और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

पोषण की आपकी दैनिक आवश्यकता को पूरा कर सकता है सत्तू, जानिए इसे आहार में शामिल करने का तरीका

Published on:14 October 2021, 08:00am IST
प्रोटीन का एक अच्छा स्त्रोत सत्तू आपकी हेल्दी डाइट में जरूर शामिल होना चाहिए। इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं जो आपको फिट रखने में मदद करेंगे। जानिए सत्तू के गुण, इसके सेवन के फायदे और डाइट में शामिल करने का तरीका।
अदिति तिवारी
  • 101 Likes
Apni healthy diet mein kare sattu ko shaamil
अपनी हेल्दी डाइट में करें सत्तू को शामिल। चित्र: शटरस्टॉक

सत्तू भारतीय घरों की एक सामान्य सामग्री हैं। कुछ विशेष व्यंजनों में इसका इस्तेमाल जरूर होता है। लेकिन बहुत से लोग इसके फायदे से वंचित हैं। सत्तू पोषक तत्वों का भंडार हैं। इसे भुने हुए अनेक अनाजों को पीसकर बनाया जाता हैं। यही कारण हैं कि यह फाइबर से भरपूर होता हैं। गर्मियों में इसका सेवन आपकी सेहत के लिए किसी औषधि से कम नहीं हैं। अगर आप सत्तू के चमत्कारी लाभों को नहीं जानते हैं, तो चिंता न करें क्योंकि हम बता रहें हैं इसके सभी फायदों के बारे में। 

क्या हैं सत्तू के पोषक तत्व? 

सत्तू में मौजूद ढेर सारे पोषक तत्व उसे सुपरफूड बनाते हैं। इसमे फाइबर (Fiber), कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate), प्रोटीन (Protein), कैल्शियम (Calcium), मैग्नीशियम (Magnesium) पाया जाता है। यह सुपरफूड एक पूर्ण भोजन का काम कर हैं साथ ही यह एनर्जी का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत हैं। । यह आपके शरीर को सम्पूर्ण रूप से स्वस्थ रख सकता हैं। सत्तू का आटा हार्ट (Heart) के लिए फायदेमंद है। साथ ही ये गर्मियों के दिनों में ये लू से भी बचाता है।

Protein ka acha shrot hai sattu
प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत हैं सत्तू। चित्र:शटरस्टॉक

यहां हैं आहार में सत्तू शामिल करने के फायदे 

इसके पोषक तत्वों को ध्यान में रखते हुए, सत्तू के कई स्वस्थ लाभ हैं जैसे:

1. डायबिटीज के लिए फायदेमंद 

अगर आपको मधुमेह हैं, तो आप बिना किसी चिंता के सत्तू का सेवन कर सकते हैं। यह फ़ाइबर से भरपूर होता हैं जो लंबे समय तक आपके पेट को भरा रखता हैं। सत्तू के सेवन से ब्लड शुगर के साथ ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता हैं। यह आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम रखता हैं जिससे हृदय संबंधी समस्या भी नहीं होती हैं। इसका लो ग्लयसेमीक इंडेक्स (GI) इसे मधुमेह रोगियों के लिए स्वस्थ विकल्प बनाता हैं। 

2. वजन घटाने में उपयोगी 

नाश्ते में सत्तू का सेवन आपको वजन घटाने में मदद कर सकता हैं। यह प्रोटीन और फ़ाइबर का एक अच्छा स्त्रोत हैं। सुपरफूड माना जानें वाला सत्तू आपके मेटाबोलिस्म को मजबूत बनाता हैं। यह आपको दिन भर ऊर्जा प्रदान करता हैं और आपको लंबे समय तक भूख नहीं लागत हैं। इससे वेट लॉस में सहायता मिलती हैं। 

3. बच्चों की ग्रोथ के लिए जरूरी 

ग्रोइंग एज के बच्‍चों के लिए सत्‍तू रामबाण है। यह बढ़ती उम्र के बच्चों को जरूरी पोषण देता हैं। सत्‍तू में प्रोटीन (protein), विटामिन ए (vitamin A), कार्बोहाइड्रेट्स (carbohydrates), मिनरल्‍स (minerals), फाइबर (fibre), आदि भरपूर मात्रा में होते है जो बच्‍चों के शारीरिक और मानिसिक विकास में फायदेमंद हैं। 

sattu ke fayde
वज़न घटाने में मदद करता सत्तू। चित्र-शटरस्टाक

4. पाचन तंत्र को रखे स्वस्थ  

अगर आपको पेट से संबंधित कोई समस्या हैं, तो सत्तू का सेवन आपको जरूर करना चाहिए। खाली पेट सत्तू का सेवन करने से पाचन क्रिया में सुधार होता है। इसमें सॉल्ट (salt), आयरन (iron) और फाइबर (fibre) के गुण पाए जाते हैं, जो पेट से जुड़ी समस्याओं को कम करता हैं और मल त्याग को बेहतर बनाता हैं।

यहां हैं सत्तू को आहार में शामिल करने के आसान तरीके 

सत्तू को आप विभिन्न तरीकों से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इनमें से कुछ मुख्य सत्तू व्यंजन हैं:

  • मीठे या नमकीन शर्बत के रूप में सत्तू पियें। 
  • स्वादिष्ट लिट्टी या पराठे के रूप में भी इसे खा सकते हैं 
  • सत्तू के मीठे और स्वस्थ लड्डू भी बना सकते हैं। 

इन बातों से रहें सावधान 

सत्तू के अनेक फ़ायदों और डाइट में शामिल करने के तरीकों को जानने के बाद आप निश्चित ही इसका सेवन करेंगे। लेकिन इसे खाने या पीने से पहले कुछ बातों का ख्याल रखना बहुत जरूरी हैं।

Sone se pehle sattu ka sewan na kare
सोने से पहले सत्तू का सेवन ना करें। चित्र: शटरस्टॉक
  • भोजन के बाद कभी भी सत्तू का सेवन न करें।
  • अधिक मात्रा में सत्तू ना खाएं। 
  • रात्रि में सत्तू ना खाएं। 
  • सत्तू सेवन के बीच में पानी न पियें।

तो लेडीज, इस चमत्कारी सुपरफूड को जल्दी अपनी हेल्दी डाइट में शामिल करें और सकारात्मक स्वस्थ प्रभाव का अनुभव करें। 

यह भी पढ़ें: कैंसर से जंग जीतने में सही आहार कर सकता है आपकी मदद, जानिए कैसे

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !