर हो सकता है। जमे हुए सॉसेज, सलामी या अन्य सामान कैंसर के जोखिम को बढ़ा सकते हैं। यह आमतौर पर इन जमे हुए खाद्य पदार्थों में उपयोग किए जाने वाले केमिकल के कारण होता है। फ्रोजन फूड में मौजूद कॉर्न सिरप भी कार्सिनोजेनिक प्रवृत्ति को प्रदर्शित करता है।”

7. रक्तचाप बढ़ाता है

अध्ययनों के अनुसार, फ्रोजन फूड रक्तचाप को बढ़ा सकते हैं, क्योंकि इनमें सोडियम की मात्रा अधिक होती है। बहुत अधिक सोडियम का सेवन करने से स्ट्रोक और हृदय रोगों जैसी अन्य चिकित्सीय स्थितियों का भी खतरा बढ़ जाता है।

फ्रोजन फ़ूड खाने से वज़न बढ़ सकता है. चित्र : शटरस्टॉक
फ्रोजन फ़ूड खाने से वज़न बढ़ सकता है. चित्र : शटरस्टॉक

सुश्री चोपड़ा ने फ्रोजन फूड की शेल्फ लाइफ के बारे में बताया

भोजन हमेशा के लिए नहीं रह सकता। प्रत्येक भोजन की अपनी एक शेल्फ लाइफ होती है, बस जमे हुए किस्में ताजे भोजन की तुलना में अधिक समय तक रहती हैं। कुछ फ्रोजन फूड्स की शेल्फ लाइफ इस प्रकार है :

सब्जियां – 3 से 4 महीने

फल – 4 से 5 महीने

मछली – लगभग 4 महीने

मांस – 4 से 6 महीने

तैयार भोजन – 3 से 4 महीने

डेयरी उत्पाद – 2 से 3 महीने

चोपड़ा बताती हैं “फ्रोजन फूड पैकेज पर निर्देशों को हमेशा पढ़ें और उनका पालन करें। माइक्रोवेव करते समय, नम गर्मी पैदा करने के लिए भोजन को प्लेट से ढकना याद रखें, जो हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। खाना बनाते समय भोजन को हिलाते, और घुमाते रहें, ताकि कोई ठंडी जगह न रह जाए।”

मधुमेह, हृदय की समस्याओं, कैंसर आदि जैसी पहले से मौजूद स्वास्थ्य स्थितियों वाले लोगों को फ्रोजन फूड खाने से बचना चाहिए। साथ ही, यदि किसी के पास ऐसी बीमारियों का पारिवारिक इतिहास है, तो उसे फ्रोजन फूड खाने की मात्रा के बारे में अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए।

यह भी पढ़ें : हर रोज सुबह खाली पेट नींबू और शहद का पानी पीने से आपको मिलते हैं ये 6 जबरदस्त लाभ

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।