और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

हमारे पास 6 हैं कारण कि क्यों पोहा होना चाहिए आपकी डेली डाइट का हिस्सा

Updated on: 3 July 2021, 13:30pm IST
पोहा यानी चिड़वा असल में सबसे लोकप्रिय नाश्ते के विकल्पों में से एक है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि स्वाद के साथ-साथ इसके बड़े स्वास्थ्य लाभ भी हैं।
  • 92 Likes
पोहा एक परफेक्ट ब्रेकफास्ट ऑप्शन है।चित्र -शटरस्टॉक
पोहा एक परफेक्ट ब्रेकफास्ट ऑप्शन है।चित्र -शटरस्टॉक

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए दलिया और अंडे नाश्ते का मुख्य विकल्प हैं। है ना? यकीनन ये कुछ बेहतरीन विकल्प हैं, लेकिन देसी खाद्य पदार्थों की ओर रुख किया जाना भी जरूरी है। खासतौर से, वे जो स्वास्थ्य और स्वाद के बीच सही संतुलन बनाते हैं। ऐसा ही एक स्वादिष्ट नाश्ता है पोहा, जिसे अंग्रेजी में बीटन राइस (Beaten Rice) या देसज भाषा में चिड़वा भी कहा जाता है।

निस्संदेह, पोहा सबसे पौष्टिक नाश्ते में से एक है जिसे आप कभी भी खा सकती हैं। यह स्वाद में समृद्ध है, इसमें एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन होते हैं, यह ग्लूटेन मुक्त होता है और कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है। इसलिए आप में से जो लोग सोचते हैं कि वजन कम करने के लिए पोहा नहीं खाना चाहिए उन्हें एक बार फिर सोचना चाहिए।

आइए जानते हैं पोहा खाने के 6 प्रमुख स्वास्थ्य लाभ:

1. यह आपके पेट के स्वास्थ्य को नियंत्रण में रखेगा, क्योंकि यह पचने में आसान है

अपोलो स्पेक्ट्रा अस्पताल, दिल्ली की वरिष्ठ पोषण विशेषज्ञ, डॉ दिव्या मलिक, का कहना है कि “पोहा एक हल्का नाश्ता है, जो पाचन प्रक्रिया को आसान बनाता है। चूंकि यह पचने में आसान होता है, इसलिए यह सूजन का कारण नहीं बनता और आपका पेट लंबे समय तक भरा हुआ महसूस होता है। यह एक पौष्टिक और उपयुक्त नाश्ता है, यदि आप अतिरिक्त चर्बी को कम करना चाहती हैं और एसिडिटी से बचना चाहती हैं।”

पोहा गट हेल्थ के लिए बेहतरीन आहार है। चित्र: शटरस्‍टॉक
पोहा गट हेल्थ के लिए बेहतरीन आहार है। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपको यह जानकर खुशी होगी कि पोहा भी एक बेहतरीन प्रोबायोटिक है। इसे धान को हल्का उबालकर और फिर धूप में सुखाकर बनाया जाता है। फिर, पोहा बनाने और फेर्मेंटेशन से गुजरने के लिए इसे सपाट पीटा जाता है, जो आपकी गट हेल्थ को बढ़ाकर पचाए गए कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन से माइक्रोबियल वनस्पतियों को बनाए रखने की अनुमति देता है।

2. पोहा आपको ऊर्जावान बनाए रखेगा, क्योंकि इसमें स्वस्थ कार्बोहाइड्रेट हैं

यह स्वस्थ कार्बोहाइड्रेट के अच्छे स्रोतों में से एक है, जो शरीर को ऊर्जा देने के लिए आवश्यक है। यह लगभग 76.9% कार्बोहाइड्रेट और 23% वसा से भरा हुआ है। इसलिए, नाश्ते में पोहा खाने से आप बिना अपनी चर्बी बढ़ाये सक्रिय महसूस करेंगी।

3. यह रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है

पोहा फाइबर से भरपूर होता है और रक्त प्रवाह में शर्करा को नियंत्रित करता है। यह रक्त शर्करा के स्तर में अचानक वृद्धि को रोकता है। इस प्रकार, यह उन लोगों के लिए भी उपयुक्त है, जिन्हें मधुमेह है।

यह आपका शुगर लेवल कंट्रोल रखता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
यह आपका शुगर लेवल कंट्रोल रखता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. यह आपको एनीमिया से लड़ने में भी मदद कर सकता है, क्योंकि यह आयरन से भरपूर होता है

यदि आपने अपने नाश्ते के मेनू में पोहा नहीं शामिल किया है, तो इसे तुरंत करें! इसके अलावा, बाद में हमें धन्यवाद देना न भूलें! आपको जानकर हैरानी होगी कि पोहा आयरन की कमी को दूर करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, यह आपके एनीमिया होने के जोखिम को कम कर देगा।

डॉ मलिक की सलाह है “यह व्यंजन गर्भवती महिलाओं और बच्चों के लिए भी फायदेमंद है। आयरन के बेहतर अवशोषण में सहायता के लिए, आपको इस पर सिर्फ एक नींबू निचोड़कर खाने की जरूरत है। ”

5. वजन कम करने वाला बेहतरीन भोजन है, क्योंकि इसमें ग्लूटेन की मात्रा कम होती है

क्या आप ग्लूटेन इन्टोलरेंट हैं? इस बात की चिंता है कि क्या खाएं और क्या न खाएं? फिर, आपको यह जानना होगा कि पोहा अद्भुत है। इसमें ग्लूटेन की मात्रा कम होती है और इसे डॉक्टर की सलाह के बाद खाया जा सकता है।

जी हां, आप वेट लॉस के लिए भी पोहा ट्राई कर सकती हैं। चित्र-शटरस्टॉक.
जी हां, आप वेट लॉस के लिए भी पोहा ट्राई कर सकती हैं। चित्र-शटरस्टॉक.

मलिक कहती हैं, “यह उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है जो अपना अतिरिक्त वजन कम करना चाहते हैं और स्वस्थ रहना चाहते हैं।”

6. पोहा आपके दिमाग के लिए एक बूस्टर है

पीटा हुआ (Beaten Rice) चावल विटामिन बी से भरपूर होता है, जो आपको ऊर्जावान बनाए रखने और किसी के मस्तिष्क के स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकता है।

डॉ मलिक बताती हैं “पके हुए पोहा के एक कटोरे में लगभग 250 कैलोरी होती है, और सब्जियों को जोड़कर, ये विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सिडेंट से पैक हो जाता है। यदि आप वज़न कम करना चाहती हैं, तो पोहे में मूंगफली और आलू न डालें, क्योंकि वे कैलोरी की संख्या बढ़ा सकते हैं।”

अंतिम बात

लेकिन क्या हम इसे सिर्फ नाश्ते में ही खा सकते हैं? हां…पोहा आपके पेट को हल्का रखता है और नाश्ते के लिए एक उत्तम व्यंजन है। बस याद रखें, इसे स्वस्थ बनाने के लिए इसे जैतून के तेल में पकाना न भूलें। आप दिन का पहला भोजन तैयार करने के लिए कटा हुआ नारियल और प्याज भी मिला सकती हैं।

ऑलिव ऑयल पोहे की पौष्टिकता बढ़ा सकता है। चित्र-शटरस्टॉक।
ऑलिव ऑयल पोहे की पौष्टिकता बढ़ा सकता है। चित्र-शटरस्टॉक।

यहां एक और बात है जिसे आपको ध्यान में रखना चाहिए। चूंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट होता है, इसलिए ज्यादा मात्रा में पोहा खाने से वजन बढ़ सकता है। इसलिए इसे ऑयली न बनाएं और आलू डालने से बचें। इसकी जगह आप चाहें तो शकरकंद भी डाल सकती हैं।

यह भी पढ़ें – सिर्फ पिज्जा ही नहीं, हमारे पास हैं 6 कारण कि क्यों आपको अपने आहार में शामिल करना चाहिए ऑरेगैनो